यूपी में 45वें मुख्यमंत्री आरोग्य मेले का हुआ आयोजन:डेढ़ लाख से ज्यादा मरीजो का हुआ उपचार, बने 8 हजार 643 आयुष्मान गोल्डन कार्ड

लखनऊ3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यूपी में 45वें मुख्यमंत्री आरोग्य मेले के अवसर पर लखनऊ के निगोहां ब्लॉक के ग्रामीण पीएचसी पर उपचार कराने पहुंची महिलाएं - Dainik Bhaskar
यूपी में 45वें मुख्यमंत्री आरोग्य मेले के अवसर पर लखनऊ के निगोहां ब्लॉक के ग्रामीण पीएचसी पर उपचार कराने पहुंची महिलाएं

प्रदेश के ग्रामीण और नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर रविवार को 45वें मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया गया। इस दौरान 1 लाख 57 हजार 615 मरीजो का इलाज मिला। इनमें 25 हजार 852 बच्चे, 68 हजार 141 महिलाएं और 63 हजार 622 पुरुष शामिल रहे। मेले में 7 हजार 578 बुखार से पीड़ित मरीज उपचार के लिए पहुंचे। इनमें से 17 मलेरिया संक्रमित पाएं गए। वही मेले में कोरोना के संभावित लक्षणों के साथ पहुंचे 13 हजार 145 मरीजो का एंटीजन टेस्ट किया गया। राहत की बात यह रही कि किसी की भी रिपोर्ट पॉजिटिव नही आई। इसके अलावा 10 मलेरिया संक्रमित भी मिले।

8 हजार 643 आयुष्मान गोल्ड कार्ड हुए वितरित

मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में 8 हजार से ज्यादा गोल्डन कार्ड का हुआ वितरण
मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में 8 हजार से ज्यादा गोल्डन कार्ड का हुआ वितरण

आरोग्य मेले में कुल 6 हजार 987 चिकित्सकों की ड्यूटी लगाई गई थी। वही 21 हजार 633 पैरामेडिकल स्टॉफ और 7 हजार 222 अन्य स्टॉफ भी शामिल रहे। मेले में आयुष्मान योजना के 8 हजार 643 लाभार्थियों को उनके गोल्ड कार्ड वितरित किया गया। वही मेले में 1 हजार 235 गंभीर मरीजो को उपचार के लिए हायर सेंटर रिफर कर दिया गया। अब तक प्रदेश में मुख्यमंत्री आरोग्य मेले के जरिए कुल 1 करोड़ 4 लाख 32 हजार 704 रोगियों को उपचार मिल चुका है। 8 लाख 99 हजार 289 गोल्डन कार्ड भी बनाएं गए है।

लखनऊ में 4 हजार 600 रोगी पहुंचे पीएचसी

लखनऊ के अलीगंज के निकट शहरी पीएचसी केंद्र पर उपचार कराने के लिए पहुंची महिला
लखनऊ के अलीगंज के निकट शहरी पीएचसी केंद्र पर उपचार कराने के लिए पहुंची महिला

राजधानी लखनऊ में 4 हजार 600 रोगियों का रविवार को पीएचसी में उपचार किया गया। मेले में फाइलेरिया, दिमागी बुखार, टीबी, मलेरिया, डेंगू और कुष्ठ रोग के मरीज भी देखे गए। नोडल अधिकारी योगेश रघुवंशी ने बताया कि मेले में 1 हजार 727 पुरुष और 2 हजार 176 महिलाएं और 697 बच्चों को इलाज मिला। 26 लाभार्थियों का आयुष्मान कार्ड बना। वही 120 लोगों ने एंटीजन कोरोना जांच करायी और सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई।

खबरें और भी हैं...