पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

UP में एक रात में तीन एनकाउंटर:लखनऊ में देर रात डकैतों ने पुलिस टीम पर हमला किया, मुठभेड़ में नौ गिरफ्तार; कौशांबी में गो-तस्कर और बरेली में गैंगरेप का आरोपी दबोचा गया

लखनऊ2 महीने पहले
पुलिस के रोकने पर तीन बाइक सवार बदमाशों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, पुलिस की जवाबी कार्रवाई में नौ पकड़े गए।

उत्तर प्रदेश की पुलिस इन दिनों ठोको नीती अपनाकर बदमाशों पर शिकंजा कसती नजर आ रही है। इसी कड़ी में सोमवार देर रात यूपी में तीन जगह मुठभेड़ में पुलिस ने आरोपियों को दबोचा। करीब 2 बजे राजधानी लखनऊ की गाजीपुर थाना पुलिस ने पालीटेक्निक चौराहे के पास डकैती की वारदात में वांछित नौ बदमाशों को मुठभेड़ में दबोचा। वहीं, कौशांबी में गो-तस्कर व बरेली में गैंगरेप के एक आरोपी को एनकाउंटर में पकड़ा गया।

लखनऊ पुलिस टीम पर ताबड़तोड़ फायरिंग, जवाबी कार्रवाई में नौ अरेस्ट
दरअसल, लखनऊ की गाजीपुर थाना पुलिस को करीब रात दो बजे मुखबिर से सूचना मिली कि बीते एक मार्च को संजय गांधी पुरम में एक कोरियर कंपनी में डकैती की घटना में वांछित बदमाशों का चेहरा घूम रहे, इन बदमाशों से मिलता है। तीन बाइकों पर सवार सभी बदमाश मुंशी पुलिया की तरफ से आ रहे थे। तभी मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की। इसपर बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में नौ बदमाश पकड़े गए। इंस्पेक्टर गाजीपुर प्रशांत मिश्र ने बताया कि पुलिस टीम के किसी सदस्य को चोट नहीं आई है। बदमाशों की तीनों मोटरसाइकिलें और 4 तमंचा बरामद कर लिए गए हैं। बदमाशों की शिनाख्त हो रही है, अभी पुलिस ने उनके नाम नहीं बताए हैं।

बदमाशों की तीनों मोटरसाइकिलें और 4 तमंचा बरामद कर लिए गए हैं।
बदमाशों की तीनों मोटरसाइकिलें और 4 तमंचा बरामद कर लिए गए हैं।

किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे
एडीसीपी नॉर्थ प्राची सिंह ने बताया कि गाजीपुर थाने की पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने सर्विस लेन पर बदमाशों का पीछा करते हुए पॉलिटेक्निक चौराहे पर पहुंची। रोकने के प्रयास पर बदमाशों की फायरिंग में गाजीपुर पुलिस जीप पर गोली लगी। पुलिस की जवाबी फायरिंग में नौ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। किसी के भी घायल होने की सूचना नहीं है। मौके से सभी का मेडिकल कराने के लिए भेजा गया है और इनके बारे में अन्य जानकारी उपलब्ध कराई जा रही है। गिरफ्तार आरोपियों का अपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है।

कौशांबी में गो-तस्कर दबोचा गया
उधर, बीती रात ही उत्तर प्रदेश के कौशांबी जिले में कोखराज पुलिस की गो-तस्कर अजमेरी से मुठभेड़ हो गई। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में उसके पैर में गोली लगी, इसके बाद उसे दबोच लिया गया। उस पर 25 हजार का इनाम था। जिले के अलग-अलग थानों में उस पर पशु तस्करी के 40 मामले दर्ज हैं। पुलिस को उसकी तलाश लंबे समय से थी, लेकिन वह चकमा देकर भाग जाता था। पुलिस ने उसे संयुक्त जिला अस्पताल में भर्ती करवाया है।

बरेली में गैंगरेप के दो आरोपी गिरफ्तार
बीती रात बरेली पुलिस ने गैंगरेप के एक आरोपी को मुठभेड़ में व दूसरे को दबिश देकर गिरफ्तार किया है। दोनों युवकों को इज्जतनगर थाने में रखा गया। पुलिस के मुताबिक, इज्जतनगर पुलिस आरोपियों को धरपकड़ के लिए इनदिनों लगातार दबिश दे रही है। पुलिस को आरोपी अमित पटेल पुत्र विक्रम सिंह के मल्हपुर के जंगल में होने की सूचना मिली थी। दबिश देकर अमित को गिरफ्तार किया गया। जिसके पास से एक अवैध तमंचा और दो जिंदा कारतूस बरामद किया गया। वहीं, एक अन्य विकास पटेल पुत्र पप्पू गांव धीमरी को मुठभेड़ में दबोचा। इसके पास से एक अवैध तमंचा, दो कारतूस बरामद।

गोरखपुर का परवेज एनकांटर
बता दें, बीती 4 जून को एसटीएफ ने अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन व खान मुबारक के दाहिना हाथ कहे जाने वाले परवेज अहमद को मार गिराया था। वह नकहा इलाके के सफेदपोश से मीटिंग करने बाइक से निकला। तभी एसटीएफ ने उसे ढेर किया। गोरखपुर नकली नोटों के कारोबार का भी बादशाह कहा जाता था। अंडरवर्ल्ड डॉन खान मुबारक के इशारे पर गोलियां बरसाने वाला परवेज अक्टूबर 2018 में अंबेडरनगर जिले के BSP नेता जुगाराम मेंहदी की हत्या करके फरार हुआ था। इसके बाद पुलिस ने उस पर एक लाख रुपए का इनाम घोषित किया था।

खबरें और भी हैं...