पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Demand For The Arrest Of The Girl Who Beat Up The Car Driver: The Girl Wrote On Social Media, The Driver Was Smoking A Cigarette, Everyone Is Only Blaming Me

लखनऊ... ड्राइवर की पिटाई करने वाली लड़की सामने आई:इंस्टाग्राम पर लिखा- गंजेड़ी था ड्राइवर, लेकिन सब मुझे ब्लेम कर रहे; पड़ोसियों से झगड़ा करते हुए लड़की का पुराना VIDEO भी वायरल

लखनऊ2 महीने पहले

राजधानी लखनऊ में कैब ड्राइवर की पिटाई करने वाली लड़की ने सोशल मीडिया पर बयान जारी किया है। प्रियदर्शिनी यादव के नाम से महज 24 घंटे पहले पहले इंस्टाग्राम अकाउंट से लड़की ने खुद को निर्दोष और कैब ड्राइवर को दोषी ठहराया है। लिखा, 'सब मुझे दोषी ठहरा रहे हैं कि मैंने उसे क्यों मारा। लेकिन कोई भी मेरी स्टोरी नहीं जानना चाहता है।' प्रियदर्शिनी ने ड्राइवर को गंजेड़ी भी कहा। इस बीच, लड़की का एक और वीडियो सामने आया है। इसमें वह अपने पड़ोसियों से झगड़ा करते हुए दिख रही है। बताया जाता है कि वह आए दिन अपने पड़ोसियों से लड़ाई करते रहती है।

क्या लिखा है पोस्ट में ?

प्रियदर्शिनी यादव ने लिखा, 'स्मोक एंड ड्राइव। सब मुझे ही ब्लेम कर रहे हैं कि मैंने उसे क्यों मारा। कोई भी मेरी स्टोरी नहीं जानना चाहता है। मैं लगभग रोड को क्रॉस कर चुकी थी जब सिग्नल रेड था। तभी गंजेड़ी ड्राइवर ने मुझे अपनी कार से टक्कर मार दी। मैं भगवान की कृपा से बच गई। वह अपनी गलती नहीं मान रहा था और मुझसे बहस कर रहा था। इसलिए मैंने उसे तमाचा मारा। अगर किसी को लगता है कि मैंने कानून हाथ में लिया तो इसके लिए मैं माफी मांगती हूं। लेकिन चुप रहने की बजाय मैं इन एंटी सोशल एलिमेंट्स को जवाब देना ज्यादा बेहतर मानती हूं। संघी और भक्त मुझे फेक फेमनिस्ट और न जाने क्या बता रहे हैं। यह कम से कम मरने और उसके बाद कैंडल मार्च निकलवाने से तो बढ़िया ही है ।'

पुराना वीडियो भी सामने आया, टीवी चैनल पर असामान्य दिखी लड़की

लड़की के वायरल हो रहे पुराने वीडियो से ये फोटो ली गई है। इसमें वह अपने पड़ाेसियों से लड़ रही है।
लड़की के वायरल हो रहे पुराने वीडियो से ये फोटो ली गई है। इसमें वह अपने पड़ाेसियों से लड़ रही है।

लड़की का एक पुराना वीडियो भी तेजी से वायरल हो रहा है। इसमें भी वह अपने पड़ोसियों से लड़ाई लड़ते हुए दिख रही है। वीडियो से मालूम चलता है कि वह अपने पड़ोसी के गेट का रंग देखकर गुस्से में थी और उसे बदलवाने के लिए बोल रही थी। लड़की ने पुलिस को भी बुला लिया था। इस वीडियो में पुलिसकर्मी भी उसे समझाते हुए दिख रहा है, जबकि बाकी लोग उसकी बातों पर हंस रहे हैं।

उधर, मंगलवार को लड़की एक निजी न्यूज चैनल की डिबेट में भी शामिल हुई। इसमें भी उसका व्यवहार असामान्य दिख रहा था। लड़की चैनल में बार-बार चौराहे की सालभर पहले की CCTV मांगने की बात कर रही थी। इसके बाद उसने बोला कि उसे जान से मारने की कोशिश की गई। लड़की ने ये भी बताया कि घटना के बाद उसे लड़कों ने घेरकर पीटा है।

30 जुलाई का मामला, शांति भंग का चालान हुआ था
मामला 30 जुलाई को आलमबाग अवध चौराहे का है। यहां रात 9 बजे OLA कार चालक सआदत अली वैगनार कार से जा रहा था। तभी उसकी कार के आगे एक युवती आ गई। लड़की ने आरोप लगाया कि उसके ऊपर कार चढ़ाने की कोशिश की गई। इसके बाद लड़की ने ड्राइवर को कॉलर पकड़कर नीचे खींचा और उसे मारने लगी। उसका मोबाइल भी तोड़ दिया। झगड़ा होते देख राहगीर इनायत अली और दाउद अली बीच-बचाव करने पहुंचे। इतने में युवती ने उनसे भी अभद्रता की। इसके बाद पुलिस ने तीनों युवकों पर ही उल्टा मुकदमा दर्ज कर लिया।

दो दिन बाद सोमवार को चौराहे से CCTV फुटेज सामने आई। तब पुलिस और लड़की की पोल खुल गई। इस फुटेज में साफ दिखाई दे रहा था कि ड्राइवर बेगुनाह है। उसकी कार से लड़की टच नहीं हुई थी। इस फुटेज के आधार पर दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालिवाल ने लड़की के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी। इसके बाद से सोशल मीडिया पर लड़की को गिरफ्तार करने की मांग उठ रही है।

खबरें और भी हैं...