सपा कार्यालय में मना पर्यावरण दिवस:पूर्व CM अखिलेश यादव का BJP सरकार पर तंज, कहा- पेड़ों की आड़ में भी भाजपा ने जमकर की पैसे की बंदरबांट, आज तक नहीं दिया हिसाब

लखनऊ7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार जबसे सत्ता में आई है पर्यावरण को सबसे ज्यादा क्षति पहुंची है। - Dainik Bhaskar
अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार जबसे सत्ता में आई है पर्यावरण को सबसे ज्यादा क्षति पहुंची है।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने सरकार पर तंज कसते हुए कहा है कि सरकार 30 करोड़ पौधे लगवाने का दावा कर रही है लेकिन सरकार के नुमाइंदों ने पेड़ों की आड़ में भी पैसे की जमकर बंदरबांट की है। सरकार आज तक इस बात का हिसाब नहीं दे पायी कि उसके शासनकाल में कितने पौधे लगाए गए हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पर्यावरण दिवस के मौके पर यह बातें कही। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार जबसे सत्ता में आई है पर्यावरण को सबसे ज्यादा क्षति पहुंची है। वन संपदा पर संकट के बादल मडरा रहे हैं। प्रकृति का असंतुलन बढ़ता गया है। फलतः वातावरण में गर्मी बढ़ रही है, तमाम उपयोगी संसाधनों का अभाव हो रहा है तथा ऋतु चक्र में भी बदलाव परिलक्षित हो रहा है।

सपा के मुखिया ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार हर वर्ष वृक्षारोपण अभियान चलाती है लेकिन आज तक इस बात का ब्यौरा नहीं दे पाई है कि कहां कितने वृक्ष उसके शासनकाल में लगे। इनमें कितने पौधे बचे? वस्तुतः भाजपा सरकार ने पेड़ों की आड़ में बजट का बंदरबांट जमकर किया है। पर्यावरण संरक्षण के बारे में भाजपा जहां झूठे दावे करती आई है और फाइलों में पेड़ उगाती रही है वहीं समाजवादी सरकार में पर्यावरण की दिशा में ठोस कदम उठाए गए थे।

सपा सरकार में बना था गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड

अखिलेश यादव ने कहा कि, समाजवादी पार्टी के समय वृहद वृक्षारोपण का गिनीज बुक में विश्व रिकार्ड, बुंदेलखंड में जल संरक्षक तालाब एवं हरित पार्कों का विकास किया गया। कार्बन उत्सर्जन तथा प्रदूषण से बचाव के लिए समाजवादी सरकार में साइकिल सवारी को विशेष प्रोत्साहन देने हेतु साइकिल ट्रैक बनवाए गए। सुरक्षित और सुगम यातायात के लिए करोड़ों रुपए से लखनऊ एवं उन्नाव-शुक्लागंज में बने साइकिल ट्रैक को भाजपा ने राजनीतिक द्वेष से बर्बाद कर दिया।

खबरें और भी हैं...