NDA की राष्ट्रपति उम्मीदवार पर फिल्म निर्माता का ट्वीट:लिखा- यदि द्रौपदी राष्ट्रपति हैं तो पांडव कौन हैं?, लखनऊ में समाजसेवी ने दर्ज कराया मुकदमा

लखनऊ5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फिल्म निर्माता रामगोपाल वर्मा के ट्वीट पर लखनऊ हजरतगंज में की गई थी शिकायत। - Dainik Bhaskar
फिल्म निर्माता रामगोपाल वर्मा के ट्वीट पर लखनऊ हजरतगंज में की गई थी शिकायत।

लखनऊ में फिल्म निर्माता राम गोपाल वर्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है। समाजसेवी मनोज सिंह ने हजरतगंज कोतवाली में शनिवार को ट्वीट के आधार पर तहरीर दी थी। रविवार को साक्ष्यों के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया। उनका आरोप था कि ट्वीट में राम गोपाल वर्मा ने द्रौपदी नाम को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की है।

फिल्म निर्माता राम गोपाल वर्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने वाले मनोज सिंंह।
फिल्म निर्माता राम गोपाल वर्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने वाले मनोज सिंंह।

धार्मिक और सामाजिक दोनों तौर पर ट्वीट की भाषा गलत- मनोज सिंह

गुडंबा थाना क्षेत्र के अर्जुन इंक्लेव फेस दो कुर्सी रोड निवासी मनोज कुमार सिंह समाजसेवी है। उन्होंने पिछले दिनों पुराने लखनऊ में भगवा यात्रा की अगुवानी की थी। उनका कहना है कि 22 जून को रात 11:35 बजे प्रसिद्ध फिल्म निर्माता राम गोपाल वर्मा ने अपने ट्विटर हैंडल @RGVzoomin से If DRAUPADI is the PRESIDENT who are the PANDAVAS? And more importently, who are the KAURAVAS? ट्वीट किया। ( यदि द्रौपदी राष्ट्रपति हैं तो पांडव कौन हैं? और इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि कौरव कौन हैं? ) जिससे साफ है कि उन्होंने एनडीए प्रत्याशी के नाम को जोड़कर अभद्र टिप्पणी की। जिससे धार्मिक और सामाजिक दोनों तौर पर गलत है। इस समय राष्ट्रपति चुनाव होने को हैं। राष्ट्रपति चुनाव में प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू हैं। ऐसे समय में जानबूझ कर इस तरह का ट्वीट करना ठीक नहीं है।

यह ट्वीट फिल्म निर्माता राम गोपाल वर्मा के ट्विटर हैंडल से लिया गया है।
यह ट्वीट फिल्म निर्माता राम गोपाल वर्मा के ट्विटर हैंडल से लिया गया है।

ट्वीट के आधार पर जांच शुरू
एडीसीपी मध्य राघवेंद्र मिश्रा ने बताया कि मनोज सिंह की तहरीर पर ट्वीट के आधार पर फिल्म निर्माता राम गोपाल वर्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। उनका आरोप है कि ट्वीट से एक महिला के साथ धर्म को निशाना बनाया गया है। ट्वीटर के माध्यम से धार्मिक भावनाओं को चोट पहुंचाते हुए कौरवों और पांडवों को गलत ढंग से प्रस्तुत किया। मनोज से ट्वीट से जुड़े साक्ष्य ले लिए गए हैं। मामले की जांच शुरू कर दी गई है।