बाराबंकी सड़क दुर्घटना के घायलों का KGMU में हुआ उपचार:घटनास्थल से 12 मरीज ट्रॉमा सेंटर भेजे गए, जिनमें से एक की रास्ते मे हुई मौत, 11 का उपचार जारी

लखनऊ17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बाराबंकी के दुर्घटना में घायलों का इलाज KGMU के ट्रॉमा सेंटर में किया जा रहा है - Dainik Bhaskar
बाराबंकी के दुर्घटना में घायलों का इलाज KGMU के ट्रॉमा सेंटर में किया जा रहा है

बाराबंकी में ट्रक और स्लीपर बस की भीषण टक्कर में गंभीर रुप से घायल मरीजों का कई लोग घायल हो गए। घायलों को पुलिस की मदद से ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया। कुल 12 घायल ट्रॉमा सेंटर लाए गए थे। इसमें 25 साल की महिला की रास्ते में मौत हो गई। ट्रॉमा सेंटर प्रभारी के मुताबिक घायलों का समुचित उपचार जारी है।

अचानक से गंभीर मरीजों की आमद से ट्रॉमा में मची अफरा-तफरी

सुबह करीब साढ़े आठ से नौ बजे अचानक बड़ी संख्या में घायलों के पहुंचने से ट्रॉमा सेंटर में अफरा-तफरी मच गई। आनन-फानन में डॉक्टरों ने मोर्चा संभाला। घायलों को प्राथमिक इलाज मुहैया कराने के बाद वार्ड में शिफ्ट करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई।

गंभीर रुप से घायलों का किया जा रहा उपचार

ट्रॉमा सेंटर के प्रभारी डॉ. संदीप तिवारी ने बताया कि हादसे में घायल 12 घायलों को लाया गया। उन्होंने बताया कि ज्यादातर घायलों के पैर में चोटे आई हैं। चेहरे पर भी तीन घायलों के चोटे आई हैं। एक घायल के सीने में भी चोटे आईं। सभी की तबीयत स्थिर है। भर्ती मरीजों के लिए अगले 24 से 48 घंटे बेहद अहम हैं।

मृत अवस्था में लाई गई 25 वर्षीय यासमीन

ट्रॉमा सेंटर में 25 वर्षीय यासमीन को ब्रॉडडेड हाल में लाया गया। डाक्टरों ने जांच पड़ताल के बाद यास्मीन को मृत घोषित कर दिया। उन्होंने बताया कि ज्यादातर घायलों के हाथ और पैर में चोटें आई हैं। दो मरीजो के सिर में चोट लगी है। सभी घायलों को मुफ्त इलाज मुहैया कराया जा रहा है।

ट्रॉमा में इन्ही कराया गया है भर्ती

गुरुवार को दुर्घटना स्थल से 12 लोगों को भेजा गया था।जिनमें से 11 का भर्ती करके इलाज किया जा रहा है।सादिरा (28), प्रवेश (22), लक्षमण चौहान (27), विशाल पांडेय (25), चंदन (55), लतार (55), शादाब (08), मनीष मिश्र (25), वाहिद खान (28), कादिर (20) व उबैर खान (09) का इलाज ट्रॉमा सेंटर में चल रहा है।

खबरें और भी हैं...