पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अयोध्या में हत्याकांड का खुलासा:हनुमानगढ़ी के नागा साधु की हत्या मामले में दो आरोपी गिरफ्तार; संपत्ति हथियाने के लिए गुरुभाई ने की थी हत्या

अयोध्या10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया है।

उत्तर प्रदेश के अयोध्या जिले में हनुमानगढ़ी के नागा साधु महंत कन्हैया दास की हत्या का बुधवार को पुलिस ने खुलासा कर दिया। अयोध्या कोतवाली पुलिस ने इस मामले दो दो साधुओं को गिरफ्तार किया है। मुख्य आरोपी शशिकांत दास को मोहबरा चौराहे से, जबकि उसके भाई अंश मिश्रा को राम प्रस्थ होटल के पास से पकड़ा है। कन्हैया दास की हत्या संपत्ति के विवाद में की गई थी। आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।

शिवरात्रि के दौरान बनाई थी हत्या की योजना
SSP शैलेश पांडे ने बताया कि कन्हैया दास की हत्या संपत्ति के लालच में की गई थी। महंत कन्हैया दास व आरोपी शशिकांत दास गुरु भाई हैं, जो अपने गुरु की संपत्ति पर अकेले कब्जा करना चाहता था। दोनों के बीच संपत्ति विवाद का केस भी न्यायालय में चल रहा है। आरोप है कि शशिकांत दास ने अपने साथियों के साथ शिवरात्रि के समय ही महंत कन्हैया दास को हमेशा के लिए रास्ते हटाने की योजना अपने भाई अंश व तीन अन्य के साथ मिलकर बनाई थी। अन्य जनों को संपत्ति की जमीन व कैश देने की लालच देकर हत्याकांड में शामिल किया। तीन दिन पहले तीन अप्रैल की रात कन्हैया दास की उस समय ईंट से कूंच कर हत्या कर दी, जब वे चरण पादुका मंदिर की गोशाला में सो रहे थे।

साजिश की धाराएं केस में बढ़ीं
SSP के मुताबिक इस प्रकरण में शामिल तीन अन्य आरोपित अभी फरार हैं। जिनकी भी पुलिस तलाश कर रही है। हत्या की धारा में दर्ज केस में धारा 120B बढ़ा दी गई है। सर्विलांस व स्वाट टीम की मदद से शशिकांत दास गोलू वह अंश मिश्रा की गिरफ्तारी के साथ हत्या कांड में प्रयुक्त इनोवा कार व इंटे भी पुलिस ने बरामद किया है।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज मार्केटिंग अथवा मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। आपके अधिकतर काम सहज और आरामद...

और पढ़ें