मुकुल गोयल बने UP के नए DGP:1987 बैच के IPS मुकुल शामली के रहने वाले हैं, अखिलेश यादव की सरकार में ADG लॉ एंड ऑर्डर रहे

लखनऊएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मुकुल गोयल बने यूपी के नए पुलिस महानिदेशक। - Dainik Bhaskar
मुकुल गोयल बने यूपी के नए पुलिस महानिदेशक।

उत्तर प्रदेश में नए DGP के चयन की प्रक्रिया फाइनल कर ली गई है। ADG BSF मुकुल गोयल को यूपी का नया पुलिस महानिदेशक बनाया गया है। सरकार ने इस सबंध में आदेश जारी कर दिया है। इससे पहले यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार को दोपहर में ही डीजीपी का कार्यभार सौंपा गया था लेकिन शाम होते होते सरकार ने नए डीजीपी का ऐलान कर दिया है। इससे पहले मौजूदा डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने बुधवार को चार्ज छोड़ दिया था। एचसी अवस्थी 36 साल का कार्यकाल पूरा करके आज रिटायर हुए हैं।

1987 बैच के आईपीएस अफसर मुकुल गोयल मूल रूप से यूपी के शामली के रहने वाले हैं। मुकुल गोयल आईआईटी दिल्ली से बीटेक हैं और एमबीए भी हैं। मुकुल गोयल केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर बीएसएफ के डीजी हैं। उनका रिटायरमेंट फरवरी 2024 को है। मुकुल गोयल के लिए जोरदार लॉबिंग भी हो रही है।

सरकार के भी विश्वास पात्र मानें जाते हैं। अपराध नियंत्रण के साथ पश्चिम के किसान धड़ों और वैश्य समाज में भी उनकी अच्छी पकड़ है। किसान आंदोलन में फँसी भाजपा को मझदार से निकालने में भी मुकुल गोयल काफी लाभदायक हो सकते हैं।

आजमगढ़ के एसपी और वाराणसी, गोरखपुर, सहरानपुर, मेरठ के रह चुके एसएसपी

यूपी के अपने कार्यकाल में आजमगढ़ के एसपी और वाराणसी, गोरखपुर, सहरानपुर, मेरठ जिलों के एसएसपी रह चुके हैं। मुकुल गोयल कानपुर, आगरा, बरेली रेंज के डीआईजी और बरेली जोन के आईजी भी रह चुके हैं। इसके अलावा मुकुल गोयल केंद्र में आईटीबीपी, बीएसएफ, एनडीआरएफ में भी काम कर चुके हैं। यूपी में एडीजी रेलवे, सीबीसीआईडी और अखिलेश यादव की सरकार में यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर भी रह चुके हैं। बताया जा रहा है कि आज दोपहर बाद तक यूपी सरकार अगले डीजीपी के नाम की घोषणा कर देगी।

नए DGP से योगी सरकार को उम्मीदें:IPS मुकुल गोयल योगी के लिए साबित हो सकते हैं मिस्टर भरोसेमंद; फील्ड पर तैनाती और लंबा अनुभव 2022 चुनाव में काम आ सकता है

UPSC ने तय किए थे तीन नाम

इससे पहले मंगलवार को UPSC (संघ लोक सेवा आयोग) ने तीन सीनियर IPS अफसरों को यूपी डीजीपी पद के लिए शॉर्टलिस्ट किया। इनमें DG EOW आरपी सिंह, ADG BSF मुकुल गोयल और नासिर कमाल का नाम शामिल किया था। वरिष्ठता के अनुसार नासिर कमाल बाकी दोनों लोगों के मुकाबले सबसे सीनियर थे और मौजूदा समय वह केंद्र सरकार की प्रतिनियुक्ति पर हैं हालांकि, इनका कार्यकाल कम है। ऐसे में इन्हें DGP की रेस से बाहर बता दिया गया था।

सीएम योगी से दो अफसरों ने की मुलाकात
नासिर कमाल के बाद डीजी EOW आरपी सिंह और ADG BSF मुकुल गोयल का नाम UPSC की लिस्ट में है। इन दोनों अफसरों ने मंगलवार को बारी-बारी से सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात भी कर ली है। बताया जाता है कि इन दोनों में से गोयल का नाम फाइनल हुआ है। अंत में उन्हें ही डीजीपी की कमान सौंपी गई।

2022 विधानसभा चुनाव DGP के लिए होगा लक्ष्य

जानकारों के मुताबिक, वरिष्ठता के लिहाज से 1987 बैच के IPS अफसर मुकुल गोयल दूसरे नंबर पर हैं। वह भी केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर हैं और वर्तमान में ADG BSF के पद पर तैनात हैं। इनका रिटायरमेंट फरवरी 2024 में है।

गोयल लंबे समय तक पश्चिमी यूपी के कई जिलों में SP रह चुके हैं। सपा सरकार में वो ADG लॉ एंड ऑर्डर जैसे महत्वपूर्ण पद पर रहे। इन्हें प्रदेश के राजनीतिक गलियारे से वोटरों के रूझान तक कि बेहतर समझ है। इसलिए DGP के लिए इनका नाम करीब फाइनल माना जा रहा है।

लेकिन केंद्रीय पोस्टिंग में अभी इनके सामने DG BSF बनने का बड़ा मौका है। वरिष्ठता सूची में तीसरा नाम 1987 बैच के IPS अफसर आरपी सिंह का था। वर्तमान में वो DG EOW (आर्थिक अपराध शाखा) और SIT के पद पर तैनात हैं। फरवरी 2023 में इनका रिटायरमेंट है। जल निगम, खाद्यान और बाइक बोट जैसे बड़े घोटालों की जांच में कड़ी कार्रवाइयों ने सरकार की नजर में इनकी बेहतर छवि बनाई है।

DGP समेत नौ IPS अफसर आज रिटायर
पुलिस महानिदेशक (DGP) हितेश चंद्र अवस्थी समेत नौ IPS अधिकारी 30 जून यानी आज सेवा से रिटायर हो गए। 1985 बैच के IPS अधिकारी अवस्थी के अलावा केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर रेलवे सुरक्षा बल के DG पद पर तैनात इसी बैच के अरुण कुमार भी सेवामुक्त हो गए।

इनके अलावा प्रांतीय पुलिस सेवा से प्रोन्नत हुए सात IPS अधिकारी भी आज रिटायर हो गए। इनमें IG इंटेलीजेंस जेके शुक्ला, IG पुलिस मुख्यालय राजेश पांडेय, निलंबित चल रहे DIG दिनेश चंद्र दुबे, DIG PTC सीतापुर दिलीप कुमार, DIG यूपी पावर कार्पोरेशन साधना गोस्वामी, SP विजिलेंस वीरेंद्र कुमार मिश्र और SP यूपी-112 माधव प्रसाद वर्मा शामिल हैं। PPS संवर्ग के 12 अफसर भी 30 जून को ही रिटायर हो गए।

खबरें और भी हैं...