पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चुनाव से पहले चमक जाएगी राम नगरी अयोध्या:5500 लोगों के सुझाव पर डेवलपमेंट का प्लान तैयार, 20 हजार करोड़ रुपए खर्च होंगे; PM मोदी भी कई योजनाओं को लॉन्च करेंगे

अयोध्याएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अयोध्या डेवलपमेंट अथारिटी यानी एडीए ने प्लान तैयार करने में टूरिस्ट्स के भी सुझाव लिए। - Dainik Bhaskar
अयोध्या डेवलपमेंट अथारिटी यानी एडीए ने प्लान तैयार करने में टूरिस्ट्स के भी सुझाव लिए।

रामलला के भव्य मंदिर के साथ 20 हजार करोड़ रुपए से अयोध्या को भी चमकाने का खाका तैयार हो गया है। अयोध्या में रहने वाले 5 हजार लोगों ने मिलकर इसके लिए प्लान तैयार किया है। इसके अलावा, अलग-अलग देश और राज्यों से आए 500 टूरिस्ट का भी सुझाव लिया गया। सभी सुझाव को समझने के बाद अयोध्या डेवलपमेंट अथॉरिटी (ADA) ने जिले के विकास का खाका तैयार कर लिया है।

अगर सब कुछ ठीक रहा तो इसका असर चुनाव से पहले ही दिखने लगेगा। मतलब अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले अयोध्या की खूबसूरती में चार चांद लगाने की तैयारी है। इसके अलावा जल्द ही कई अन्य योजनाओं की लॉन्चिंग और शिलन्यास भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर सकते हैं।

इन योजनाओं को मिल चुकी है मंजूरी

  • 10 हजार करोड़ रुपए से ग्रीनफील्ड सिटी योजना विकसित की जाएगी।
  • 5000 करोड़ रुपए से मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा बनना है। ये दूसरे चरण में विकसित किया जाएगा।
  • 2000 करोड़ रुपए से सरयू तट पर करीब 13 किलोमीटर के क्षेत्र में विकास कार्य होना है।
  • 2588 करोड़ रुपए की लागत से 65 किलोमीटर की रिंग रोड बनना है।
  • 200 करोड़ की ब्लू रोड बनना है। पहले से जो बनी है उसे और विकसित किया जाएगा।
  • 275 करोड़ रुपए से पर्यटन केंद्र बनेगा।
  • 289 करोड़ रुपए से पंचकोसी परिक्रमा मार्ग तैयार होगा।
  • 363 करोड़ रुपए से राम मंदिर से जुड़े मार्गों को विकसित किया जाएगा।
  • 237 करोड़ रुपए से मल्टीनेशनल पार्क विकसित किया जाएगा।
  • 300 करोड़ रुपए अमृत योजना के लिए दिया गया है।
  • 49 करोड़ रुपए से स्मार्ट सिटी विकसित होगी।

873 स्क्वायर किलोमीटर में बेंचमार्किंग विजन प्लान
ADA के प्लान के मुताबिक, इंटीग्रेटेड इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट का प्लान पहले प्रोजेक्ट में है। अयोध्या का मास्टर प्लान जो 133 स्क्वायर किलोमीटर में है उसे दूसरा स्थान दिया गया है। अथॉरिटी द्वारा 873 स्क्वायर किलोमीटर में बेंचमार्किंग विजन प्लान बनाया गया है। जबकि मार्केट एसेसमेंट का मास्टर प्लान जिसे ग्रीन फील्ड टाउनशिप कहा जाएगा करीब 5 किलोमीटर में होगा।

यातायात सुगम बनाने दिशा में हो रहा काम
अयोध्या में सोलर सिटी, सुंदर अयोध्या जैसी योजनाओं पर काम चल रहा है। वहीं, शहर में सुगम परिवहन व्यवस्था पर भी काम चल रहा है। अयोध्या में 24 मीटर से लेकर 40 मीटर चौड़ी व 13 किलोमीटर लंबा मार्ग बनाया जा रहा है। 84 करोड़ रुपए की लागत से बनाई जा रही यह सड़क सहादतगंज, अयोध्या, नया घाट होते हुए राम मंदिर तक पहुंचाएगी। वहीं, हनुमान गढ़ी तिराहा से राम मंदिर तक 850 मीटर का मार्ग जोकि 52 करोड़ रुपये की लागत से बनवाया जा रहा है। वहीं पंचकोसी परिक्रमा निर्माण 227 करोड़ से होगा।

सरयू नदी के सुंदरीकरण पर विशेष फोकस
पर्यटकों की सुविधाओं के लिए 182 करोड़ रुपये की लागत से सुविधा केंद्र का निर्माण कराया जाएगा। वहीं, अंतरराष्ट्रीय संग्रहालय पहले ही बन चुका है। इसके अलावा 28 करोड़ की लागत से 2 किलोमीटर लंबा बाईपास रोड से नयाघाट तक बनेगी। सरयू तट पर स्नान घाट का सुंदरीकरण कर गुप्तार घाट से सरयू आरती स्थल तक 10 किलोमीटर का होगा व इसके आगे 3 किलोमीटर का क्षेत्र अयोध्या के दूसरे छोर पर विकसित किया जाएगा। इसके अलावा जलाशयों, पशुओं को संरक्षण, वाल्मीकि रामायण सर्किट, वृक्षारोपण के साथ-साथ रोजगार की नई गतिविधियों को संचालित करने की योजना है।

खबरें और भी हैं...