स्वतंत्रता दिवस पर किसानों का अनोखा विरोध:तीन कृषि बिल के विरोध में लखनऊ में किसानों ने खेतों में फहराया तिरंगा, बोले- कानून वापस ले सरकार

लखनऊ4 महीने पहले
राजधानी लखनऊ के गोसाईगंज क्षेत्र में खेत में तिरंगा फहराते हुए किसान यूनियन के नेता।

उत्तर प्रदेश में भारतीय किसान यूनियन की विभिन्न संगठनों ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर संग्राम दिवस मना रहे हैं। भारतीय किसान यूनियन के नेताओं ने राजधानी के ग्रामीण क्षेत्र में खेतों में तिरंगा फहराया। किसान यूनियन के प्रदेश उपाध्यक्ष हरिनाम सिंह वर्मा का कहना है कि एमएसपी पर कानून बनाए जाने की मांग को आज हम सरकार का विरोध कर रहे हैं। राजधानी के ग्रामीण क्षेत्र ही नहीं पूरे प्रदेश के विभिन्न जिलों में हमने खेतों में तिरंगा फैलाकर केंद्र सरकार की नीतियों का विरोध किया है। कृषि कानून सरकार को वापस लेना पड़ेगा।

जब तक बिल वापस नहीं तब तक आंदोलन जारी
राकेश टिकैत भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता दैनिक भास्कर से बातचीत करते हुए कहा कि हम सरकार से अपने हक की मांग कर रहे हैं। हमने सरकार का साथ देते हुए गाजीपुर बॉर्डर पर ही स्वतंत्र दिवस मनाए जाने का ऐलान किया है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश समेत अन्य कई राज्यों में किसान अपने खेतों में तिरंगा फैलाकर केंद्र सरकार से कृषि बिल वापस लेने की मांग कर रही है।

एक दिन पहले राकेश टिकैत ने किया था एलान

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए बताया था कि "लोकतंत्र में शांतिपूर्ण तरीके से विरोध करना अपराध नहीं, बल्कि नागरिक समाज की सजगता का प्रमाण है। वहीं उन्होंने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि स्वतंत्रता दिवस के मौके पर देश भर के किसान अपने घर ट्रैक्टर खेत खलिहान में राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा लहराएंगे। ज्यों-ज्यों 15 अगस्त की तारीख नजदीक आ रही है। शासन प्रशासन की चिंता के साथ किसानों ने भी सुरक्षा व्यवस्था अपने स्तर से संभालने में कोई कसर नहीं छोड़ी है।"

खबरें और भी हैं...