• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Gomtinagar Extension Police Station Arrested Three Accused, Two Rifles, One Revolver And Cartridges Were Recovered From The Car, Demanding Five Lakh Rupees Ransom From The Wife

लखनऊ में प्रॉपर्टी डीलर का अपहरण:बंधक बनाकर सात घंटे तक चलती गाड़ी में पीटते रहे बदमाश, पत्नी से 5 लाख की फिरौती मांगी; पुलिस ने 3 आरोपियों को पकड़ा

लखनऊ3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजधानी लखनऊ में बदमाशों ने दिनदहाड़े एक प्रॉपर्टी डीलर को सदर तहसील के सामने से अगवा कर लिया। इसके बाद उसे चलती गाड़ी में बंधक बनाकर पीटते रहे। बदमाशों ने प्रॉपर्टी डीलर की पत्नी से 5 लाख की फिरौती मांगी। न देने पर जान से मारने की धमकी भी दी। अपहरण की सूचना मिलने के बाद पुलिस हरकत में आई। पुलिस ने इलाके की नाकाबंदी कर अपहरण के 7 घंटे के बाद रात करीब 10 बजे तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर प्रॉपर्टी डीलर को मुक्त कराया। एक आरोपी मौके से भागने में कामयाब रहा।

पुलिस की शुरुआती जांच में पूरा विवाद रुपयों के लेनदेन का सामने आया है। अपहरणकर्ताओं की गाड़ी से पुलिस ने दो राइफल, एक रिवाल्वर और 29 कारतूस बरामद किए हैं। पुलिस फरार आरोपी की तलाश में दबिश दे रही है।

चलती गाड़ी में बंधक बनाकर पीटा
मलेशेमऊ की रहने वाली सहाना ने बताया कि उनके पति मो. हसीन शुक्रवार सुबह 10 बजे तहसील जाने के लिए घर से निकले थे। जहां से दोपहर 3 बजे के बाद लौटते वक्त उनका अपहरण कर लिया गया। उसके बाद 5 लाख की फिरौती का फोन आया। काफी देर कोई सुराग न मिलने पर पुलिस से संपर्क किया।

पीड़ित मो. हसीन के मुताबिक आरोपियों ने अगवा करने के बाद चलती गाड़ी में बंधक बनाकर मारपीट की। घटना के दौरान आरोपियों ने गाड़ी को कहीं एक जगह नहीं रोका। वह शहीद पथ होते हुए गोमतीनगर इलाके में ही गाड़ी घुमाते रहे। इस दौरान आरोपियों ने पत्नी सहाना को फोन करवा कर 5 लाख रुपए की डिमांड भी की। इसके बाद कमता तिराहे पर स्थित एक पेट्रोल पंप के पास फिरौती की रकम लाने को कहा।

इसी गाड़ी से प्रॉपर्टी डीलर का अपहरण हुआ था।
इसी गाड़ी से प्रॉपर्टी डीलर का अपहरण हुआ था।

जमीन की बिक्री के पैसों को लेकर था विवाद

गोमतीनगर थाना विस्तार प्रभारी निरीक्षक राजेश कुमार ने बताया कि मो. हसीन की पत्नी सहाना की सूचना पर प्रॉपर्टी डीलर की तलाश के लिए आरोपियों के नंबर सर्विलांस पर लेने के साथ ही लखनऊ पूर्वी जोन के सभी थानों में चेकिंग शुरू कर दी गई।

शुक्रवार रात करीब 10 बजे विभूतिखंड मंडी परिषद के पास से घेराबंदी कर आरोपियों को पकड़कर प्रॉपर्टी डीलर को बचा लिया गया। पुलिस टीम ने मौके से चिनहट मटियारी निवासी अभय कुमार श्रीवास्तव, प्रतापगढ़ के राम मिलन सिंह और विभूतिखंड के धीरेंद्र यादव को गिरफ्तार किया। वहीं, कानपुर देहात निवासी चालक बलवीर सिंह भागने में कामयाब रहा।

विवाद बढ़ने पर किया अगवा

पुलिस जांच में सामने आया है कि मटियारी के रहने वाले प्रॉपर्टी डीलर अभय श्रीवास्तव और मो. हसीन के बीच एक जमीन की बिक्री के पैसे को लेकर विवाद हुआ था। शुक्रवार दोपहर 3 बजे पैसों के लेनदेन को लेकर तहसील के सामने दोनों लोग मिले थे। जहां विवाद बढ़ने पर अभय ने साथियों के साथ मिलकर मोहम्मद हसीन को अगवा कर लिया।

खबरें और भी हैं...