डिप्टी CM... ये कैसा भाजपा का गढ़?:रायबरेली में दिनेश शर्मा बोले- अब ये कांग्रेस का नहीं भाजपा का घर, दूसरी ओर पुलिस वालों ने भाजपा नेता को थाने में इतना पीटा कि वह बेहोश हो गया

रायबरेलीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
डिप्टी सीएम पहुंचे रायबरेली, उधर भाजपा नेता की पिटाई से नाराज कार्यकर्ता कोतवाली में प्रदर्शन कर रहे थे। - Dainik Bhaskar
डिप्टी सीएम पहुंचे रायबरेली, उधर भाजपा नेता की पिटाई से नाराज कार्यकर्ता कोतवाली में प्रदर्शन कर रहे थे।

उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा रविवार को कांग्रेस चेयरपर्सन सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में थे। यहां उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि, रायबरेली अब कांग्रेस का गढ़ नहीं रहा। रायबरेली अब भाजपा का घर है और जिले के रहने वाले लोग भाजपा परिवार के सदस्य। खास बात ये है कि, डॉ. दिनेश शर्मा का यह बयान उस समय आया जब भाजपा कार्यकर्ता सलोन कोतवाली का घेराव कर पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। यहां एक भाजपा नेता को पुलिस वालों ने इतना पीटा कि वह बेहोश हो गया। पुलिस ने भाजपा नेता ओर उसकी पत्नी का शांतिभंग में चालान कर दिया।

कोतवाली के सामने प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं की मांग थी कि रुनीपुर गांव के बूथ अध्यक्ष राजेंद्र कुमार पुत्र परागदीन की पिटाई करने वाले दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ केस दर्ज कर उनको निलंबित किया जाए। कार्यकर्ताओं ने डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा को फोन कर शिकायत की लेकिन जिले में मौजूद होने के बाद भी डिप्टी सीएम अपने कार्यक्रम में बिजी रहे। उन्होंने कोतवाली पहुंचकर भाजपा कार्यकर्ताओं से मुलाकात तक नहीं की।

पुलिस के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग
भाजपा नेता राजेंद्र कुमार ने आरोप लगाया कि सलोन कोतवाली में पुलिस ने उनके साथ मारपीट की। शनिवार को उनकी किसी से कहासुनी हो गई थी। पुलिस दोनों पक्षों को कोतवाली ले आई। यहां पुलिस ने आरोपी से पैसा लेकर उसको जाने दिया। इसके बाद पुलिस ने भाजपा नेता से दस हजार रुपए की मांग की। मांग पूरी न होने पर पुलिस ने कोतवाली के कंप्यूटर रूम में ले जाकर पट्‌टे से पिटाई कर दी। इसके बाद पुलिस ने उनको छोड़ दिया। अगले दिन भाजपा कार्यकर्ताओं ने कोतवाली का घेराव कर प्रदर्शन किया। साथ ही दोषी पुलिस कर्मी के खिलाफ केस दर्ज कर निलंबित करने की मांग की।

पिटाई से कोतवाली में बेहोश हो गए थे भाजपा नेता
भाजपा बूथ अध्यक्ष राजेंद्र ने आरोप लगाया कि, पैसे न मिलने पर कम्‍प्यूटर रूम में ले जाकर पट्टे से उनकी जमकर पिटाई कर दी। जिससे वो बेहोश हो गए। इसके बाद पुलिस यहीं नहीं रुकी। पुलिस ने उनके व उनकी पत्नी के खिलाफ ही रिपोर्ट तैयार की। पुलिस ने दोनों के खिलाफ शांति भंग में चालान कर एसडीएम न्यायालय को भेज दिया।

डिप्टी CM ने इस कार्यक्रम में रायबरेली को बताया था भाजपा का घर
कोतवाली में भाजपा कार्यकर्ताओं के हंगामे से अलग डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा रविवार को बछरावां नगर पंचायत सभागार में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करने पहुंचे थे। इस बीच उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोला। कहा कि, रायबरेली अब कांग्रेस का गढ़ नहीं रहा। यह अब भाजपा का घर बन गया है और यहां के सभी नागरिक परिवार के सदस्य हैं। रायबरेली की जनता ने जिला पंचायत अध्यक्ष पद जिताकर यह साबित कर दिया है कि रायबरेली अब भाजपा का घर है। न की कांग्रेस का गढ़। बिना नाम लिए गांधी परिवार पर तंज कसते हुए उन्होंने आगे कहा था कि एक ही परिवार ने यहां पर कई दशकों तक प्रतिनिधित्व किया है। उसके बावजूद भी रायबरेली विकास से कोसों दूर था। भाजपा सरकार ने अपने 4 साल के शासनकाल में रायबरेली का खूब विकास किया।

खबरें और भी हैं...