पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर 50 घंटे से हाउस अरेस्ट:UP DGP को लिखी चिट्‌ठी, कहा- 28 को अयोध्या और 29 को गोरखपुर जाऊंगा, रिटायर्ड IAS एसपी सिंह ने भी सरकार पर निशाना साधा

लखनऊ5 महीने पहले
अमिताभ ठाकुर ने घर के बाहर पुलिस फोर्स तैनात है। पुलिस कर्मियों से बात करतीं पूर्व आईपीएस की पत्नी नूतन ठाकुर।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुके पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर पिछले 50 घंटे से हाउस अरेस्ट हैं। उनके घर के सामने पुलिस का पहरा है। 21 अगस्त को अमिताभ ठाकुर गोरखपुर जा रहे थे, तभी उन्हें कानून-व्यवस्था का हवाला देकर पुलिस ने रोक लिया था। वहीं, सुप्रीम कोर्ट के सामने आत्मदाह का प्रयास करने वाली लड़की के आरोपों की जांच कर रही टीम आज अमिताभ ठाकुर से पूछताछ करने वाली थी। लेकिन अब उन्हें मंगलवार को तलब किया गया है।

DGP को नया लेटर- 28 को रामलला का दर्शन करूंगा
21 अगस्त को अमिताभ ठाकुर सीएम योगी के गृह जनपद गोरखपुर जाने वाले थे। वह सुबह 7 बजे अपने गोमतीनगर स्थित आवास से जैसे ही निकले, पुलिस ने रोक लिया था। तभी से उन्हें हाउस अरेस्ट रखा गया है। अमिताभ ठाकुर का कहना है कि यह लोकतांत्रिक व्यवस्था की हत्या है। पुलिस जिन आरोपों का हवाला देकर उन्हें हाउस अरेस्ट में रखे हुए है, उसमें या तो उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाए या वैधानिक तरीके से मामले की जांच करे। इस तरह नजरबंद करके रखना सरकार की तानाशाही का उदाहरण है।

डीजीपी के नाम नई चिट्‌ठी।
डीजीपी के नाम नई चिट्‌ठी।

अमिताभ ठाकुर ने सोमवार को एक और लेटर डीजीपी के नाम जारी किया है। जिसमें उन्होंने कहा, वे 28 अगस्त को अयोध्या और 29 अगस्त को गोरखपुर में होने वाले कार्यक्रम में शामिल होंगे और उसी दिन लौट आएंगे। अयोध्या में हनुमानगढ़ी और रामलला दर्शन का कार्यक्रम है। इसके अलावा कार्यकर्ता सम्मेलन भी है। जबकि गोरखपुर में गोरखनाथ मंदिर दर्शन और कार्यकर्ता सम्मेलन में शामिल होंगे। पिछली बार जानबूझकर एक बहानेबाजी के आधार पर दौरे को रद्द करवा दिया था। इस बाद पहले से सूचना दे रहा हूं।

बाएं तरफ की फोटो अमिताभ ठाकुर के घर के बाहर की है। दाएं तरफ की फोटो में अमिताभ ठाकुर की पत्नी नूतन ठाकुर पुलिस वालों से बात करते हुए।
बाएं तरफ की फोटो अमिताभ ठाकुर के घर के बाहर की है। दाएं तरफ की फोटो में अमिताभ ठाकुर की पत्नी नूतन ठाकुर पुलिस वालों से बात करते हुए।

रेप पीड़िता ने लगाया था गंभीर आरोप

मऊ की घोसी सीट से सांसद अतुल राय के खिलाफ रेप का केस दर्ज कराने वाली युवती ने 16 अगस्त को केस के गवाह के साथ सुप्रीम कोर्ट के बाहर आत्मदाह का प्रयास किया था। इस दौरान उसने फेसबुक लाइव किया था। जिसमें अतुल राय को बचाने के लिए उनका साथ देने को लेकर अमिताभ ठाकुर पर भी गंभीर आरोप लगाए थे। इसकी जांच के लिए शासन ने दो सीनियर आईपीएस की कमेटी बनाई गई है। इस कमेटी के सामने अमिताभ को अपना बयान दर्ज करवाना है। 21 अगस्त को अमिताभ के नजरबंद किए जाने के कुछ देर बाद ही पीड़िता के सहयोगी ने दिल्ली के अस्पताल में दम तोड़ दिया। इसके बाद से मामला और गंभीर हो गया है।

सूर्य प्रताप सिंह ने सरकार से पूछा- अमिताभ के साथ ऐसा व्यवहार क्यों?

पूर्व आईपीएस सूर्य प्रताप सिंह ने अमिताभ ठाकुर और उनकी पत्नी नूतन ठाकुर का साथ देने का वादा किया है।
पूर्व आईपीएस सूर्य प्रताप सिंह ने अमिताभ ठाकुर और उनकी पत्नी नूतन ठाकुर का साथ देने का वादा किया है।

अमिताभ ठाकुर ने घर के बाहर तैनात पुलिस की तस्वीर शेयर करते हुए एक ट्वीट किया है। इसमे उन्होंने लखनऊ पुलिस को धन्यवाद लिखा है। इस पर सरकार विरोधी तमाम कमेंट आ रहे हैं। रिटायर्ड IAS एसपी सिंह ने भी कमेंट किया है। उन्होंने लिखा, अमिताभ के साथ इस तरह का व्यवहार क्यों, लोकतंत्र व अभिव्यक्ति की आजादी की दुहाई देने वाली योगी सरकार को क्या यह शोभा देता है? वह अमिताभ ठाकुर के साथ खड़े हैं।

खबरें और भी हैं...