लखनऊ में प्रेमिका को चौथी मंजिल से फेंका:मां बोली- बेटी को सुफियान ने मारा

लखनऊ2 महीने पहले

यूपी की राजधानी लखनऊ में एक युवक पर लड़की को चौथी मंजिल से फेंकने का आरोप लगाया गया है। लड़की के परिजनों ने कहा कि युवक सूफियान उनकी बेटी पर धर्म बदलने का दबाव बना रहा था। पूरा मामला जानने से पहले पोल में हिस्सा लेकर अपनी राय दीजिए...

लड़की को प्रेमी ने फेंका
परिवार ने पुलिस में जो शिकायत की है, उसके मुताबिक दुबग्गा में रहने वाले निधि गुप्ता (19) और सूफियान में प्रेम संबंध था। लड़की के परिजनों को जब इस बात का पता चला तो वे विरोध करने सूफियान के घर पहुंचे। लड़की के परिजनों ने कहा- सूफियान ने निधि को 4 मंजिल से नीचे फेंक दिया। अस्पताल में उसकी मौत हो गई।

परिजन ने किया प्रदर्शन, आरोपी पर कार्रवाई की मांग
निधि के शव का 3 डॉक्टरों के पैनल ने पोस्टमॉर्टम किया। इसकी वीडियोग्राफी भी कराई गई। बिसरा सुरक्षित रखा गया है। बुधवार दोपहर को निधि का शव डूडा कॉलोनी उसके आवास पर लाया गया। इस दौरान परिजनों और मोहल्ले वालों ने प्रदर्शन किया।

उन्होंने आरोपी सूफियान और उसके परिजनों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। हंगामे को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात है। पुलिस लोगों को समझा-बुझाकर मामला शांत कराने का प्रयास कर रही है।

पुलिस ने बताया कि आरोपी फरार है। परिजन की तहरीर पर हत्या व जबरन धर्म परिवर्तन कराने का केस दर्ज किया गया है। इस घटना पर हिंदूवादी संगठन भी आक्रोश जाहिर कर रहे हैं। वहीं, पुलिस के अफसरों ने भी मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल की।

बहन बोली- बेटी का ब्रेनवॉश करता था सूफियान

पुलिस ने बताया कि घटना मंगलवार को लखनऊ के दुबग्गा इलाके में हुई। आरोपी सूफियान और उसका परिवार फरार है। दुबग्गा के ब्लॉक 41 में मृतका की मां, छोटी बहन और भाई रहते हैं। ब्लॉक 43 में सूफियान और उसका परिवार रहता है।

बड़ी बहन, "सूफियान ने बेटी निधि को एक मोबाइल दिया था। सूफियान उसका ब्रेनवॉश कर रहा था। वो बेटी को इस्लाम अपनाने के लिए बरगला रहा था। हमने सूफियान के घरवालों से इसकी शिकायत की, मगर उसके परिवार ने कुछ भी सुनने से मना कर दिया। विवाद भी हुआ। इसी बीच निधि छत पर चली गई। उसके पीछे सूफियान भी भागता हुआ गया था।

ये वही मकान है, जिससे छात्रा को फेंकने की बात सामने आई है।
ये वही मकान है, जिससे छात्रा को फेंकने की बात सामने आई है।

इसके बाद हमें चीख सुनाई दी। हम लोग भागते हुए ऊपर छत पर पहुंचे। वहां सूफियान अकेला था। वह हमें धक्का देकर भाग गया। छत से नीचे झांकने पर हमें खून से लहूलुहान निधि जमीन पर तड़पती हुई दिखी। हम नीचे भागते हुए पहुंचे। निधि को अस्पताल ले गए, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

निधि त्रिलोकी सिंह कॉलेज में पढ़ती थी। पिता ने कहा- सूफियान ने निधि को मोबाइल दिया था।
निधि त्रिलोकी सिंह कॉलेज में पढ़ती थी। पिता ने कहा- सूफियान ने निधि को मोबाइल दिया था।

मां ने कहा- इन लोगों ने मेरी बेटी छीन ली

निधि की मां लक्ष्मी गुप्ता ने आरोप लगाया, "सूफियान निधि पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाता था। इनकार करने पर सूफियान ने उसे छत से फेंक दिया। इन लोगों ने मेरी बेटी छीन ली। निधि अपनी नानी के घर कुछ दिन पहले गई थी। वापस आने के बाद वो सूफियान से मिलती नहीं थी। सूफियान से बातचीत भी नहीं कर रही थी। इसी बात को लेकर सूफियान गुस्से में था।

वो हम लोगों से झगड़ा करता और जान से मारने की धमकी भी देता था। पहले भी दोनों परिवार के लोगों के बीच कहासुनी हो चुकी थी। मामला थाने तक पहुंचा था। उस वक्त पुलिस ने सूफियान के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की थी।"

ये तस्वीर सूफियान की है। वह अभी फरार है। उस पर निधि की हत्या का आरोप है।
ये तस्वीर सूफियान की है। वह अभी फरार है। उस पर निधि की हत्या का आरोप है।

लड़की के मामा बोले- सूफियान ने कहा था कार में आग लगा दूंगा
निधि के मामा अनुज मंगलवार को अपनी बहन के घर पर ही थे। विवाद के दौरान उन्होंने सूफियान को समझाने का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि सूफियान ने जान से मारने की धमकी दी थी। कहा था कि कार में आग लगा देगा। मामले में इंस्पेक्टर सुखबीर सिंह ने बताया कि सूफियान और उसके परिवार की तलाश में छापे मारे जा रहे हैं।

अफसर बोले- हम सूफियान को पकड़ेंगे
इस मामले में तड़के पुलिस के अफसर भी मौके पर पहुंचे। जॉइंट CP लॉ एंड ऑर्डर पीयूष मोर्डिया ने कहा कि डूडा कॉलोनी में छात्रा रहती थी। उसके पड़ोस में सूफियान रहता है। पिछले डेढ़ साल से सूफियान पीड़िता से दोस्ती करने की कोशिश कर रहा था। घटना से पहले सूफियान ने लड़की को एक मोबाइल फोन दिया था।
जिसे लेकर दोनों के परिजनों के बीच कल विवाद हुआ था। इस दौरान सूफियान लड़की को लेकर चौथे माले पर गया था। बाद में लड़की खून से लथपथ हालत में नीचे मिली। धर्मांतरण सहित गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।

दिल्ली का श्रद्धा मर्डर केस: आफताब पर श्रद्धा के मर्डर और 35 टुकड़े करने का आरोप

देश की राजधानी दिल्ली में आफताब अमीन पूनावाला नाम के लड़के ने अपनी हिन्दू प्रेमिका श्रद्धा की बेरहमी से हत्या कर दी। इसके लिए आफताब ने पहले तो लड़की के शव के 35 टुकड़े किए और फिर उसे फ्रिज में रख दिया। इसके बाद उन्हें हर रात अलग- अलग जगहों पर फेक दिया। दिल्ली पुलिस ने शिकायत पर आरोपी आफताब अमीन पूनावाला को गिरफ्तार कर लिया है। आफताब ने पूछताछ में खुलासा किया कि दोनों के बीच शादी को लेकर झगड़ा हुआ था। श्रद्धा उस पर शादी का दबाव बना रही थी। जिसके चलते उसने यह कदम उठाया। पूरी खबर पढ़ें...