विदेशी रुपयों से बनाई अकूत संपत्तियां:मनी लांड्रिंग में फंसी 4 कंपनियों के मालिकों की लखनऊ में संपत्तियों की तलाश, ED ने DM-LDA वीसी से मांगा ब्योरा

लखनऊ6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रवर्तन निदेशालय की विशाखापट्टनम शाखा मामेल की जांच में लगी। - Dainik Bhaskar
प्रवर्तन निदेशालय की विशाखापट्टनम शाखा मामेल की जांच में लगी।

भदोही और गुड़गांव की 4 कंपनियों और उनके मालिकों की बेहिसाब संपत्तियों का पता लगाने के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने लखनऊ के DM, विकास प्राधिकरण के वीसी समेत कई अफसरों को पत्र भेजा है। इनके खिलाफ मनी लांड्रिंग का केस दर्ज कर ED जांच कर रही है। इनमें से एक कंपनी का लखनऊ के मोहनलालगंज क्षेत्र में कई संपत्ति होने का पता भी लग चुका है। बाकी कंपनियों की भी नामी, बेनामी प्रॉपर्टी की तलाश की जा रही है।

प्रवर्तन निदेशालय की विशाखापट्टनम शाखा में रॉयल कारपेट इंटरनेशनल भदोही, शोभा वूलेंस प्राइवेट लिमिटेड भदोही, काका ओवरसीज लिमिटेड गुड़गांव, काका कारपेट्स भदोही के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू की गई है। ED को पता चला कि इन कंपनियों ने लखनऊ में भी करोड़ों की संपत्तियां खरीदी हैं। फैक्ट्रियों के नाम शॉपिंग मॉल के साथ जमीन भी खरीदने की जानकारी मिली है। प्रवर्तन निदेशालय विशाखापट्टनम ने इस संबंध में 28 जून को लखनऊ के DM अभिषेक प्रकाश को पत्र लिखा था। इसमें उन्होंने इन चारों कंपनियों समेत 8 लोगों के नाम भेजे थे।

LDA से भी मांगा गया जमीनों का ब्योरा
ED का पत्र मिलने के बाद अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमरपाल सिंह ने 12 जुलाई को एलडीए, आवास विकास परिषद, नगर निगम और सहायक महानिरीक्षण निबंधन प्रथम व द्वितीय को इसके संबंध में पत्र लिखा था। इन विभागों से कंपनियों की संपत्तियों का ब्यौरा मांगा गया है। इनमे एक कंपनी की मोहनलालगंज में बेहिसाब जमीनें होने की जानकारी मिली है। एलडीए में भी कुछ संपत्तियां होने की बात पता चली है। सीजी सिटी में भी इन कंपनियों ने कुछ जमीनें खरीदी हैं। जल्द ही इसकी पूरी रिपोर्ट प्रवर्तन निदेशालय को भेजी जाएगी। कंपनियों के नाम से यह प्रॉपर्टी विदेशों से अवैध तरीके से आए रुपयों से खरीदी गई हैं। लखनऊ के अलावा इन कंपनियों की संपत्तियां भदोही में भी तलाशी जा रही हैं।

इन कंपनियों और मालिकों के खिलाफ शुरू हुई जांच
ED ने रॉयल कारपेट इंटरनेशनल भदोही, शोभा वूलेन्स प्राइवेट लिमिटेड भदोही, काका ओवरसीज लिमिटेड गुड़गांव, काका कारपेट्स भदोही के खिलाफ जांच शुरू की है। इसके अलावा इनके मालिकान व अधिकारी तृषि राय, नीतीश राय, यादवेंद्र कुमार राय व रीता राय के खिलाफ भी प्रवर्तन निदेशालय ने जांच शुरू की है। इनकी भी सम्पत्तियां तलाशी जा रही हैं। अधिकारियों का कहना है कि मामले में जांच की जा रही है। जो भी संपत्तियां मिलेंगीं, उसके बारे में प्रवर्तन निदेशालय को जानकारी भेजी जाएगी।

खबरें और भी हैं...