अखिलेश के करीबियों पर छापे यानी खोदा पहाड़ निकली चूहिया:आईटी को सूचना थी करोड़ों कैश मिलेंगे, लेकिन गलत जगह डाल दी रेड

लखनऊ8 महीने पहले

उत्तर प्रदेश में बीते 72 घंटों से इनकम टैक्स की टीम छापेमारी कर रही है। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने इस रेड की टाइमिंग पर सवाल खड़े किए हैं। दरअसल, रेड उनके करीबियों पर डाली गई है। जिन पर छापे पड़े, वहां के सूत्रों से पता चला है कि मुखबिर तंत्र की गलत सूचना पर आईटी विभाग ने हाथ डाल दिए।

नतीजा अब यह है कि बाकी अलर्ट हो गए हैं। इसलिए, इनकम टैक्स एक के बाद एक ठिकानों पर नजर दौड़ा रही है। इस तरह टीम दिल्ली तक पहुंच गई है। सियासी गलियारों में लोग इनकम टैक्स की कार्रवाई पर चुटकियों लेते हुए कहावतें कहते मिले।

आइए जानते हैं, कितनी सटीक बैठती हैं ये दो कहावतें...और क्या कुछ इन 72 घंटे में हुआ...

1. गलत सूचना...यानी “खोदा पहाड़, निकली चुहिया”

अखिलेश के करीबी जगत सिंह के 4 ठिकानों पर इनकम टैक्स की टीम कार्रवाई कर चुकी है, लेकिन अभी टीम के हाथ कुछ खास नहीं लगा है। ऐसे में चर्चा होने लगी है कि यह कार्रवाई खोदा पहाड़ निकली चुहिया से ज्यादा कुछ नहीं है। मुखबिर तंत्र ने गलत जानकारी दे दी है। इससे जो सही मायने में जमाखोर हैं, वह अलर्ट हो गए हैं।

बड़े कारोबारी राहुल भसीन के लखनऊ स्थित महानगर के आवास पर छापेमारी चल रही है।
बड़े कारोबारी राहुल भसीन के लखनऊ स्थित महानगर के आवास पर छापेमारी चल रही है।

इन पर हुई कार्रवाई

  • सपा के प्रवक्ता व राष्ट्रीय सचिव राजीव राय के यहां मऊ में सबसे पहले 18 दिसंबर को आईटी ने रेड डाली थी।
  • करीब 50 हजार रुपए ऑफिस में और घर से 17 हजार रुपए कैश मिलने की बात सामने आई है।
  • सपा अध्यक्ष अखिलेश के करीबी सरकारी ठेकेदार जगत सिंह के चार ठिकानों पर आईटी विभाग ने छापेमारी की।
  • जगत सिंह के लखनऊ के कहचरी रोड, मॉल एवन्यू, तेलीबाग और एल्डिको कॉलोनी के ठिकानों पर छापेमारी हुई।
  • पहले दिन आगरा, मैनपुरी और मऊ की छापेमारी के बाद कुछ हाथ नहीं लगा।
  • बड़े कारोबारी राहुल भसीन के लखनऊ स्थित महानगर के आवास पर छापेमारी चल रही है।
  • अखिलेश के करीबी और ओएसडी रह चुके जैनेंद्र के लखनऊ और मनोज यादव के आगरा स्थित घरों पर इनकम टैक्स ने छापे मारे।
इनकम टैक्स ने सबसे पहले राजीव राय के आवास पर छापेमारी की।
इनकम टैक्स ने सबसे पहले राजीव राय के आवास पर छापेमारी की।

2. खुद को साबित करने के लिए डाल रहे छापे, यानी खिसियानी बिल्ली, खंभा नोचे

72 घंटे की कार्रवाई में जब इनकम टैक्स को कुछ नहीं मिला तो अब कड़ी से कड़ी जोड़ रही है। आईटी की टीम सपा सरकार में सरकारी काम की ठेकेदारी करने वाले जगत सिंह और राहुल भसीन के दिल्ली के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। सत्ता पक्ष से जुड़े नेताओं के सूत्र बताते हैं कि कार्रवाई में 100 करोड़ से ज्यादा अवैध रकम बरामद होती लेकिन अब सब अलर्ट हो गए हैं।

सपा के प्रवक्ता व राष्ट्रीय सचिव राजीव राय के यहां मऊ में सबसे पहले 18 दिसंबर को आईटी ने रेड डाली थी।
सपा के प्रवक्ता व राष्ट्रीय सचिव राजीव राय के यहां मऊ में सबसे पहले 18 दिसंबर को आईटी ने रेड डाली थी।

वहीं, समाजवादी भी ये कह रहे हैं कि मुखबिरों की गलत सूचना पर इनकम टैक्स ने ताबड़तोड़ छापेमारी शुरू कर दी। अब जब कुछ मिल नहीं रहा तो इनकम टैक्स की 'खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे' जैसी प्रतिक्रिया सामने आ रही है।

अखिलेश के करीबी और ओएसडी रह चुके जैनेंद्र के लखनऊ और मनोज यादव के आगरा स्थित घरों पर इनकम टैक्स ने छापे मारे।
अखिलेश के करीबी और ओएसडी रह चुके जैनेंद्र के लखनऊ और मनोज यादव के आगरा स्थित घरों पर इनकम टैक्स ने छापे मारे।

आयकर विभाग के सूत्रों के मुताबिक, पहले दिन की छापेमारी में सौ करोड़ रुपए मिलने की संभावना थी, लेकिन कुछ नहीं मिला। पहचान गलत होने की वजह से बाकी लोग चौकन्ने हो गए।