22 हजार पद भरने को लेकर धरना:89 दिन से प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थी, आरोप है कि 22 हजार पद खाली, उसके बाद भी रोजगार से वंचित रखा जा रहा

लखनऊएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पद भरने की मांग को लेकर 89 दिन से प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थी । - Dainik Bhaskar
पद भरने की मांग को लेकर 89 दिन से प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थी ।

22 हजार शिक्षक भर्ती की मांग मामले में अभ्यर्थियों का आंदोलन एक बार फिर से बहुत तेज हो गया है। बुधवार को निशातगंज स्थिति शिक्षा विभाग कार्यालय पर अभ्यर्थियों ने प्रदर्शन किया। इस दौरान पूरे प्रदेश से आए अभ्यर्थी शामिल थें। अभ्यर्थियों ने मांगें पूरी न होने की स्थिति में आंदोलन करने लगे। आरोप है कि 6800 शिक्षक भर्ती मामले में 22 हजार पद खाली थे , उसके बाद भी नियुक्ति नहीं की जा रही है।अनदेखी की वजह से नहीं हो रहीं भर्तियां

प्रदर्शन करने पहुंचे अभ्यर्थियों ने विभाग के खिलाफ नाराजगी जताई। अभ्यर्थियों ने कहा कि बेसिक शिक्षा विभाग की अनदेखी की वजह से भर्तियां नहीं हो पा रही हैं। हम बीते कई महीनों से मंत्री से मुख्यमंत्री तक को मांग पत्र दे चुके हैं। लेकिन अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई। थक हार कर हमें मजबूरन सड़क पर उतरना पड़ रहा है। हम तब तक प्रदर्शन करेंगे। जब तक हमारी मांगों को मान नहीं लिया जाएगा। आरोप है कि प्रदेश में एक लाख 37 हजार भर्तियां आई है। इसकी वजह से लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। हजारों लोग रोजगार पाने से वंचित रह रहे हैं।

89 दिन से चल रहा धरना

22000 सीट जोड़ने की मांग को लेकर प्रदर्शनकारी पिछले 89 दिन से धरना दे रहे है। उसको लेकर कई बार वह पानी की टंकी में धरना दे चुके हैं। यहां तक की कई दिनों तक अभ्यर्थी उसी पर रहे लेकिन उसके बाद भी उनकी मांगों को पूरा नहीं किया गया।

खबरें और भी हैं...