भारत की बात अमेरिका भी अब गंभीरता से सुनता है:लखनऊ में राजनाथ बोले- 10 सालों के अंदर भारत दुनिया तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनेगा

लखनऊएक महीने पहले

दो दिवसीय दौरे पर शनिवार को लखनऊ आए रक्षा मंत्री ने राजनाथ सिंह ने चिकनकारी एसोसिएशन के कार्यक्रम में भाग लिया। उन्होंने कहा,' PM मोदी के देश की कमान संभालने के बाद विदेशों में भारत की साख बढ़ गई है। पहले भारत की बात को गंभीरता से नहीं लिया जाता था। आज भारत की बात को अमेरिका जैसे देश भी बेहद गंभीरता से सुनता है। कोरोना और यूक्रेन-रशिया विवाद ना होता तो देश की अर्थव्यवस्था और अधिक मजबूत होती। हमारा लक्ष्य है कि 10 सालों के अंदर भारत दुनिया की टॉप-3 अर्थव्यवस्था बने '

आउटर रिंग रोड काम में धीमी पर जताई नाराजगी

रक्षामंत्री और लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह अपने ड्रीम प्रोजेक्ट लखनऊ आउटर रिंग रोड के निर्माण की धीमी रफ्तार से बहुत खफा हैं। 104 किलोमीटर का ये आउटर रिंग रोड अब तक केवल 65 किलोमीटर ही बन सका है। वो भी पूरी तरह से तैयार नहीं। 65 किलोमीटर पर काम चल रहा है। पूरा केवल 29 किलोमीटर ही बना हुआ है। राजनाथ सिंह ने कहा कि अबतक इस काम को पूरा हो जाना चाहिए था। लेकिन कुछ तकनीकी गड़बड़ियों की वजह से आउटर रिंग रोड अबतक पूरा नहीं हो सका है। उन्होंने इस संबंध में अपने प्रतिनिधि और सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी दिवाकर त्रिपाठी से पूछा कि कितना काम हो चुका है, तो दिवाकर त्रिपाठी ने जवाब दिया कि करीब 65 किलोमीटर आउटर रिंग रोड बन चुका है। इसके बाद में राजनाथ सिंह ने कहा कि उन्होंने कड़े शब्दों में अधिकारियों से ताकीद किया है। निर्माण को बहुत तेजी से करवाया जाए, ये तो अच्छी प्रगति नहीं है। इसमें और अधिक तेजी लाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सांसद बनने के बाद लगातार लखनऊ को विकास के पथ पर ले जाने के लिए अग्रसर है।

ट्रैफिक समस्या से राहत मिलेगी
राजनाथ सिंह ने कहा कि किसान पथ को समय से पूरा करने से ट्रैफिक समस्या से बहुत राहत मिलेगी। राजनाथ सिंह ने खुद किसान पथ की प्रगति पर असंतोष जताते हुए कहा कि मैंने अपने संसदीय क्षेत्र लखनऊ का विकास करने के लिए पूरी ईमानदारी से कोशिश की। हमारे ड्रीम प्रोजेक्ट किसान पथ का काम अब तक पूरा हो जाना चाहिए था। मैंने किसान पथ को समय से पूरा करने के लिए कड़ाई से कहा, लेकिन कांट्रैक्टर के पैसा ना लगा पाने के चलते समय से काम नहीं पूरा हुआ।

राजनाथ ने कहा कि इंडो चाइना स्टैंड ऑफ से भारत ने अपनी ताकत का विश्व को संदेश दिया।
राजनाथ ने कहा कि इंडो चाइना स्टैंड ऑफ से भारत ने अपनी ताकत का विश्व को संदेश दिया।

भारत अपनी ताकत का विश्व को संदेश देगा
राजनाथ ने कहा कि इंडो चाइना स्टैंड ऑफ से भारत ने अपनी ताकत का विश्व को संदेश देगा। भारत परिणामों की चिंता ना कर स्वाभिमान से समझौता नहीं करेगा। पहले हर एक सुरक्षा उपकरण विदेश से मंगाए जाते थे। हमने 309 रक्षा उपकरण भारत की धरती पर ही बनाने का फैसला किया है। रक्षा का 68% बजट सिर्फ घरेलू औद्योगिक इकाइयों पर ही खर्च होगा। रक्षा बजट का 68% में से 25% देश की प्राइवेट इंडस्ट्रीज पर खर्च किया जाएगा।नमस्ते लखनऊ विद राजनाथ सिंह के कार्यक्रम में पहुंचे कई इंटेलेक्चुअल लोगों का सम्मान किया गया। अपने संसदीय क्षेत्र के लोगों से राजनाथ सिंह ने सीधा संवाद किया। विकास के लिए सुझाव भी मांगे। उन्होंने राजधानी लखनऊ और देश में चल रहे विभिन्न कार्यक्रमों के बारे में भी जनता को बताया।

खबरें और भी हैं...