चाइल्ड पोर्नोग्राफी में देशभर से 7 गिरफ्तार:CBI ने यूपी के झांसी और नोएडा से 2 पकड़े; पाकिस्तान-बांग्लादेश समेत 100 देशों में मिले लिंक

लखनऊएक वर्ष पहले

चाइल्ड पोर्नोग्राफी मामले में देशभर में छापामारी के बाद CBI ने अब तक 7 लोगों को गिरफ्तार किया है। इसमें 2 आरोपी यूपी में नोएडा और झांसी के हैं। अब तक जांच में पाकिस्तान, सऊदी अरब, बांग्लादेश समेत 100 से ज्यादा देशों के लोगों की भूमिका सामने आई है।

बुधवार को CBI ने आधिकारिक तौर पर गिरफ्तार लोगों की पहचान उजागर की। इसमें दिल्ली, ओडिशा, उत्तर प्रदेश और आंध्र प्रदेश के लोग शामिल हैं। आरोपी चाइल्ड पोर्नोग्राफी की दो वेबसाइट से लिंक थे। एक वेबसाइट पोर्नोग्राफी के वीडियो के लिए स्टोरेज सुविधा मुहैया कराती थी।

जबकि एक रशियन वेबसाइट के जरिए फोटो शेयरिंग सुविधा दी जाती थी। CBI ऐसी वेबसाइट पर कड़ी निगाह रख रही थी। इसके बाद सबसे पहली छापामारी ओडिशा में भद्रक के घर हुई थी। ट्रांजिट रिमांड के लिए दिल्ली लाया गया था। इसके बाद 14 नवंबर को 83 लोगों के खिलाफ 23 मुकदमे दर्ज किए गए। देशभर में 77 जगह छापामारी हुई।

जब्त मोबाइल, लैपटॉप और दस्तावेज बनेंगे कोर्ट में साक्ष्य
CBI ने छापामारी के बाद मोबाइल, लैपटॉप और दस्तावेज जब्त किए है। जिन्हें बतौर साक्ष्य कोर्ट में पेश किया जाएगा। फंड के ट्रांजैक्शन की जांच भी चल रही है। लेकिन इसके बारे में अभी कोई कुछ नहीं कह रहा है। कुछ आरोपी चाइल्ड पोर्नोग्राफी से जुड़ी सामग्री विदेशी वेबसाइट पर अपलोड भी करते थे। जिन्हें इसके बदले में मोटी रकम मिलती थी।

मंगलवार को चंदौली में CBI की टीम छापामारी करने पहुंची थी। एक युवक के घर से मोबाइल और लैपटॉप को जब्त किया गया था।
मंगलवार को चंदौली में CBI की टीम छापामारी करने पहुंची थी। एक युवक के घर से मोबाइल और लैपटॉप को जब्त किया गया था।

इनकी हुई गिरफ्तारी

  • रमन गौतम, दिल्ली
  • सत्येंद्र मित्तल, दिल्ली
  • सुरेंद्र कुमार नाइक, ढेंकनाल ओडिशा
  • पुरुषोत्तम झा, दिल्ली
  • निशांत जैन, नोएडा उत्तर प्रदेश
  • जितेंद्र कुमार, झांसी उत्तर प्रदेश
  • टी. मोहन कृष्णा, तिरूपति आंध्र प्रदेश

वाराणसी जोन में हुई थी सबसे ज्यादा छापामारी

CBI ने यूपी में जालौन, मऊ, चंदौली, वाराणसी, गाजीपुर, सिद्धार्थनगर, मुरादाबाद, नोएडा, झांसी, गाजियाबाद और मुजफ्फरनगर में छापामारी करके करीब कई लोगों को हिरासत में लिया था। इसमें वाराणसी जोन में सबसे ज्यादा छापामारी हुई थी। मंगलवार को इस कार्रवाई के बाद CBI ने दिल्ली के चार, यूपी के दो और आंध्र प्रदेश का एक और ओडिशा का एक शख्स सामने लाया है। जल्द कुछ और चेहरों से पर्दा उठाए जाने की संभावना बनी हुई है।

एडल्ड साइट के लिंक कर रहे थे शेयर
CBI की जांच में सामने आया है कि गिरफ्तार लोग कुछ वेबसाइट से अश्लील फिल्म के लिंक शेयर कर रहे थे। जिसमें https://koflink.com और https://pdisklink.com वेबसाइट प्रमुख हैं। यह लोग CSEM सामग्री से कथित तौर पर व्यापार कर रहे थे। इसके लिए यह लोग वॉट्सऐप ग्रुप चलाकर इन्हें सर्कुलेट कर रहे थे। इनसे जुड़े लोगों का भी ब्योरा तैयार किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...