लखनऊ में कोरोना के बीच डायरिया का खतरा:लगातार तीसरे दिन बालू अड्डा में मिले 12 नए डायरिया से पीड़ित, अब तक 125 लोग बीमार- 50 अस्पताल में भर्ती; चिकित्सा शिक्षा मंत्री बोले- दोषियों पर होगी कार्रवाई

लखनऊएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लखनऊ के बालू अड्डा क्षेत्र का डीएम अभिषेक प्रकाश के साथ चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने मुआयना किया। - Dainik Bhaskar
लखनऊ के बालू अड्डा क्षेत्र का डीएम अभिषेक प्रकाश के साथ चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने मुआयना किया।

कोरोना महामारी के बीच मानसून के करवट लेते ही लखनऊ में डायरिया का खतरा मंडराने लगा है। बालू अड्डा क्षेत्र में दूषित पानी पीने से 2 की मौत के बाद प्रशासन भी नींद से जाग उठा। बुधवार को डीएम अभिषेक प्रकाश के साथ चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने इलाके का मुआयना किया। इस दौरान भारी संख्या में स्थानीय लोगों ने मंत्री को दिक्कतों से अवगत कराया।

चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने नगर आयुक्त को क्षेत्र की व्यापक साफ-सफाई, चूने का छिड़काव, सैनिटाइजेशन के साथ-साथ मौके पर उपस्थित रहकर समस्त आवश्यक व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही कहा कि 1 हफ्ते के अंदर डॉक्टरों की टीम का गठन कर क्षेत्र में तैनात करें। मंत्री ने जांच के बाद दोषियों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। बता दें, स्थानीय लोगों का दावा है कि पिछले 3 दिनों के अंदर करीब 125 लोग डायरिया से पीड़ित हैं। वहीं, करीब 50 पीड़ितों का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

एक दिन में 12 लोग बीमार, 50 अस्पताल में भर्ती
डायरिया से मृत हमजा (11 महीने) के पिता असगर अली ने बताया कि डीएम ने मुआवजे पर कोई गारंटी नहीं दी है। आज भी सुबह के करीब 12 लोग हॉस्पिटल में भर्ती हुए हैं। अब तक नगर निगम, जिला प्रशासन और जलकल की टीम आ चुकी है। मगर अभी तक कोई हल नहीं निकला है। लगातार तीसरे दिन भी लोग बीमार हो रहे हैं। वहीं, कुछ स्थानीय लोग मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बुलाने की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए।

डीएम अभिषेक प्रकाश ने इलाके का मुआयना किया।
डीएम अभिषेक प्रकाश ने इलाके का मुआयना किया।

मंत्री सुरेश खन्ना बोले- 1 हफ्ते में डॉक्टरों की टीम का गठन कर क्षेत्र में करें तैनात
चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने निरीक्षण के दौरान नगर आयुक्त को क्षेत्र की व्यापक साफ-सफाई, चूने का छिड़काव, सैनिटाइजेशन के साथ-साथ मौके पर उपस्थित रहकर समस्त आवश्यक व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही कहा कि 1 हफ्ते के अंदर डॉक्टरों की टीम का गठन कर क्षेत्र में तैनात करें। वहीं, मृतकों से परिवार से मिलकर सांत्वना व्यक्त की और कहा कि जांच में दोषी पाए गए लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

DM बोले- दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होगी
डीएम अभिषेक प्रकाश ने कहा कि मामले की जांच कराई जा रही है। पीड़ित परिवार को पूरी मदद हो इसके लिए प्रयास चल रहा है। पांच चीजों पर काम चल रहा है। इसमें स्वास्थ्य पर विशेष जोर है। ओआरएस और विटमिन सी दिया जा रहा है। उसके अलावा लोगों को जागृत किया जा रहा है। नई पाइप लाइन डालने के निर्देश दिया गया है। मामले में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होगी।

चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने मृतकों के परिजनों से मुलाकात की।
चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने मृतकों के परिजनों से मुलाकात की।

500 परिवारों पर डायरिया का खतरा, गंदे पानी के पीछे की वजह
जानकारों का कहना है कि सप्लाई का पानी और सीपर लाइन कहीं एक साथ संपर्क में आ गए हैं। इसकी वजह से बदबूदार सीवर युक्त पानी घरों में आ रहा है। बुधवार को ही नगर आयुक्त अजय कुमार द्विवेदी ने इलाके का निरिक्षण किया। उन्होंने कहा, सीवर की सभी लाइन चेक कराई जा रही है। उसकी जांच आने के बाद ही हम किसी को दोषी बता पाएंगे। फिलहाल, पूरे इलाके की सफाई कराने के साथ सीवर लाइन चेक कराई जा रही है।

आम आदमी पार्टी महानगर अध्यक्ष अमित श्रीवास्तव त्यागी कार्याकर्ताओं के साथ धरने पर बैठे।
आम आदमी पार्टी महानगर अध्यक्ष अमित श्रीवास्तव त्यागी कार्याकर्ताओं के साथ धरने पर बैठे।

पिछले 3 दिनों में 50 लोग भर्ती

  • 9 अगस्त - 25
  • 10 अगस्त- 15
  • 11 अगस्त - 10

अब तक 2 की मौत

  • हमजा (11 महीने )
  • विशाल राजभर (16 )
10 अगस्त को महापौर संयुक्ता भाटिया ने सिविल अस्पताल पहुंचकर डायरिया पीड़ितों का हाल जाना।
10 अगस्त को महापौर संयुक्ता भाटिया ने सिविल अस्पताल पहुंचकर डायरिया पीड़ितों का हाल जाना।

एक दिन पहले मेयर और कैबिनेट मंत्री बृजेश पाठक ने किया था निरिक्षण
वहीं, बीते दिन मंगलवार को नेताओं से लेकर अधिकारियों तक बालू अड्डे का दौरा करते रहे। क्षेत्रीय विधायक और यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री बृजेश पाठक ने भी बालू अड्डा क्षेत्र का निरीक्षण किया। वह उन लोगों से मिले, जिनके परिवार में मौत हुई थी और जो बीमार हैं। उन्होंने इलाके में साफ-सफाई और इलाज की व्यवस्था का निर्देश भी दिया और अधिकारियों से जवाब भी मांगा है। उधर, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद और महापौर संयुक्ता भाटिया ने सिविल अस्पताल पहुंचकर डायरिया पीड़ितों का हाल जाना था।

डायरिया से बचाव के उपाय

  • इससे बचने का सबसे उपयुक्त तरीका साफ पानी पीना है।
  • डायरिया में बच्चों को उबला हुआ पानी देना ज्यादा फायदेमंद है।
  • बाहर का खाना, फास्ट फूड और पैक्ड फूड का इस्तेमाल से बचें।
  • साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें।
  • शौच के बाद अच्छी तरह साबुन से हाथ धोएं।
  • पेट में दर्द की समस्या हो तो बिना देर करे चिकित्सक से सलाह लें।
खबरें और भी हैं...