पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नहीं बन पाए प्रमाण पत्र:तबादले के विरोध में हुए कार्य बहिष्कार के कारण यूपी के किसी भी जिले में नहीं बने दिव्यांग प्रमाण पत्र

लखनऊ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कार्य बहिष्कार के कारण नहीं बन पाए प्रमाण पत्र। - Dainik Bhaskar
कार्य बहिष्कार के कारण नहीं बन पाए प्रमाण पत्र।

स्वास्थ्य विभाग कर्मचारियों के कार्य बहिष्कार के कारण सोमवार को पूरे यूपी में एक भी दिव्यांग प्रमाण पत्र नहीं बन पाया। यूपी मेडिकल एंड पब्लिक हेल्थ मिनिस्ट्रियल एसोसिएशन ने यह दावा किया है। दरअसल, स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी पूरे प्रदेश में 10 से 4 बजे तक कार्य बहिष्कार में थे। उसकी वजह से यह समस्या आई है।

एसोसिएशन के प्रांतीय अध्यक्ष प्रेम कुमार सिंह ने बताया कि प्रदेश के सौ से अधिक दिव्यांग को स्थानांतरित किए जाने के विरोध में पूरे प्रदेश में दिव्यांग प्रमाण पत्र लिपिकों द्वारा नहीं बनाए गए। उन्होंने कहा कि निदेशक प्रशासन, चिकित्सा स्वास्थ्य डॉ0 राजा गणपति की नजर में दिव्यांग प्रमाण पत्रों का कोई औचित्य नहीं है इसलिए प्रमाण पत्र नहीं बनाए जाएंगे।

साफ्टवेयर की तैनाती गलत

प्रेम कुमार सिंह ने बताया कि डॉ0 राजा गणपति निदेशक प्रशासन चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने विभिन्न माध्यम से बयान दिया है कि स्थानांतरण सॉफ्टवेयर के माध्यम से किए गए हैं। मैं जानना चाहता हूं कि ऐसा कौन सा सॉफ्टवेयर है जो महिलाओं की एक हजार की दूरी पर और पुरुषों को सौ किलोमीटर की दूरी पर तैनात करता है, यह उनके द्वारा निर्मित भ्रष्टाचार का सॉफ्टवेयर है।

उन्होंने कहा कि निदेशक प्रशासन चिकित्सा एवं स्वास्थ्य डॉ राजा गणपति ने मुख्यमंत्री एवं स्वास्थ्य मंत्री की महिला सशक्तिकरण नीति एवं दिव्यांग कल्याण नीति की छवि को ठेस पहुंचाई है। अतः इनका निलंबन कर जांच एवं तीनों स्थानांतरण सूची को निरस्त करने की मांग संगठन द्वारा की जाती है।

खबरें और भी हैं...