• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Mission Shakti Phase 3, CM Will Start 'Nirbhaya Ek Pahal' Program, 75 Thousand Women Of All 75 Districts Of Uttar Pradesh Will Be Made Aware

योगी सरकार का मिशन शक्ति फेज-3:सीएम योगी आदित्यनाथ ने की 'निर्भया-एक-पहल' की शुरुआत, अब UP के 75 जिलों की 75 हजार महिलाएं लेंगी प्रशिक्षण

लखनऊ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लखनऊ के लोकभवन सभागार में सीएम योगी ने किया कार्यक्रम का शुभारंभ। - Dainik Bhaskar
लखनऊ के लोकभवन सभागार में सीएम योगी ने किया कार्यक्रम का शुभारंभ।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को मिशन शक्ति फेज-3 के तहत 'निर्भया-एक पहल' कार्यक्रम का शुभारंभ किया। सीएम योगी ने लोकभवन में आयोजित कार्यक्रम में प्रतीकात्मक रूप से कुछ महिलाओं को प्रशिक्षण किट दिया। इसी के साथ प्रदेश के सभी जिलों में कुल 75000 महिलाओं को उद्यमिता की प्रशिक्षण किट भी दिया गया। इस मौके पर सीएम योगी 'एक जनपद, एक उत्पाद योजना' का विशेष डाक टिकट और लिफाफा का भी विमोचन किया।

इस मौके पर सीएम योगी ने कहा कि तीन दिन तक इन महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा, फिर अगले तीन माह में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के माध्यम से उन्हें बैंक और केंद्र व राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ दिलाकर उद्यम शुरू कराकर स्वावलंबी बनाया जाएगा। इस दौरान सभी 75 जिलों में एक जिला एक उत्पाद योजना के तहत चिन्हित उत्पादों पर आधारित डाक लिफाफों का अनावरण भी किया गया।

मिशन शक्ति को सरकार मिशन मोड में चला रही है
सीएम ने कहा कि सुरक्षा, सम्मान और स्वावलंबन एक दूसरे के साथ जुड़े हुए हैं। यदि सुरक्षा का माहौल है तो हर व्यक्ति सम्मान के साथ अपने जीवन को आगे बढ़ा सकता है। मिशन शक्ति का अभियान इसी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए प्रदेश सरकार ने पूरे राज्य में मिशन मोड में लिया है। जिस प्रकार से 'एक जिला एक उत्पाद' योजना पूरे देश में छा रही है, उसी प्रकार से मिशन शक्ति का यह अभियान भी पूरे देश में छा जाएगा।

पहले बेटियों को स्कूल भेजने में अभिभावकों को दिक्कत होती थी
मिशन शक्ति में अलग-अलग चरण में अलग-अलग कार्यक्रम चले। पहले चरण में सुरक्षा को आधार रखा गया। पहले अराजकता का माहौल था, बेटियों को स्कूल भेजने में अभिभावकों को दिक्कत थी। इसी क्रम में एंटी रोमियो स्क्वायड का गठन हुआ। इसी क्रम में आज हर जिले में हर थाने में महिला डेस्क की स्थापना की गई, तीसरे चरण में ग्रामीण स्तर पर इसका कार्य हुआ। महिला कांस्टेबल बीट को स्थापना की गई। हमने डेढ़ लाख पुलिस भर्ती में 20 प्रतिशत बेटियों की भर्तियां की गई। 30 हजार महिला कांस्टेबल की भर्ती की गई। उन्हें महिला बीट की जिम्मेदारी दी गई। मिशन शक्ति अभियान के तहत आपको यूपी के हर शहर में महिला पिंक बूथ दिखाई देगा। हर थाने में महिला डेस्क देखने को मिलेगी।

खबरें और भी हैं...