• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Big Farmers Conference Of Kisan Morcha In Lucknow, CM Yogi And State President Will Be Present, Big Announcement Can Be Made Regarding Sugarcane Farmers..

चार साल बाद गन्ने का रेट 25 रुपए बढ़ा:UP के 45 लाख किसानों को मिलेगा फायदा, CM बोले- सपा और कांग्रेस के राजकुमार बताएं कि किसान यूरिया के लिए लाठी क्यों खाता था?

लखनऊ2 महीने पहले
सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने कार्यकाल में दूसरी बार गन्ने का रेट बढ़ाया है।

योगी सरकार ने प्रदेश के 45 लाख गन्ना किसानों को बड़ी सौगात दी है। रविवार को लखनऊ में आयोजित भाजपा किसान मोर्चा के किसान सम्मेलन में सीएम योगी आदित्यनाथ ने गन्ना मूल्य में 25 रुपए की बढ़ोत्तरी का ऐलान किया। अब गन्ना किसानों को 325 की जगह 350 रुपए प्रति कुंतल के हिसाब से भुगतान किया जाएगा। सामान्य गन्ने के लिए 315 के बजाय 340 रुपए का भुगतान किया जाएगा।

सम्मेलन में सीएम योगी ने सपा-बसपा और कांग्रेस पर निशाना साधा। कहा, जब किसान आत्महत्या कर रहा था, तब सपा-बसपा और कांग्रेस के लोग कहां थे? पिछली सरकारें किसानों के पेट पर लात मार रही थीं। बसपा की सरकार में औने-पौने दाम पर चीनी मिलें बेची गईं। 250 करोड़ की चीनी मिलें 25-30 करोड़ रुपए में बिक गईं। सपा की सरकार में 11 चीनी मिलें बंद हुईं।

उन्होंने कहा कि 2004 से लेकर 2014 तक का शासन आपने देखा होगा? देश और प्रदेश के लिए अंधकार युग था। अराजकता व गुंडागर्दी का बोलबाला था। कोई सुरक्षित नहीं था। प्रदेश का किसान आत्महत्या व गरीब भूख से मर रहा था। योगी ने कहा कि 46 वर्षों से अधूरी पड़ी बाण सागर परियोजना का काम क्यों लटका था? सपा और कांग्रेस के राजकुमारों से पूछना चाहता हूं, आखिर क्यों किसान यूरिया के लिए लाठी खाता था?

सीएम योगी की दो अहम बातें

  • गन्ना मूल्य में वृद्धि से किसानों की आय में आठ फीसदी की बढ़ोत्तरी होगी। इससे प्रदेश के 45 लाख किसानों को लाभ मिलेगा। पराली जलाने को लेकर किसानों पर दर्ज हुए सारे मुकदमे वापस लेने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है।
  • पिछली सरकारों में गन्ना किसानों को अपनी उपज जलाने की नौबत थी, क्योंकि उस समय चीनी मिलें बंद हो जाती थीं। पिछली सरकार में काम करने के लिए साफ नियत और सही सोच दोनों नहीं थी।

अब गन्ने के होंगे ये दाम
प्रदेश में किसानों को गन्ने की वैरायटी के हिसाब से भुगतान होता है। अभी तक 310 रुपए, 315 रुपए और 325 रुपए प्रति क्विंटल मिल रहा था। अब 335 रुपए, 340 रुपए और 350 रुपए प्रति क्विंटल दाम मिलेंगे। इससे पहले योगी सरकार ने यूपी की सत्ता संभालने के तुरंत बाद गन्ने के रेट में 10 रुपए प्रति क्विंटल बढ़ाए थे। उसके बाद अब बढ़ोतरी हुई है। हालांकि किसान 400 रुपए प्रति क्विंटल की मांग कर रहे थे।

किसान सम्मेलन में लगे विभिन्न विभागों के स्टॉल पर सीएम योगी ने जानकारी हासिल की।
किसान सम्मेलन में लगे विभिन्न विभागों के स्टॉल पर सीएम योगी ने जानकारी हासिल की।

मोर्चा अध्यक्ष ने कहा- किसान होंगे आत्मनिर्भर
किसान सम्मेलन का लखनऊ में वृंदावन योजना के डिफेंस एक्सपो ग्राउंड पर आयोजन हुआ। इस किसान सम्मेलन में यूपी के हर एक विधानसभा से किसान आए थे। भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कामेश्वर सिंह ने बताया कि आजादी के बाद उत्तर प्रदेश के किसानों की सुधि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ली है।

किसानों की आय दोगुनी करने का संकल्प लेते हुए उन्होंने किसान हित में जो फैसले किए हैं, उन्हें धरातल पर सीएम योगी आदित्यनाथ लागू करवा रहे हैं। चाहे नई चीनी मिलों की स्थापना हो या बंद पड़ी चीनी मिलों को फिर से संचालन कराने की बात हो। किसान को आत्मनिर्भर और समृद्धशाली बनाने की दिशा में मजबूत कदम उठाया गया। विपक्षी दल उत्तर प्रदेश में अफवाहें फैलाकर सरकार की विकासवादी नीतियों को प्रभावित करने के लिए अराजकता का वातावरण बनाना चाहते हैं।

खबरें और भी हैं...