वाणिज्यकर विभाग मुरादाबार जोन के 14 अधिकारी सस्पेंड:गाड़ियों को रोक वसूली और टैक्स चोरी में व्यापारियों से मिली - भगत का आरोप , विभाग को 26 लाख रुपए का हुआ नुकसान

लखनऊ18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भ्रष्टाचार के आरोप में वाणिज्य कर विभाग के 14 अधिकारी सस्पेंड। - Dainik Bhaskar
भ्रष्टाचार के आरोप में वाणिज्य कर विभाग के 14 अधिकारी सस्पेंड।

गाड़ियों को पकड़कर गलत तरीके से चोरी वसूली करने, टैक्स चोरी में मदद करने के आरोप में वाणिज्य कर विभाग के 14 अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया गया है। सभी अधिकारी मुरादाबाद जोन से हैं। बताया जा रहा है कि 26 और 27 जुलाई 2021 को दो ट्रक पकड़े गए थे। उन ट्रकों से जो माल जा रहा था, उसका कागज पूरा नहीं था। ऐसे में कार्रवाई होनी चाहिए थी।

अब अधिकारियों से व्यापारियों के साथ मिलकर कम टैक्स जमा कराया। इसमें विभाग को 26 लाख 36 हजार रुपए का नुकसान हुआ था। इसकी शिकायत शासन स्तर पर भी हो गई थी। इसमें जांच बैठी और उसके बाद 14 लोग मामले में दोषी पाए गए। जांच में पाया गया कि एक ट्रक में 10.97 लाख और दूसरे ट्रक में 15.37 लाख रुपये की राजस्व हानि हुई। इस मामले की जांच की गई तो अधिकारियों को दोषी पाया गया। जिसके बाद वाणिज्य कर अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है।

विभाग के भ्रष्टाचार के खिलाफ सीएम से शिकायत

आगरा के व्यापारी नेता और व्यापारी कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष राकेश गर्ग ने वाणिज्य कर विभाग में हो रहे भ्रष्टाचार को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ से शिकायत दर्ज कराई थी। उस दौरान मथुरा के एक कारोबारी ने करीब 43 लाख रुपए जांच के नाम पर अधिकारियों ने छीन लिए थें। उसमें भी कार्रवाई हुई थी और विभाग में बड़े स्तर पर जांच के आदेश जारी हो गए थें।

इन अधिकारियों के खिलाफ हुई कार्रवाई

- अरविंद कुमार एडिश्नल कमिश्रर ग्रेड -1 - अवधेश कुमार सिंह एडिश्नल कमिश्नर ग्रेड-2 - अनिल कुमार राम त्रिपाठी ज्वाइंट कमिश्नर - चन्द्र प्रकाश मिश्र ज्वाइंट कमिश्नर - डॉ. श्याम सुंदर तिवारी ज्वाइंट कमिश्नर (कॉरपोरेट) - अनूप कुमार प्रधान ज्वाइंट कमिश्नर - कुलदीप सिंह असिस्टेंट कमिश्नर - सत्येन्द्र प्रताप असिस्टेंट कमिश्नर - राकेश उपाध्याय असिस्टेंट कमिश्नर - देवेन्द्र कुमार असिस्टेंट कमिश्नर - नवीन कुमार - विजय कुमार सक्सेना - आशीष महेश्वरी - हरित कुमार

खबरें और भी हैं...