• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Balu Adda Infected Water Issue Not Only Diarrhea But Also The Presence Of Cholera In The Sand Shed, Lethal Bacteria Had Taken The Lives Of Two

लखनऊ में दूषित जल बना जानलेवा रोगों का कारक:बालू अड्डा में डायरिया ही नही कॉलरा की भी मौजूदगी,जानलेवा बैक्टीरिया ने ली थी दो की जान

लखनऊ9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बीते सोमवार को लखनऊ सीएमओ मनोज अग्रवाल के निरक्षण में सड़क पर खुलेआम बहता मिला था सीवेज - Dainik Bhaskar
बीते सोमवार को लखनऊ सीएमओ मनोज अग्रवाल के निरक्षण में सड़क पर खुलेआम बहता मिला था सीवेज

लखनऊ के बालू अड्डा इलाके में डायरिया के अलावा कॉलरा का भी प्रभाव रहा है।विशेषज्ञों के मुताबिक दो मरीजों की मौत का जिम्मेदार भी विब्रियो कॉलरी बैक्टीरिया ही रहा है।इस इलाके में 210 से अधिक लोग संक्रामक रोग की जद में आ चुके है।शुक्रवार को इसका खुलासा मरीजों के स्टूल के नमूनों की जांच रिपोर्ट के जरिए हुआ है।नमूनों में कॉलरा के बैक्टीरिया की पुष्टि के बाद स्वास्थ्य व चिकित्सा महकमे में हड़कंप मच गया।आनन फानन में डॉक्टरों ने कॉलरा के इलाज की भी दवाई शुरु करने की बात कही।

KGMU की रिपोर्ट से हुआ खुलासा

लखनऊ में सोमवार से बालू अड्डा में संक्रामक रोग का भयंकर प्रकोप है।करीब 50 मरीजों को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया जा चुका है।बीमारी का कहर बढ़ने पर WHO यानी विश्व स्वास्थ्य संगठन और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मरीजों के स्टूल का नमूना एकत्र किया था।सैंपल की जांच केजीएमयू में कराई गई।शुक्रवार को जांच रिपोर्ट आई।जिसमें घातक कॉलरा यानी हैजा की पुष्टि हुई।

शुक्रवार को मिले 20 और बीमार, तीन हुए भर्ती

इस बीच बालू अड्डा इलाके में पीड़ित मरीजों के मिलने का सिलसिला जारी है।शुक्रवार को 20 अन्य भी डायरिया की चपेट में आ गए। इनमें तीन मरीज 2 महिला व एक पुरूष को सिविल अस्पताल में भर्ती किया गया। डॉक्टरों का कहना है कि सभी मरीज फिलहाल स्टेबल है।

सड़क पर बह रहा सीवर,अब आई नगर निगम को सफाई की याद

दो लोगों की मौत के बाद नगर निगम ने सफाई अभियान तेज किया।अभियान चलाकर गलियों की सफाई कराई। चूने और ब्लीचिंग की सफाई कराई।स्थानीय लोगों का कहना है कि सीवर लाइन की सफाई के लिए अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है। इससे अभी भी समस्या जस की तस बनी हुई है।सीवर खुलेआम सड़क पर बह रहा है।शिकायत के बाद भी समस्या का समाधान नहीं हो रहा है।

CMO का दावा 24 घंटे मिल रहा इलाज

सीएमओ डॉ. मनोज अग्रवाल के मुताबिक बालू अड्डा में स्थिति धीरे-धीरे काबू में आ रही है।मरीजों को समुचित इलाज मुहैया कराया जा रहा है।जरूरत के हिसाब से मरीजों को सिविल अस्पताल में रेफर किया जा रहा है।वहीं इलाके में लोगों को ORS के घोल के पैकेट, दवाएं और क्लोरीन की गोलियां बांटी जा रही हैं।टैंकर से शुद्ध पेय जल की आपूर्ति की जा रही है।