• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Demand Of 20 Lakh Retailer Should Be Allowed To Open The Market In The Weekend, If The Political Party Is Not Banned, Then Why Are We Being Forced?

राजनैतिक रैलियों पर रोक नहीं तो हम पर क्यों?:UP के 20 लाख रिटेलर्स की तरफ से व्यापार मंडल का बड़ा सवाल, कहा- वीकेंड में भी बाजार खुलें, कोरोना केस बेहद कम

लखनऊ3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश के 20 लाख रिटेलर्स की तरफ से वीकेंड (शनिवार-रविवार) पर बाजार खोलने की डिमांड तेज हो गई है। व्यापारियों का कहना है कि सबसे ज्यादा कारोबार इन्हीं दो दिनों में होता है। अब कोरोना के केस भी काफी हद तक कम हो चुके हैं। लखनऊ व्यापार मंडल के वरिष्ठ महामंत्री अमरनाथ मिश्रा कहते हैं कि वीकेंड पर बाजार खोलने के लिए उन्होंने डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा को पत्र लिखा था। उन्होंने आश्वासन दिया था, लेकिन बाजार नहीं खुले।

बड़ा सवाल- नियम केवल कारोबारियों के लिए क्यों?

लखनऊ व्यापार मंडल की दलील है कि विधानसभा नजदीक आने के साथ राजनीतिक गतिविधियां तेज हो गई हैं। राजनीतिक दल अपने कई कार्यक्रम कर रहे हैं, जिसमें हजारों की भीड़ एकत्र हो रही है। इसमें सत्ता दल से लेकर विपक्ष के लोग शामिल हैं। अमरनाथ कहते हैं कि सप्ताह के पांच दिन में जितना कारोबार नहीं होता है, उससे ज्यादा बिजनेस दो दिन शनिवार और रविवार को होता है। इन दो दिनों में बाजार खोलने के लिए प्रदेश के सभी बड़े व्यापार मंडल डिमांड कर रहे हैं।

20 लाख रिटेलर को फायदा

उप्र में करीब 20 लाख रिटेलर हैं। जिनसे करीब तीन करोड़ की आबादी सीधे तौर पर जुड़ी है। लॉकडाउन के पहले इनकी स्थिति बहुत अच्छी थी। पिछले डेढ़ साल से बहुत सारे लोगों ने अपना काम बंद कर दिया है। भूतनाथ व्यापार मंडल के अध्यक्ष देवेन्द्र गुप्ता कहते हैं कि शनिवार और रविवार बाजार खुलेगा तो स्थिति सुधरेगी। आने वाले महीनों में दशहरा, दीपावली, छठ पूजा जैसे बड़े त्योहार आने वाले हैं। ऐसे में बाजार पूरी तरह से खोलने की अनुमति होनी चाहिए।

केस कम हैं तो बाजार खोलें

आदर्श व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष संजय गुप्ता के अनुसार, रात 10 बजे के बाद आंशिक कर्फ्यू की वजह से मल्टीप्लेक्स कारोबार को गति नहीं मिल पा रही है। कोई भी परिवार समेत सिनेमा ज्यादातर शाम के बाद जाता है, लेकिन कोविड-19 के नियमों की वजह से ऐसा नहीं हो पा रहा है। साथ ही वीकेंड लॉकडाउन को भी जिले के कोरोना केस के हिसाब से खत्म करना चाहिए।

फैक्ट फाइल

लखनऊ में दुकान- 1 लाख।
प्रतिदिन का कारोबार- 200 करोड़ रुपए।
परिवार जिनका रोजगार जुड़ा है- 3 लाख।
वीकेंड का करोबार- 500 करोड़ रुपए।

यूपी में 619 एक्टिव केस

उत्तर प्रदेश में वर्तमान में 619 एक्टिव केस हैं। बीते 24 घंटे में शुक्रवार को 41 नए केस सामने आए थे। वहीं लखनऊ में कुल 5 नए केस मिले थे। यहां 64 एक्टिव केस हैं। अब तक कुल 16.85 लाख मरीज ठीक हो चुके हैं।

खबरें और भी हैं...