पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लखनऊ में भी डेंगू से कराह रहे मरीज:मंगलवार को 15 संदिग्ध मरीज मिलने से मचा हड़कंप,4 दिन से बुखार से पीड़ित 55 वर्षीय मरीज की हुई मौत

लखनऊ8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लखनऊ में भी डेंगू के मरीजों की संख्या में इजाफा देखा जा रहा है।मंगलवार को 15 मरीजों की डेंगू कार्ड टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद एलाइजा टेस्ट के लिए भी सभी के सैंपल भेजे गए है - प्रतीकात्मक चित्र - Dainik Bhaskar
लखनऊ में भी डेंगू के मरीजों की संख्या में इजाफा देखा जा रहा है।मंगलवार को 15 मरीजों की डेंगू कार्ड टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद एलाइजा टेस्ट के लिए भी सभी के सैंपल भेजे गए है - प्रतीकात्मक चित्र

डेंगू का कहर सिर्फ पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जिलों तक ही सीमित नही रह गया है,लखनऊ में भी यह महामारी पैर पसार चुकी है।मंगलवार को डेंगू के 15 संदिग्ध मरीज मिले।अस्पतालों में बड़ी तादाद में बुखार पीड़ित मरीज पहुंच रहे है।हालांकि जिला प्रशासन व स्वास्थ्य महकमा सभी व्यवस्था दुरुस्त रखने के दावे कर रहा है पर फिलहाल आकंड़े थमते नजर नही आ रहे।वही मंगलवार को चार दिनों से तेज बुखार से पीड़ित 55 वर्षीय बलरामपुर अस्पताल में भर्ती मरीज की मौत हो गई।हालांकि मृतक में डेंगू की पुष्टि अभी तक नही हुई है।

मंगलवार को मिले 15 डेंगू के संदिग्ध मरीज

सीएमओ लखनऊ डॉ मनोज अग्रवाल के मुताबिक मंगलवार को 15 मरीजों का कार्ड टेस्ट किया गया है।इनमें से एक मरीज गैर जनपद का रहने वाला है।जो अस्पताल में भर्ती होकर अपना इलाज कर रहा है। जबकि अन्य घर पर इलाज करवा रहे हैं।सीएमओ का कहना है कि सभी मरीज कार्ड टेस्ट में पॉजिटिव आए हैं। अब एलाइजा जांच के लिए इनका नमूना भेजा रहा है। लोकबंधु अस्पताल की ओपीडी में छह मरीज पॉजिटिव मिले हैं। ये घर पर इलाज करवा रहे हैं। वहीं बलरामपुर अस्पताल की ओपीडी में चार नए मरीज मिले हैं। जबकि कानपुर का रहने वाला एक अन्य मरीज अस्पताल के डेंगू वार्ड में भर्ती हैं।सिविल अस्पताल में डेंगू वार्ड में कोई नया मरीज मंगलवार को नही भर्ती हुआ। ओपीडी में आए 35 मरीजों की जांच हुई। इसमें पांच मरीजों का कार्ड टेस्ट पॉजिटिव आया है। सभी मरीजों का एलाइजा के लिए नमूना स्टेट लैब भेजा गया है।

बलरामपुर में भर्ती 55 वर्षीय की हुई मौत

कैसरबाग सब्जी मंडी के पास रहने वाले अधेड़ की मंगलवार दोपहर बुखार से मौत हो गई।परिजनों ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया था।उपचार शुरू होने के कुछ ही घंटें बाद मरीज ने दम तोड़ दिया।परिजनों का कहना है कि पहले निजी क्लीनिक से इलाज चल रहा था मगर कोई फायदा न हुआ।

जानकारी के मुताबिक कैसरबाग सब्जी मंडी नजरीबाद रोड का रहने वाला 55 वर्षीय हर्ष सोनकर पिछले चार दिन से तेज बुखार से ग्रस्त था।बेटे रोहित ने बताया कि के दो दिन पहले नजदीकी क्लीनिक से दवा दिलवाई मगर कोई फायदा न हुआ। बुखार संग दस्त भी आना शुरू हो गए। मंगलवार सुबह अचानक हालत बिगडने पर निजी साधन से बलरामपुर अस्पताल की इमरजेंसी पहुंचा।वहां पर डॉक्टर ने मरीज की हालत गंभीर देख आनन फानन में भर्ती कर लिया।मरीज को इमरजेंसी वार्ड में शिफ्ट किया गया।दोपहर करीब तीन बजे मरीज की मौत हो गई।

खबरें और भी हैं...