चोरी का माल खरीदने वाले सर्राफ समेत छह चोर गिरफ्तार:लखनऊ में दर्जन भर चोरी की घटनाओं को दिया अंजाम, लाखों के जेवर व नकदी बरामद, बंद घरों व दुकानों को बनाते थे निशान

लखनऊ9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी चोर व सर्राफ। - Dainik Bhaskar
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी चोर व सर्राफ।

लखनऊ में बंद घरों को निशाना बनाने वाले तीन शातिर चोरों को ठाकुरगंज पुलिस ने गिरफ्तार किया है। वहीं चोरी का माल खरीदने वाले तीन सर्राफ को भी पकड़ा। यह जानकारी एडीसीपी पश्चिमी राजेश श्रीवास्तव ने दी। उन्होंने बताया कि चोर बंद घरों व दुकानों को निशाना बनता थे। फिर चोरी के सोने-चांदी के जेवर इन सर्राफ की दुकानों पर बेचते थे। इनके खिलाफ लखनऊ के विभिन्न थानों में दर्जन भर मामले दर्ज हैं। इनके अन्य जिलों के आपराधिक इतिहास का पता लगाया जा रहा है।
इंस्पेक्टर ठाकुरगंज सुनील कुमार दुबे ने बताया कि पुलिस टीम ने सोमवार को मुखबिर की सूचना पर रायबरेली जहानाबाद निवासी चोर मो. आरिफ और सीतापुर के महमूदाबाद निवासी इब्राहिम लोधी को गिरफ्तार किया गया। उसकी निशानदेही पर सीतापुर के महमूदाबाद निवासी साथी तालिब को पकड़ा गया। पूछताछ में पता चला कि इन लोगों ने लखनऊ में कई घरों व दुकानों में चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया है। इन्होंने बताया चोरी के जेवर सीतापुर के रामपुर मथुरा के रहने वाले सर्राफ प्रवीण गुप्ता व मदन सोनी और लखनऊ अलीगंज निवासी सर्राफ विष्णु रस्तोगी को बेचते थे। पुलिस टीम ने इन लोगों की निशानदेही से तीनों सुनारों को भी गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से लाखों की कीमत के जेवर व नकदी बरामद हुई है।
किराए के मकान में रहकर दे रहे थे चोरी की घटनाओं को अंजाम
पुलिस के मुताबिक यह तीनों शातिर चोर लखनऊ में किराए के मकानों में रहकर चोरी की घटनाओं को अंजाम देते थे। चोरी की घटना करने के बाद अपने घर चले जाते थे और कुछ दिन बाद शहर वापस लौटते थे। यह लोग दिन में स्कूटी से बंद घरों व दुकानों की रेकी करते थे। फिर मौका पाकर चोरी की घटनाओं को अंजाम देते थे। इंस्पेक्टर सुनील कुमार दुबे के मुताबिक चोर आरिफ ठाकुरगंज मुफ्तीनगर में, इब्राहिम व तालिब खुर्रमनगर में रह रहे थे। इन्हीं क्षेत्रों में सबसे ज्यादा चोरी की। इन थाना क्षेत्रों में इनके खिलाफ 18 मामले दर्ज हैं।
यह हुआ बरामद

चोरों व सर्राफ से बरामद चोरी का सामान।
चोरों व सर्राफ से बरामद चोरी का सामान।

1.54 लाख रुपये नकद, सोने की अंगूठी, झुमकी, मांगबेंदी, दो जोड़ी कान के टप्स, चांदी के जेवरात, नौ ग्राम गला हुआ सोना, चोरी में इस्तेमाल की जा रही स्कूटी।