पढ़ाई से ज्यादा प्रैक्टिकल पर फोकस करें:AKTU में प्राविधिक शिक्षा मंत्री बोले- समय के साथ बदलना होगा, तभी मिलेगी सफलता

लखनऊ19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
AKTU में रविवार को मंत्री आशीष पटेल ने मेधावियों को लैपटॉप वितरित किया। इस दौरान कुलपति प्रो.प्रदीप कुमार मिश्रा भी मौजूद रहें। - Dainik Bhaskar
AKTU में रविवार को मंत्री आशीष पटेल ने मेधावियों को लैपटॉप वितरित किया। इस दौरान कुलपति प्रो.प्रदीप कुमार मिश्रा भी मौजूद रहें।

AKTU यानी डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय में रविवार को UPSEE एग्जाम 2019 बैच के शीर्ष 200 रैंकिंग पाने वाले स्टूडेंट्स को लैपटॉप दिया गया।

प्राविधिक शिक्षा मंत्री आशीष पटेल के हाथों लैपटॉप पाकर मेधावियों के चेहरे खिल गए। इस दौरान टॉप 100 रैंकिंग पाने वाले SC और ST रैंक के स्टूडेंट्स और शीर्ष सौ रैंकिंग पाने वाले जनरल और OBC की छात्राओं को लैपटॉप दिया गया।

AKTU में बोलतें मंत्री आशीष पटेल
AKTU में बोलतें मंत्री आशीष पटेल

खुद को रखना होगा अपडेट, समय के साथ लाना होगा बदलाव

इस दौरान मंत्री आशीष पटेल ने स्टूडेंट्स को सफलता का मंत्र दिया। उन्होंने कहा कि आज का समय तकनीकी का है। जो वक्त के साथ बदल रहा है। छात्रों को इस बदलाव के साथ खुद को बदलते रहना है। इंडस्ट्री डिमांड के अनुरूप खुद को तैयार करना होगा। अब सिर्फ किताबों को पढ़कर काम करने का जमाना नहीं है बल्कि काम करके खुद को साबित करना होगा।

ऑल राउंडर को मिलेगी सफलता

बहुआयामी कौशल की जरूरत है। जो यह नहीं कर पाएगा वह पिछड़ जाएगा। वहीं, उन्होंने शिक्षकों को सुझाव देते हुए कहा कि शिक्षकों का भी यह दायित्व है कि स्टूडेंट्स को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने के साथ ही उनके बेहतर प्लेसमेंट के बारे में प्रयास करें।

प्रैक्टिकल पर करें फोकस

आशीष पटेल ने कहां कि छात्रों को क्लासरूम की पढ़ाई से ज्यादा प्रैक्टिकल पर फोकस कराने की जरूरत है। इसके लिए छात्रों को विभिन्न संस्थानों, लैब, उद्योगों और कार्यस्थल का दौरा कराना चाहिए। जिससे कि छात्रों को पता चले कि वास्तव में फील्ड में किस तरह का कार्य होता है। इसका फायदा उन्हें आने वाले वक्त में मिलेगा।

क्वालिटी एजुकेशन पर है फोकस

कुलपति प्रो.प्रदीप कुमार मिश्र ने कहा कि विश्वविद्यालय प्राविधिक शिक्षा को नए आयाम और क्वालिटी एजुकेशन दे रहा है। उन्होंने कहां कि लैपटॉप मिलने से छात्रों की मेहनत का पता चलता हैं। विश्वविद्यालय से निकलने वाले छात्र अपनी मेधा और शिक्षा के बल पर आगे बढ़ रहे हैं। कहा कि कुछ चुनौतियां भी हैं। सबको साथ मिलकर कार्य करने से समाधान भी संभव है।

इस मौके पर प्रति कुलपति प्रो.मनीष गौड़, वित्त अधिकारी जीपी सिंह, प्रो.वंदना सहगल, प्रो. एमके दत्ता, उपकुलसचिव डॉ.आरके सिंह, प्रवक्ता पवन त्रिपाठी समेत तमाम लोग मौजूद रहे।

लैपटॉप मिलने से कोडिंग में रहेगी आसानी

IET लखनऊ के मैकेनिकल इंजीनियरिंग के स्टूडेंट निखिल कुमार ने बताया कि लैपटॉप मिलने से अच्छा लग रहा है। वैसे मैं मैकेनिकल इंजीनियरिंग से हूं मगर IT में जाना है। लैपटॉप मिल जाने से कोडिंग करने में आसानी होगी।

IET की सिविल इंजीनियरिंग स्टूडेंट मधुरिमा सिंह को भी मिला लैपटॉप
IET की सिविल इंजीनियरिंग स्टूडेंट मधुरिमा सिंह को भी मिला लैपटॉप

IET लखनऊ की बीटेक सिविल इंजीनियरिंग स्टूडेंट मधुरिमा सिंह ने बताया कि ऐसा लग रहा है कि मेरी मेहनत का फल मिला हो। इससे न केवल मुझे आगे और बेहतर करने की उर्जा मिलेगी बल्कि बाकी स्टूडेंट्स को भी मेहनत करने का मोटिवेशन मिलेगा।