लखनऊ, अयोध्या, गोरखपुर में भूकंप के झटके:नेपाल में रात 11.59 पर भूकंप, रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 4.3; यूपी के कई शहरों में महसूस हुए झटके

लखनऊ12 दिन पहले

अयोध्या, लखनऊ, गोरखपुर समेत यूपी के कई शहरों में गुरुवार देर रात 11:59 बजे भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.3 मापी गई है। भूकंप का केंद्र, यूपी से करीब 400 किमी. दूर नेपाल का बागलंग रहा है। सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक, यहां रात 11:59 बजे भूकंप आया। केंद्र जमीन से 15 किमी. अंदर रहा है। हालांकि, देर रात लोग सो रहे थे, इसीलिए अधिकांश लोगों को झटके महसूस नहीं हुए। फिलहाल, भूकंप से किसी तरह के जानमाल के नुकसान की खबर अब तक नहीं है।

राजधानी लखनऊ, अयोध्या, लखीमपुर से लेकर पूर्वी नेपाल तक भूकंप का असर देखा गया है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, इसका असर भारत के पश्चिमी इलाकों में ज्यादा रहा। यूपी में मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि झटके काफी हल्के थे। कहीं किसी नुकसान की सूचना नहीं है।

भूकंप का केंद्र जमीन के 15 किलोमीटर नीचे बताया गया है।
भूकंप का केंद्र जमीन के 15 किलोमीटर नीचे बताया गया है।

अयोध्या में कंपन्न महसूस हुआ
भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.3 मापी गई। अयोध्या के सरयू मंदिर के पुजारी लालजी मिश्र ने बताया कि वे मंदिर में सो रहे थेl उन्हें कंपन महसूस हुआ था।

भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 4.3 दर्ज की गई।
भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 4.3 दर्ज की गई।

लगातार तीन झटकों से दहशत
सिस्मोलॉजी के मुताबिक, भूकंप के एक के बाद एक तीन झटके महसूस किए गए। इसका समय रात में 12 बजे के आसपास रहा है। हालांकि, इसके पहले गुरुवार को ही असम के सोनितपुर में भी भूकंप आया था। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 4 दर्ज की गई।

यूपी में भूकम्प के हाई रिस्क पर हैं ये जिले-
जोन -4 :
सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, बागपत, बिजनौर, मेरठ, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, रामपुर, मुरादाबाद, बुलंदशहर, श्रवास्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, महाराजगंज, कुशीनगर, पीलीभीत, सहारनपुर, लखीमपुर खीरी, बदायूं, बहराइच, गोंडा, मथुरा, अलीगढ़, बरेली, बस्ती, संतकबीरनगर, देवरिया और बलिया जिला भूकंप के हाईरिस्क में रहते हैं। यानी यहां सबसे ज्यादा खतरा है।

जोन-3: सोनभद्र, चंदौली, गाजीपुर, वाराणसी, जौनपुर, आजमगढ़, गोरखपुर, सुल्तानपुर, रायबरेली, फैजाबाद, उन्नाव, लखनऊ, बाराबंकी, सीतापुर, हरदोई, कन्नौज, मैनपुरी, फिरोजाबाद, एटा, फर्रुखाबाद, मिर्जापुर। यह जोन-3 में हैं।

जोन-2 :ललितपुर, झांसी, महोबा, बांदा, कौशांबी, इलाहाबाद के अलावा आगरा, इटावा, औरैया, कानपुर नगर, फतेहपुर, प्रतापगढ़ और मिर्जापुर भूकंप के जोन-2 में है।