• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Lucknow CM Meeting With Team 9 On Covid In Rural Areas, The Councilor Should Lead The Monitoring Committee In Urban Areas, Medicine Kit Should Be Provided At Home To The Patients Of Home Isolation.

सीएम योगी के निर्देश-लागू हो कन्टेनमेंट जोन की व्यवस्था:ग्रामीण क्षेत्रों में प्रधान व शहरी क्षेत्रों में पार्षद करे निगरानी समिति का अगुवाई, होम आइसोलशन के मरीजों को घर में मुहैया हो मेडिसिन किट

लखनऊ13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लखनऊ में टीम 9 की बैठक में सीएम योगी ने कोविड प्रबंधन पर अफसरों को जारी किए दिशा निर्देश - Dainik Bhaskar
लखनऊ में टीम 9 की बैठक में सीएम योगी ने कोविड प्रबंधन पर अफसरों को जारी किए दिशा निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम-9 के साथ बैठक में कोरोना के बढ़ते संक्रमण पर अंकुश लगाने के लिए वापस से कंटेनमेंट जोन की व्यवस्था लागू करने की बात कही। उन्होंने अफसरों को प्रदेश भर की निगरानी समितियों को सक्रिय करने के निर्देश देते हुए ग्रामीण क्षेत्रों में प्रधानों व शहरी क्षेत्र में पार्षद के निगरानी में टेस्टिंग, ट्रेसिंग व ट्रीटमेंट का सुझाव दिया। अफसरों से संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर सभी आवश्यक कदम उठाए जाने के साथ ही सीएम ने मास्क के प्रयोग, सोशल डिस्टेंसिंग, सैनिटाइजेशन पर फोकस करने पर जोर दिया।

सार्वजनिक स्थलों पर भीड़ लगाने से बचे -

मुख्यमंत्री ने कहा कि संक्रमण के मद्देनजर सार्वजनिक स्थलों पर भीड़ न लगायी जाए। जिन क्षेत्रों में संक्रमण तेजी से फैल रहा है वहां सैनिटाइजेशन और साफ-सफाई की पूरी व्यवस्था की जाए। सभी जनपदों में साफ-सफाई की प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। आवश्यकतानुसार सैनिटाइजेशन भी किया जाए। बदलती परिस्थितियों में व्यापक जनहित के दृष्टिगत स्वास्थ्य विशेषज्ञों के परामर्श के अनुसार नवीन कोविड गाइडलाइंस जारी की गई है, इनका कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाए।

कोविड कमांड सेंटर को करे सक्रिय -

सीएम योगी ने कहा कि निगरानी समितियां और इंटीग्रेटेड कोविड कमांड सेंटर्स को पूरी तरह सक्रिय किया जाए। निगरानी समितियां अपना कार्य प्रभावी ढंग से करें। गांवों में प्रधान के नेतृत्व में और शहरी वार्डों में पार्षद के नेतृत्व में निगरानी समितियां क्रियाशील रहें. निगरानी समितियां घर-घर संपर्क कर बिना टीकाकरण वाले लोगों की सूची जिला प्रशासन को उपलब्ध कराए, ताकि उन्हें वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित और प्रोत्साहित किया जा सके।

खबरें और भी हैं...