रेलवे का ट्रैफिक संचालन करने वाला बन गया शराब माफिया:लखनऊ एसटीएफ ने  किया गिरफ्तार, प्रयागराज जोन से था एक लाख का इनामी, प्रतापगढ़ में चला रहा था शराब का अवैध कारोबार

लखनऊ3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एक लाख का इनामी शराब माफिया सुधाकर। - Dainik Bhaskar
एक लाख का इनामी शराब माफिया सुधाकर।

लखनऊ एसटीएफ ने मंगलवार रात प्रयागराज जोन से एक लाख रुपये के इनामी शराब माफिया सुधाकर सिंह को गिरफ्तार कर लिया। सुधाकर सिंह प्रतापगढ़ में अंग्रेजी शराब की अवैध फैक्ट्री में पापुलर अंग्रेजी ब्रांड की शराब बनाकर आसपास के जिलों में सप्लाई कर रहा था। प्रतापगढ़ के पुरमई सुल्तानपुर निवासी सुधाकर को स्पोर्ट्स कोटे से रेलवे में ट्रैफिक असिस्टेंट की नौकरी मिली थी। एसटीएफ के डिप्टी एसपी प्रमेश कुमार शुक्ल ने बताया कि सुधाकर को लकनऊ महानगर थाना क्षेत्र स्थित आस्था हास्पिटल के सामने से गिरफ्तार किया गया। उसके खिलाफ 12 मुकदमें दर्ज हैं। सुधाकर प्रतापगढ़ कुंडा व हथिगवां में अवैध अंग्रेजी शराब की फैक्ट्री चला रहा था। जिसमें कई ब्रांड के अंग्रेजी शराब का निर्माण के साथ आसपास के जिलों में सप्लाई कर रहा था। पुलिस के प्रतापगढ़ अवैध फैक्ट्री पकड़ने के बाद से ही यह फरार चल रहा था। इसके चलते एडीजी जोन प्रयागराज प्रेम प्रकाश ने सुधाकर पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया था।

स्पोर्ट्स कोटे से रेलवे में पाई थी नौकरी, एनईआर लखनऊ में थी आजकल तैनाती
शराब माफिया सुधाकर सिंह ने एसटीएफ की पूछताछ में बताया कि वह स्पोर्ट्स कोटे में 2005 में रेलवे के ट्रैफिक असिस्टेंट के पद पर भर्ती हुआ था। आजकल एनईआर लखनऊ में तैनात है। कोई शक न करे इसके चलते रेलवे की नौकरी की आड़ में अवैध शराब का कारोबार चला रहा था। वहीं गिरफ्तारी से बचने के लिए रेलवे के अस्पताल सिविल लाइन प्रयागराज में सिक रेस्ट लेकर फरार चल रहा था।
छह सरकारी शराब ठेकों का है मालिक, यहां से करता था अवैध शराब का कारोबार
एसटीएफ टीम के मुताबिक सुधाकर के नाम से छह सरकारी शराब के ठेके हैं। जहां से अवैध शराब का कारोबार करता था। यह अपनी अवैध शराब फैक्ट्री में सरकारी दुकानों पर बिकने वाली शराब की तरह की बोतल तैयार करता था। जिससे किसी को असली व नकली का फर्क न पता चले। सुधाकर इस धंधे में कई सालों से था। सुधाकर के खिलाफ प्रतापगढ़ जिले के कुंडा, महेशगंज, मिल एरिया, हथिगवां, नवाबगंज थाने में 12 मुकदमें दर्ज है। जिसमें जालसाजी, कूटरचना, व्यापार चिन्ह प्रतीक अधिनियम, आबकारी एक्ट सहित कई धाराएं शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...