• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • In Connection With Business, 20 Kg Silver Of Jewelers Who Came To Lucknow From Banaras Was Blown Away, Bullion Association Warned Of Agitation

सराफा व्यापारियों ने आलमबाग कोतवाली का किया घेराव:5 सितम्बर को बनारस से लखनऊ आए ज्वैलर की 20 लाख रुपए की चांदी उड़ा ले गए थे टप्पेबाज, सराफा एसोसिएशन ने दी आंदोलन की चेतावनी

लखनऊ2 महीने पहले
बनारस के पियरी चौक के रहने वाले सर्राफ ओमप्रकाश लखनऊ के चौक सराफा मार्केट में जेवरों की सप्लाई करते हैं।

बनारस से लखनऊ आए एक सराफा कारोबारी का 28 किलो चांदी टप्पेबाजों ने रविवार को रात में 9 बजे पार कर दिया। चांदी की कीमत लगभग 20 लाख रुपए है। पीड़ित व्यापारी ने उसी रात आलमबाग बस अड्डे पर दो टप्पेबाजों को लोगों की मदद से पकड़कर पुलिस के हवाले किया। जबकि उनके चार साथी भाग निकले।

बावजूद इसके कोई कार्रवाई नहीं हुई। इससे नाराज सराफा व्यापारियों ने सोमवार रात में आलमबाग कोतवाली का घेराव कर बड़े आंदोलन की चेतावनी दी।

बस में हुई थी वारदात

बनारस के पियरी चौक के रहने वाले सर्राफ ओमप्रकाश लखनऊ के चौक सराफा मार्केट में जेवरों की सप्लाई करते हैं। इसी सिलसिले में रविवार को वह लखनऊ आए थे। ओमप्रकाश के मुताबिक काम निपटाने के बाद बची हुई 28 किलो चांदी के जेवर लेकर वापस लौट रहे थे। रात करीब 9 बजे चौक से टेम्पो पकड़कर चारबाग पहुंचे। वहां से ऑटो करके आलमबाग बस अड्डे गए और बनारस जाने वाली बस में सवार हुए।

पानी लेकर लौटे तो गायब मिला बैग

ओमप्रकाश के मुताबिक बस में सामान रखने के बाद वह पानी को बोतल लेने के लिए नीचे उतरे थे। बस अड्डे से पानी लेकर दोबारा बस में चढ़े तो उनका बैग गायब था। इधर-उधर देखा तो बगल की सीट पर बैठे छह लोग भी गायब थे। बैग गायब देखकर कुछ देर तक तो कुछ समझ में ही नहीं आया। इसी बीच कुछ यात्रियों ने प्लेटफॉर्म पर घूम रहे दो युवकों की तरफ इशारा किया।

उसके बाद ओमप्रकाश बस से नीचे उतरे और लोगों की मदद से दोनों संदिग्ध युवकों को पकड़ लिया। भीड़ ने दोनों संदिग्ध युवकों की जमकर पिटाई की। आरोपियों ने बताया कि बैग लेकर उनके बाकी चार साथी फरार हो गए हैं।

आरोपियों को सौंपने के बाद भी खामोश बैठी रही पुलिस

ओमप्रकाश ने बताया कि पकड़े गए दोनों टप्पेबाजों को लेकर वह आलमबाग बस अड्डा चौकी पहुंचे। यहां आरोपियों को पुलिस के हवाले कर दिया। साथ ही इस मामले में करीब 20 लाख रुपए की चांदी चुराने की तहरीर दी। पुलिस ने आरोपियों को चौकी में बैठा लिया और तहरीर लेकर ओमप्रकाश को कार्रवाई का आश्वासन देकर घर जाने को कह दिया।

लखनऊ पुलिस का रवैया देख व्यापारी से मांगी मदद

लखनऊ पुलिस का रवैया देख सोमवार को ओमप्रकाश ने यहां के व्यापारियों को घटना की जानकारी देकर देकर उनसे मदद मांगी। जिसके बाद करीब 12 व्यापारी सोमवार रात आलमबाग कोतवाली पहुंचे। सभी व्यापारियों ने थाने का घेराव कर प्रदर्शन शुरू कर दिया।

चौक सराफा एसोसिएशन के महामंत्री विनोद माहेश्वरी का कहना है कि इस तरह की घटनाएं होती रही तो बाहर का कोई भी व्यापारी लखनऊ आने की हिम्मत नही जुटा पाएगा। उनका कहना कि पुलिस ने 24 घंटे में आरोपियों को गिरफ्तार कर चांदी बरामद नहीं की तो पूरे लखनऊ के सराफा कारोबारी बड़ा आंदोलन करेंगे।

फरार आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस

आंदोलन की चेतावनी मिलने के बाद आलमबाग इंस्पेक्टर अमरनाथ विश्वकर्मा का कहना है कि पीड़ित की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस पूरी तरह से सक्रिय है। फरार आरोपियों की तलाश में टीमें लगाई गई हैं।

खबरें और भी हैं...