पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

LU स्टूडेंट्स के लिए काम की खबर:लखनऊ विश्वविद्यालय व उससे संबंद्ध कालेजों में UG - PG के अंतिम साल- सेमेस्टर के स्टूडेंट्स को देना होगा एग्जाम, बाकी होंगे प्रमोट

लखनऊ3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

लखनऊ विश्वविद्यालय व उससे संबंद्ध कालेजों में UG - PG की लास्ट ईयर की परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी। इसके अलावा एनसीटीई से गवर्नड कोर्स में फर्स्ट व लास्ट सेमेस्टर की परीक्षाएं भी होंगी। यह सभी परीक्षाएं एमसीक्यू पैटर्न पर होंगी। खास बात यह है कि यह परीक्षा ऑफलाइन मोड में ही होंगी। वहीं यूजी, पीजी एवं डिप्लोमा आदि कोर्सों के फर्स्ट व सेकंड सेमेस्टर को अगली कक्षा में प्रोमोट किया जाएगा। गुरुवार को विश्वविद्यालय प्रशासन ने यह निर्णय लिया है।

विश्वविद्यालय के एग्जामिनेशन कंट्रोलर प्रो.एएम सक्सेना के अनुसार आर्ट्स,कॉमर्स,साइंस,लॉ,इंजीनियरिंग, आइएमएस और ललित कला संकाय की लास्ट ईयर या लास्ट सेमेस्टर एग्जाम भी होंगे।

इन्हें किया जाएगा प्रोन्नत -

  • यूजी, पीजी एवं डिप्लोमा आदि पाठ्यक्रमों में फर्स्ट सेमेस्टर (दिसंबर 2020) के स्टूडेंट्स को इंटरनल असेसमेंट के अंकों के आधार पर सेकंड सेमेस्टर में प्रोन्नत किया जाएगा। जिनका इंटरनल असेसमेंट नहीं हुआ है, उनकी परीक्षा कराकर अंक अपलोड करने होंगे।
  • यूजी-पीजी, डिप्लोमा के सेकंड सेमेस्टर (जून 2021) के स्टूडेंट्स को इंटरनल असेसमेंट के आधार पर थर्ड सेमेस्टर में प्रोमोट किया जाएगा।इसके लिए एचओडी एवं कालेजों को इंटरनल असेसमेंट की परीक्षाएं आनलाइन कराकर अंक अपलोड करने के निर्देश दिए गए हैं।
  • स्नातक परीक्षा (सेमेस्टर प्रणाली) फोर्थ सेमेस्टर जून 2021 के स्टूडेंट्स को उनके थर्ड सेमेस्टर के प्राप्तांकों के आधार पर अंक निकालकर फोर्थ सेमेस्टर का रिजल्ट तैयार कर फिफ्थ सेमेस्टर में प्रोमोट करने के आदेश जारी किए गए है।इनका भी इंटरनल असेसमेंट आनलाइन या आफलाइन कराकर अंक अपलोड करने होंगे।
  • यूजी, पीजी कक्षाओं के स्टूडेंट्स का फर्स्ट व सेकंड सेमेस्टर (जिनकी परीक्षाएं दिसबर 2020 एवं जून 2021 में नहीं हुईं) का परीक्षाफल उनके इंटरनल अंकों के आधार पर तैयार कर सेकंड से थर्ड सेमेस्टर में, फोर्थ से फिफ्थ सेमेस्टर, छठे से सातवें और आठवें से नवें सेमेस्टर में प्रोन्नत दी जाएगी।
  • बीएड, एमएड फर्स्ट - फोर्थ सेमेस्टर, बीईएलएड फर्स्ट व लास्ट ईयर, बीपीएड, एमपीएड फर्स्ट व लास्ट सेमेस्टर की परीक्षाएं भी होंगी। यह सभी परीक्षाएं एमसीक्यू पैटर्न पर होंगी।

प्रश्न पत्रों की संख्या हुई कम-

परीक्षा नियंत्रक प्रो. एएम सक्सेना ने दावा किया कि कोरोना के बचाव के सभी प्रोटोकॉल को फॉलो करके परीक्षा का आयोजन होगा और प्रश्न पत्रों की संख्या को कम करके बेहद सधे तरीके से परीक्षा का आयोजन किया जाएगा।15 अगस्त तक सभी परीक्षाएं सम्पन्न हो जाएगी।

ऐसा होगा प्रश्न पत्र का प्रारुप -

  • बीकाम (वार्षिक) में चार ग्रुप को दो ग्रुप में मर्ज किया गया है। छात्रों को 200 में 100 प्रश्न हल करने होंगे। प्रत्येक प्रश्न दो अंक का होगा। परीक्षा दो घंटे की होगी,
  • बीकाम (सेमेस्टर प्रणाली) में तीन ग्रुप को दो ग्रुप बनाया गया है। इसमें प्रत्येक ग्रुप में 80 प्रश्न होंगे। छात्रों को प्रत्येक से 40 प्रश्न करने होंगे। इसमें भी दो अंक प्रति प्रश्न पत्र होगा। इसमें भी परीक्षा का समय दो घंटे तय किया गया है।
  • बीकाम आनर्स और एमकाम (सेमेस्टर) में प्रत्येक प्रश्न पत्र 70 अंक का होगा। 35 प्रश्न करने होंगे। प्रत्येक प्रश्न के लिए दो अंक निर्धारित हैं। परीक्षा का समय एक घंटे रहेगा,
  • बीए (वार्षिक) में 50-50 अंक के तीन प्रश्न पत्र होंगे। कुल 75 प्रश्न हल करने होंगे। एक घंटे का समय मिलेगा। वहीं, बीए सेमेस्टर में 80-80 प्रश्न के तीन प्रश्न पत्र में प्रत्येक से 40-40 प्रश्न करने होंगे,
  • एमए (सेमेस्टर) में प्रत्येक प्रश्न पत्र 70 में से 35 प्रश्न हल करने होंगे। बीएससी (वार्षिक) में प्रत्येक विषय 80 प्रश्न होंगे। इनमें छात्रों को 120 के उत्तर देने होंगे,
  • एमएससी (सेमेस्टर) में प्रत्येक पेपर में 70 प्रश्न होंगे, इनमें 35 करने होंगे। इसी तरह एलएलबी 3 ईयर (सेमेस्टर), स्नातक ललित कला संकाय (वार्षिक) में प्रत्येक प्रश्न पत्र 100 अंक का होगा। छात्रों को 50 हल करने होंगे। परास्नातक ललित कला संकाय, बीसीए और बीटेक (सेमेस्टर) के हर पेपर में 70-70 प्रश्न होंगे। 35 प्रश्न के उत्तर देने होंगे।
  • बीटेक व बीसीए में 70 प्रश्न होंगे इनमें से 35 हल करने है,टाइम ड्यूरेशन एक घंटा रहेगा
खबरें और भी हैं...