चाइल्ड पोर्नोग्राफी का कारोबार:CBI को वॉट्सऐप पर मिले अश्लील कंटेंट वाले ग्रुप; 5 हजार से ज्यादा एजेंट टारगेट पर, यूपी के 16 शहरों में छापामारी

लखनऊएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

इंटरनेट से फैल रही चाइल्ड पोर्नोग्राफी की रोकथाम के लिए CBI की टीम ने देशभर में छापामारी की। इसमें यूपी के 16 शहर भी शामिल हैं। मंगलवार सुबह से चले सर्च ऑपरेशन में 50 से अधिक गैंग के 5 हजार से ज्यादा एजेंट टारगेट पर रहे। अलग-अलग जगहों से मोबाइल और लैपटॉप जब्त किए गए। इसमें विदेशी नागरिकों के शामिल होने की आशंका है।

यूपी के 50 लोगों से पूछताछ की जा रही है। हालांकि गिरफ्तारी को लेकर अभी तक कोई घोषणा नहीं की गई है। CBI ने आधिकारिक रूप से स्वीकार किया कि सिर्फ देश के कुछ शहर ही नहीं, विभिन्न महाद्वीपों के 100 देशों तक यह मामला फैला हुआ है।

चाइल्ड पोर्नोग्राफी के वीडियो के बदले रुपए की डिमांड
जालौन, मऊ, चंदौली, वाराणसी, गाजीपुर, सिद्धार्थनगर, मुरादाबाद, नोएडा, झांसी, गाजियाबाद, मुजफ्फरनगर समेत 16 शहरों में CBI की टीमें सक्रिय रही। जिन लोगों के घरों पर टीमें पहुंची। उनके मोबाइल और लैपटॉप में चाइल्ड पोर्नोग्राफी के लिंक मिले। मोबाइल गैलरी और मेमाेरी में अश्लील वीडियो मिले। कई लोगों के नंबर वॉट्सऐप ग्रुप में जुड़े हुए थे। जहां अश्लील सामग्री मौजूद थी। पूछताछ में सामने आया कि इसी तरह के ग्रुप में विदेशी नंबरों के लिंक आते थे। जिसमें अश्लील वीडियो हुआ करते थे। लिंक पर क्लिक करने के बाद उसमे चंद सेकेंड के वीडियो के एवज में रुपए की मांग होती थी।

वाराणसी में छानबीन करती CBI टीम।
वाराणसी में छानबीन करती CBI टीम।

लोकल भी तैयार होते थे पोर्न वीडियो
ऑनलाइन बाल यौन शोषण पर 14 नवंबर 2021 को 83 आरोपियों के खिलाफ 23 अलग-अलग मामले दर्ज किए हैं। इसके बाद 14 राज्यों में 76 स्थानों पर छापामारी की गई। चंदौली में मुगलसराय सूरज कुमार समेत चार लोगों को CBI ने उठाया। सूरज वॉट्सऐप से लोगों को अश्लील फिल्म भेजता था। CBI इंस्पेक्टर हेमंत राय ने बताया कि अश्लील फिल्मों के साथ वायरल वीडियो, लोकल स्तर पर तैयार की गई सी ग्रेड फिल्में कमाई का जरिया होती हैं।

गांव में बना लिए अश्लील वीडियो दिखाने के लिए वॉट्सऐप ग्रुप
सामने आया कि गांव में पोर्न फिल्म दिखाने के लिए वॉट्सऐप ग्रुप बनाए गए हैं। उसमें शामिल लोगों को ग्रुप चलाने वालों को तय रकम देनी पड़ती है। सोनभद्र का राजू, वाराणसी का श्याम और चंदौली के सूरज को इसी तरह के ग्रुप ऑपरेट करने के आरोप में हिरासत में लिया गया। अब उनके पूछताछ की जा रही है।

सोनभद्र के सिंचाई इंजीनियर के साथियों की तलाश
यूपी में सितंबर 2020 में इंस्टाग्राम पर चाइल्ड पोर्नोग्राफी रैकेट के सूत्र सोनभद्र से जुड़े थे। यहां अनपरा के इंजीनियर नीरज यादव को गिरफ्तार किया गया। इंटरनेट के जरिए पोर्न फिल्म लोगों को उपलब्ध कराता था। इसके बाद खुद पोर्न फिल्म बनाने लगा। जिसमें मासूम बच्चों का शोषण किया जाता था।