CAT 2021 रिजल्ट:IIM अहमदाबाद ने जारी किए नतीजे, लखनऊ के राहुल शर्मा को तीसरी बार मिला 100 पर्सेंटाइल

लखनऊ7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
99 से ऊपर पर्सेंटाइल में भी लखनऊ के कई अभ्यर्थियों ने अपनी जगह बनाई है। - Dainik Bhaskar
99 से ऊपर पर्सेंटाइल में भी लखनऊ के कई अभ्यर्थियों ने अपनी जगह बनाई है।

IIM यानी इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट अहमदाबाद ने सोमवार शाम को देश के टॉप बिजनेस स्कूलों में दाखिले के लिए CAT (कामन एडमिशन टेस्ट) के नतीजे जारी कर दिए। कैट के परिणामों में राजधानी के राहुल शर्मा ने तीसरी बार 100 पर्सेंटाइल के साथ नया कीर्तिमान स्थापित किया। वहीं, 99 से ऊपर पर्सेंटाइल में भी लखनऊ के कई अभ्यर्थियों ने अपनी जगह बनाई है। कैंडिडेट्स वेबसाइट https://iimcat.ac.in/ के माध्यम से कैट रिजल्ट देख सकते हैं। बता दे कि 28 नवंबर को ऑनलाइन माध्यम से कैट प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया गया था।

खुद को अपडेट रखने के लिए देता हूं कैट, तीसरी बार रहा 100 पर्सेंटाइल

कैट रिजल्ट से जुड़ा अद्भुत कीर्तिमान बनाने वाले राहुल शर्मा कहते है कि तीसरी बार 100 पर्सेंटाइल हासिल किया है। इससे पूर्व साल 2016, 2020 में सफलता मिली। कैट को क्रैक करने के लिए रेगुलर प्रैक्टिस बहुत जरुरी है। साल 2004 से 2008 तक इंजीनियरिंग और फिर 2011 में IIM अहमदाबाद से MBA करने के बाद पढ़ाना शुरू किया ताकि कैट में होने वाले बदलाव की जानकारी हो सके।

99.19 पर्सेंटाइल हासिल करने वाली अवंतिका डिडवानिया, एक साल की तैयारी में पास हो सकती है परीक्षा

अपने पहले प्रयास में सफलता पाने वाली अवंतिका कहती है कि उन्हें पहले कैट की तैयारी का कोई प्लान नहीं था, पर जब प्लान बना तो फिर तैयारी शुरु हुई शिक्षकों ने मदद की और एक साल के भीतर परिणाम हासिल किया। अवंतिका ने नेशनल पीजी कालेज से BA पालिटिकल साइंस, इकोनामिक्स से किया।

99.36 पर्सेंटाइल के साथ किशलय द्विवेदी करना चाहते है एकॉनॉमिस पॉलिसी पर रिसर्च

लखनऊ विश्वविद्यालय से BA एकॉनॉमिस लास्ट ईयर स्टूडेंट हूं। पुराने वर्ष के प्रश्न हल करने से तैयारी शुरू की। मैथ्स और रीजनिंग कमजोर थी, उस पर फोकस किया। पहले प्रयास में सफलता मिली। एमबीए करके बैंकिंग सेक्टर में सबसे पहले नौकरी करनी है। फिर पीएचडी के बाद थिंक टैंक शुरू करना है, जिसमें इकोनामिक्स पालिसी पर रिसर्च करने का काम करेगा।

मैन्युफैक्चरिंग इंजीनियरिंग मनुज कुशवाहा ने कायम की है मिसाल

BITS पिलानी से मैन्युफैक्चरिंग इंजीनियरिंग, शुरु किया अपना स्टार्टअप शुरु करने वाले मनुज कुशवाहा ने बताया कि उन्हें 99.75 पर्सेंटाइल मिला है। इंजीनियरिंग करने के बाद अपना स्टार्टअप शुरू किया। कोविड के समय ठंडा पड़ गया तो सोचा कि मैनेजमेंट की डिग्री ले लें। फिर कैट की तैयारी शुरू की। अपना बेस्ट दिया।

खबरें और भी हैं...