लखनऊ में लॉकडाउन के दूसरे दिन का हाल / प्रशासन की सख्ती के बावजूद सब्जी और किराने की दुकानों पर लग रही भीड़: प्रशासन ने की कवायद, मॉल और ग्रोसरी स्टोरों से होगी होम डिलीवरी

: Home delivery from malls and grocery stores, will deliver eight thousand items
: Home delivery from malls and grocery stores, will deliver eight thousand items
: Home delivery from malls and grocery stores, will deliver eight thousand items
X
: Home delivery from malls and grocery stores, will deliver eight thousand items
: Home delivery from malls and grocery stores, will deliver eight thousand items
: Home delivery from malls and grocery stores, will deliver eight thousand items

  • राजधानी में लॉकडाउन के दौरान आम लोगों को आवश्यक सामानों की आपूर्ति के लिए प्रशासन ने सभी मॉल, स्टोर और दुकानों को होम डिलीवरी करने की अनुमति दी
  • वरिष्ठ अधिकारियों की अध्यक्षता में अलग-अलग समितियां बना दी गई हैं। ई-कॉमर्स कंपनियों के साथ ही दवा विक्रेताओं से होम डिलीवरी कराने की व्यवस्था भी की जा रही 

दैनिक भास्कर

Mar 26, 2020, 03:37 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में 21 दिन के लॉकडाउन के एलान के बाद राशन और सब्जियों की दुकानों पर रोज सुबह भीड़ देखी जा रही है। लोगों पर प्रशासन की सख्ती का असर नहीं दिख रहा है। इस बीच प्रशासन की तरफ से घर-घर खाद्यान्न सामग्री पहुंचने की कवायद शुरू कर दी गई है। लखनऊ में आवश्यक वस्तुओं की होम डिलीवरी ऑनलाइन,एप व ऑन कॉल और 62 केंद्रों के माध्यम से 8065 से अधिक डिलीवरी मैन लगाए गए हैं। वहीं जनता की सहूलियत के लिए बुधवार को राज्य सरकार ने कोरोना एक्शन प्लान बनाया है। शासन के वरिष्ठ अधिकारियों की अध्यक्षता में अलग-अलग समितियां बना दी गई हैं। ई-कॉमर्स कंपनियों के साथ ही दवा विक्रेताओं से होम डिलीवरी कराने की व्यवस्था भी की जा रही है।

11 बजे रात खुलेगी दुकानें, होम डिलीवरी पर जोर
राजधानी में लॉकडाउन के दौरान आम लोगों को आवश्यक सामानों की आपूर्ति के लिए प्रशासन ने शहर के सभी मॉल, स्टोर और दुकानों को होम डिलीवरी करने की अनुमति प्रदान कर दी है। बाजारों में अनावश्यक भीड़ रोकने के लिए प्रशासन ने किराना, दवा और सब्जी की दुकानों को सुबह छह बजे से रात 11 बजे तक खोलने के निर्देश दिए हैं। सीएम योगी ने आज सुबह बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि, मंडी समितियां गेहूं, चावल, दाल, आलू और दूध आदि के उठान की व्यवस्था करें।

 ई-कॉमर्स कंपनियां जैसे बिग बाजार, मेगा मार्ट आदि के लोग होम डिलीवरी करें, जिससे लोगों को घर पर ही सुविधाएं मिल सकें। स्वास्थ्य विभाग दवा विक्रेताओं से समन्वय कर जरूरतमंदों को होम डिलीवरी के माध्यम से दवा उपलब्ध कराने का कार्य करें। कालाबाजारी, जमाखोरी और मुनाफाखोरी करने वालों के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी। दुकानों पर एक समय में दो से अधिक व्यक्ति न रहें।

एमडीएम की रसोइयों में बनेगा रैन बसेरों के लिए खाना
 रैन बसेरों और धर्मशालाओं में रहने वाले लोगों के लिए कुक्ड फूड की व्यवस्था करने के निर्देश मुख्यमंत्री ने दिए हैं। इसके लिए मिड डे मील के रसोइयों का उपयोग होगा। फैमिली बाजार, स्टोर, बिगबाजार, जैसे स्टोर खुल सकेंगे: किराना, सब्जी और दवा की दुकानें को सुबह छह से रात 11 तक खुलने की अनुमति शहर के सात स्टेशनों से 24 घंटे मिलेगी सीएनजी आवश्यक सेवाओं में लगे वाहनों को सीएनजी की किल्लत न हो इसलिए ग्रीन गैस लिमिटेड ने सात पंपों को संचालित करने का फैसला लिया है। 

ग्रीन गैस के एमडी संजीव मेंधी के मुताबिक, हमारी टीम प्रशासन के साथ हर समय तैयार है। शहर के अलग-अलग सात इलाकों में अमौसी, वृंदावन सेक्टर 18, गोमतीनगर मदर स्टेशन, बुद्धेश्वर चौराहा, पंकज फिलिंग स्टेशन और इंदिरा फिलिंग स्टेशन से 24 घंटे सीएनजी मिलेगी। 

डीएम अभिषेक प्रकाश ने बताया कि लोग घरों से न निकलें और उनको आसानी से जरूरी सामान उपलब्ध हो, इसलिए व्यवस्था की जा रही है। केवल कर्मचारी और डिलीवरी मैन को स्टोर में आने की अनुमति होगी। सीधा बिक्री होती है तो फिर स्टोर संचालक के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। सभी छोटी राशन, सब्जी और दवा की दुकानें सुबह से देर रात तक खोली जाएंगी। कोई भी सामान बाजार दर से अधिक दरों पर नहीं बेचेगा। शिकायत मिली तो संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना