पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • BJP's Strategy In The Kisan Morcha Meeting In Chitrakoot, The Party Will Remove The Displeasure Of The Khap Panchayat Along With The Respect Of The Farmers.

BJP का 'मिशन 2022':चित्रकूट में किसान मोर्चा बैठक में भाजपा की रणनीति, किसानों के सम्मान के साथ ही खाप पंचायत की नाराजगी दूर करेगी पार्टी ...

लखनऊ6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
चित्रकूट में भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक - Dainik Bhaskar
चित्रकूट में भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक

उत्तर-प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी के सभी मोर्चें अपनी-अपनी प्रदेश कार्यसमिति की बैठकें कर रहें है। इसी के तहत भाजपा किसान मोर्चा चित्रकूट में आयोजित की गई है । 11 सितंबर से 13 सितंबर तक चलने वाले इस कार्यसमिति की बैठक में आज प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी शामिल हुए।

किसान आंदोलन और गन्ना किसानों की नाराजगी से परेशान योगी सरकार को राहत देने के लिए रणनीति तैयार की जा रही है। एक तरफ जहां सरकार विधानसभा चुनाव से पहले गन्ना के दाम बढ़ाने की तैयारी में है तो दूसरी तरफ इस बैठक के जरिए भाजापा प्रदेश के सभी जिलों के किसान मोर्चा और किसान संगठनों को भाजपा के पक्ष में मजबूती से खड़ा करने के गुर सिखा रही है। पार्टी ने तय किया है कि पश्चिमी यूपी में खास तौर पर खाप पंचायतों के नेताओं और किसान संगठनों को मनाने का काम किया जाएगा।

भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक चित्रकूट में आयोजित की गई है
भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक चित्रकूट में आयोजित की गई है

किसान, जवान सम्मान समारोह का होगा आयोजन

किसान मोर्चा प्रदेश भर में आगामी 17 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 71 में जन्मदिन के अवसर पर किसान जवान सम्मान समारोह का आयोजन करने की रणनीति बना रही है । हर जिले में कम से कम 71 किसानों और जवानों को सम्मानित करने के लिए बड़े आयोजन किए जाएंगे। किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कामेश्वर सिंह ने कहा कि ऐसे लोग जो संगठन के कार्य में रुचि नहीं ले रहे हैं उनका मूल्यांकन किया जा रहा है । दायित्वों के प्रति लापरवाह लोगों को सावधान हो जाना चाहिए और चित्रकूट की भूमि से संकल्प लेकर जाना चाहिए कि वह पूरे मनोयोग और जोश खरोश से भारतीय जनता पार्टी को उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में 325 से ज्यादा सीटें जिताने के लक्ष्य को हासिल करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे

यूपी का किसान भाजपा के साथ

कृषि कानून विरोधी आंदोलन को हवा देता रहा विपक्ष उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में इसके सहारे भाजपा और किसानों के बीच पाला खिंचवाने की मंशा में है,तो सत्ताधारी दल ने भी अपनी पूरी तैयारी कर रखी है। उत्तर प्रदेश में आंदोलन के असर को सिरे से खारिज करने वाली भाजपा ने किसान मोर्चा को किसानों से संपर्क, संवाद और संबंध मजबूत करने की जिम्मेदारी सौंपी है। चित्रकूट में हो रही उत्तर प्रदेश किसान मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में यूपी के किसानों को योगी सरकार और केंद्र की मोदी सरकार की किसानों के लिए किये गये प्रयासों और MSP के बारें में बताने के निर्देश भी दिए गए।

भाजपा ने किसान मोर्चा को किसानों से संपर्क, संवाद और संबंध मजबूत करने की जिम्मेदारी सौंपी है
भाजपा ने किसान मोर्चा को किसानों से संपर्क, संवाद और संबंध मजबूत करने की जिम्मेदारी सौंपी है

किसानों को बताएंगे, कृषि कानून का फायदें

कहा जा रहा है कि पार्टी अपने किसान मोर्चें के जरिए यूपी के किसानों को कृषि कानून के फायदें के बारें में बताएगी।साथ ही यह समझाने की कोशिश होगी कि कैसे विपक्ष इसे मुद्दा बना कर सरकार को बदनाम करने की कोशिश कर रहा है।आज की बैठक को प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने संबोधित किया।

खबरें और भी हैं...