लखीमपुर खीरी में मृतक किसानों की अंतिम अरदास आज:प्रियंका गांधी समेत कई नेता होंगे, मंत्री के इस्तीफे के लिए किसान करेंगे मांग

लखनऊ3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

लखीमपुर खीरी में मृतक किसानों की अंतिम अरदास आजप्रियंका गांधी समेत कई नेता होंगे, मंत्री के इस्तीफे के लिए किसान करेंगे मांगलखीमपुर हिंसा में मारे गए किसानों की अंतिम अरदास आज घटनास्थल तिकुनिया में आयोजित की होगी। अंतिम अरदास में कांग्रेस महासचिव व यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी भी शामिल होगी। इसके अलावा भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत समेत कई नेता हिस्सा लेंगे। अंतिम अरदास में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र उर्फ़ टेनी के इस्तीफे के लिए किसान घोषणा करेंगे। 3 अक्टूबर को 4 किसान समेत 8 लोगों की जान तिकुनिया हिंसामें गई हैं। आखण्ड पाठ आज होगा समाप्त, एक दिन पहले से जुटने लगी भीड़तिकुनिया में आयोजित अंतिम अरदास के लिए कई राज्यों के किसान सोमवार से ही जुटने लखीमपुर में शुरू हो गए। प्रदेश के विभिन्न जिलों के अलावा पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड के किसानों के शामिल होने की उम्मीद है। तिकुनियां में जिस जगह पर घटना हुई थी, वहां से करीब 500 मीटर की दूरी पर गुरुद्वारा है। सेवादार बाबा कला सिंह ने बताया कि अखंड पाठ रविवार को शुरू हो गया जो मंगलवार सुबह तक चलेगा। उम्मीद जताई जा रही है कि मृतक किसान परिवार भी यहां मंगलवार को मौजूद होंगे। पाठ पूरा होने के बाद मैदान में सामूहिक अंतिम अरदास और लंगर होगा।18 से 26 अक्टूबर तक होगा विरोध तिकुनिया से चार शहीदों के अस्थि कलश पूरे देश में जाएंगे। 15 अक्टूबर को मोदी-शाह के पुतले दहन किए जाएंगे। 18 अक्टूबर को छह घंटे रेल रोकी जाएगी और 26 अक्टूबर को लखनऊ में महापंचायत होगी। इन चार कार्यक्रमों के ऐलान से सूबे की सियासत में हलचल है। 30 से ज्यादा अफसरों को लगाया गयासरकार ने प्रदेश के 13 जिलों में 20 वरिष्ठ पुलिस अधिकारी तैनात किए हैं। इन्हें 20 जिलों में अगले आदेश तक कैंप करने के लिए कहा है। अकेले लखीमपुर में 10 ऑफिसर अलग से लगाए हैं। टकराव की आशंका के तहत एहतियात के तौर पर अर्धसैनिक बलों की तैनाती कर दी गई है। इधर, प्रदेशभर में 18 अक्टूबर तक पुलिसकर्मियों की छुट्टी बंद कर दी गई है।

खबरें और भी हैं...