पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लखनऊ में बिजली चोरी पड़ेगी भारी:पुराने लखनऊ में पूरी रात बिजली चोरी करने वालों को खोजते रही लेसा की टीम, 15 लोगों वीडियो बनाया, आज करेंगे मुकदमा

लखनऊएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बिजली चोरी करने वालों के खिलाफ पूरी रात साक्ष्य एकत्र करता है। - Dainik Bhaskar
बिजली चोरी करने वालों के खिलाफ पूरी रात साक्ष्य एकत्र करता है।

बिजली चोरो को पकड़ने के लिए लेसा की टीम ने मंगलवार को पूरी रात अभियान चलाया गया। इस दौरान बिजली चोरी करने वालों का वीडियो बना लिया है। एक्सईएन अनूप सक्सेना के नेतृत्व में एसडीओ और जेई ने सआदजगंज इलाके में अभियान चलाया। इस दौरान कई लोग कटिया लगाते हुए मिले।

लेसा ने बिना कुछ बताए सभी घरों का वीडियो बना लिया है। उनके खिलाफ अब बुधवार दोपहर तक कार्रवाई होगी। दरअसल, नियमों के अनुसार शाम होने के बाद बकाए अथवा किसी भी मद में बिजली नहीं काटी जा सकती है। ऐसे में लेसा की टीम रात को कार्रवाई नहीं की है।

रात में चोरी का साक्ष्य एकत्र करते हैं

एक्सईएन अनूप सक्सेना ने बताया कि सोमवार रात को जब अभियान चला था तो उसकी चोरी मंगलवार को फिर से मौके पर पहुंच पकड़ी गई थी। इसमें दस लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था। उन्होंने बताया कि साक्ष्य के तौर पर रात को ही वीडियो बना लिया जाता है। इससे कि लोग अगर कटिया उतार भी दे तो उनको बताया जा सके कि आप बिजली चोरी करते हैं। सआदतगंज के चीनू गुप्ता प्लाटिंग, बुनियाद बाग, गोल्डन सिटी एवं झाड़ियन तालाब क्षेत्र में बिजली चोरी पकड़ी गई।

लोड बढ़ने से बढ़ जाता फॉल्ट

कटिया लगाने वालों की वजह से शाम 7 बजे से सुबह 6 बजे तक अचानक लोड बढ़ जाता है। इसकी वजह से केबिल से लेकर ट्रांसफॉर्मर तक खराब हो जाते है। स्थिति यह है कि लखनऊ में पिछले एक सप्ताह से रात से लेकर सुबह तक प्रतिदिन औसतन सौ से ज्यादा छोटे बड़े फॉल्ट होते है। इसमें 30 मिनट से लेकर 3 घंटे से ज्यादा देर तक पावर कट रहता है।

सौ से ज्यादा लोगों पकड़े गए

पिछले चार दिन से चले अभियान में सौ से ज्यादा लोग पूरे शहर में बिजली चोरी करते हुए पकड़े गए है। इसके अलावा करीब 3000 किलोवॉट तक लोड भी कम हुआ है। एमडी मध्यांचल ने निर्देश दिया है कि रात के अलावा दिन में भी बड़े स्तर पर अभियान चलाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...