नतीजे से पहले नेता बना रहे माहौल:केशव ने कहा- नई हवा है, सपा सफा है, अखिलेश बोले- बेखबर से हो गए हैं कुछ खबरनवीस

लखनऊएक वर्ष पहले

उत्तर प्रदेश में नतीजों में पहले नेता माहौल बनाने में लगे हैं। किसी को ईवीएम पर शक है तो कोई अपनी जीत को लेकर सुनिश्चित है। सिर्फ यही नहीं, कोई अपने समर्थकों को ईवीएम पर नजर रखने की सलाह दे रहा है। मंगलवार को अखिलेश की प्रेस कॉफ्रेंस के बाद नतीजों से पहले ही जबरदस्त सरगर्मी बढ़ गई। जगह-जगह ईवीएम की सुरक्षा को लेकर हंगामा और बवाल शुरू हो गया। सपा का शक इस कदर बढ़ गया कि कौशांबी में डीएम की गाड़ी तो कानपुर में कैश लेकर जा रही गाड़ी को रुकवाकर चेकिंग कर दी। चलिए आपको पढ़ाते हैं कौन क्या कह रहा है....

ये रही दिन भर की नेताओं की बयानबाजी

अखिलेश यादव ने ट्वीट कर पार्टी के कार्यकर्ताओं से मतगणना स्थल पर रहने की अपील की। उन्होंने कहा कि मतगणना केंद्रों को 'लोकतंत्र का तीर्थ' समझकर वहां जाएं और डटे रहें। अखिलेश यादव ने ट्वीट में आगे लिखा कि सत्ता पक्ष द्वारा चुनाव परिणाम में हेराफेरी की हर साजिश को असंभव बना दें! साथ ही उन्होंने सपा गठबंधन की जीत का दावा किया। उन्होंने कहा कि यूपी चुनाव में सपा गठबंधन की जीत हो रही है, तभी तो भाजपाई धांधली की कोशिश कर रहे हैं।

वहीं, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का कहना है कि लोकतंत्र बचा है और बचेगा। सपा और गुंडागर्दी नहीं बचेगी।

अखिलेश यादव के बाद विपक्ष के नेता और PSPL के मुखिया शिवपाल सिंह याद का भी ट्वीट सामने आया है। उन्होंने ट्वीट कर मताधिकारियों से कहा कि सभी वहां सजगता और सतर्कता के साथ मतगणना की ड्यूटी पर डटे रहें।

स्वतंत्र देव सिंह ने कहा विपक्ष EVM को दोष दे रहा

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने EVM की हलचल पर जवाब देते हुए ट्वीट कर लिखा, 'ठंडा हो गया माफियावादियों का जोश, रात-दिन अब बस देना है EVM को दोष!'

बीते दिन वाराणसी में ट्रक में भरी EVM पकड़े जाने के आरोप लगाए जा रहे थे। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके गंभीर आरोप लगाए थे। अखिलेश यादव ने प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ पर आरोप लगाते हुए कहा कि वाराणसी में ट्रक में EVM ले जाई जा रहीं थीं। एक ट्रक पकड़ा गया जबकि दो ट्रक भाग गए। अखिलेश ने कहा कि अगर सरकार वोट की चोरी नहीं कर रही तो सरकार बताए कि वो 2 ट्रक कहां गए ? उन्होंने CM योगी पर आरोप लगाए हैं। जिसमें उन्होंने कहा कि सरकार बताए कि सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए बिना इतनी EVM कहां ले जाई जा रही हैं।

अखिलेश यादव की प्रेस कांफ्रेंस के बाद से ट्विटर पर भी पक्ष विपक्ष के नेताओं के EVM और मतगणना को ले कर लगातार ट्वीट आ रहे हैं।

ओपी राजभर ने कहा भाजपा यूपी हार रही

SBSP अध्यक्ष ओपी राजभर ने मीडिया को बयान देते हुए कहा कि EVM चोरी से निकाली गई और अगर BJP ने चोरी से ईवीएम नहीं निकाली, तो प्रत्याशी को पता होना चाहिए था कि EVM को इधर से उधर क्यों किया जा रहा था। एग्जिट पोल कई बार झूठे भी साबित होते हैं। यूपी में BJP हारेगी।

वहीं EVM पर सवालों के बीच पूर्वी उत्तर प्रदेश के चंदौली में खुले में VVPAT की पर्चियां मिलने से हड़कंप मचा हुआ है। खुले में VVPAT की पर्चियों को मिलने के बाद चंदौली जिले की सैयदराजा विधानसभा सीट से बसपा प्रत्याशी अमित यादव ने इस पूरे प्रकरण की जांच की मांग की है। साथ ही साथ उन्होंने सैयदराजा में दोबारा चुनाव की भी मांग की है।

अमित यादव का आरोप है कि VVPAT की पर्चियां उनको सैयदराजा विधानसभा के अमादपुर पोलिंग बूथ के पास फेंकी हुई मिली थी। इस मामले के सामने आते ही BSP के कार्यकर्ता आक्रोशित हो गए। BSP प्रत्याशी अमित यादव ने कहा कि उन्हें जो पर्चियां मिली थी उनमें सपा, बसपा सहित कई अन्य दलों की VVPAT पर्चियां हैं, लेकिन इनमें BJP से संबंधित कोई भी VVPAT की पर्ची नहीं है। आरोप लगाते हुए BSP के प्रत्याशी अपने समर्थकों के साथ धरने पर बैठ गए और दोबारा चुनाव कराने की मांग की है।