लखनऊ में हॉस्पिटल मालिक डॉक्टर ने किया सुसाइड:दाईं कनपटी पर मारी गोली; 2018 में हुई थी छोटे भाई की हत्या

लखनऊ2 महीने पहले

लखनऊ में नोवा हॉस्पिटल के मालिक डॉक्टर मनीष यादव ने खुद को गोली मारकर सुसाइड कर लिया। गोली की आवाज सुनकर परिजन दौड़े, तो देखा कि मनीष खून से लथपथ जमीन पर पड़े थे। उनकी दाईं कनपटी पर गोली लगी थी।

परिजन मनीष के दोस्तों की मदद से उन्हें हॉस्पिटल ले गए। रविवार दोपहर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। घटना ठाकुरगंज इलाके की शनिवार देर रात की है।

खबर में पोल है। आगे बढ़ने से पहले आप इसमें हिस्सा ले सकते हैं।

परिवार में विवाद के बाद लाइसेंसी पिस्टल से गोली मारी
प्रभारी निरीक्षक ठाकुरगंज विजय यादव ने बताया, "डॉ. मनीष का बालागंज में नोवा हॉस्पिटल है। देर रात वह घर पर थे। परिवार में किसी बात को लेकर विवाद हुआ। इसके चलते अपनी लाइसेंसी पिस्टल से खुद को गोली मार ली। उन्हें नोवा हॉस्पिटल पहुंचाया गया, जहां से ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया। यहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।"

उन्होंने बताया, "मौके से लाइसेंसी पिस्टल बरामद कर ली गई है। परिवार के लोगों के बयान दर्ज किए जा रहे हैं। अभी यह साफ नहीं हो सका है कि विवाद क्या था। जिसके चलते डॉक्टर को सुसाइड के लिए मजबूर होना पड़ा। यही वजह है कि हमने डॉक्टर के मोबाइल और घर से कुछ दस्तावेज को अपने कब्जे में लिया है।"

सुसाइड के बाद मौके पर जांच करते पुलिसकर्मी।
सुसाइड के बाद मौके पर जांच करते पुलिसकर्मी।

भाई बोला- सिर के आर-पार हुई गोली
डॉ. मनीष यादव के भाई रिंकू यादव ने बताया, "रात 11 बजे उनके पार्टनर ने मेरे पास फोन किया। उसने कहा कि जल्दी घर पहुंचो, भैया कह रहे हैं कि आज के बाद से वह हॉस्पिटल नहीं आएंगे। जब मैं घर पहुंचा तो उनकी कनपटी पर गोली लगी थी।"

रिंकू ने दैनिक भास्कर से कहा, "मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। जब सब कुछ बढ़िया चल रहा था, तो ऐसा क्यों हुआ। मौत की वजह जानने के लिए मोबाइल की कॉल डिटेल और मैसेज को भी चेक किया जाना चाहिए।"

4 दिन पहले पत्नी मायके गई थी
7 साल पहले मनीष यादव मलिहाबाद से ठाकुरगंज स्थित आवास विकास कॉलोनी में शिफ्ट हुए थे। उनकी एक 4 साल की बेटी भी है। 4 दिन पहले मनीष की पत्नी की मां की तबीयत खराब होने की वजह से मायके चली गई थी। मनीष घर पर अकेले थे।

मनीष के छोटे भाई की भी हुई थी हत्या
साल 2018 में बावरिया गैंग की डकैती के समय काकोरी में मनीष यादव के छोटे भाई की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। घटना पर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मनीष यादव के परिवार से मिलने उनके घर भी पहुंचे थे।

ये वीडियो ट्रामा सेंटर के ICU का है...