पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • MP's Son Married A Married Girl, If The Householders Did Not Agree, He Was Living Separately; The Plan Was To Trap Four People By Firing On Themselves

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सांसद पुत्र पर हमले का मामला:शादीशुदा लड़की से MP के बेटे ने की थी शादी, घरवाले सहमत न हुए तो रह रहा था अलग ;चार लोगों को फंसाने के लिए चलवाई खुद पर गोली

लखनऊ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मोहनलाल गंज से सांसद कौशल किशोर ने कहा है कि जांच के बाद पुलिस को उचित कार्रवाई करनी चाहिए। जो भी दोषी हो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाए। - Dainik Bhaskar
मोहनलाल गंज से सांसद कौशल किशोर ने कहा है कि जांच के बाद पुलिस को उचित कार्रवाई करनी चाहिए। जो भी दोषी हो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाए।
  • पुलिस के सामने आदर्श ने बताया कि आयुष ने कहा था कि तुम गोली चला देना बाकी मैं सब कुछ देख लूंगा

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से सटे मोहनलाल गंज से भाजपा सांसद कौशल किशोर के बेटे आयुष पर मंगलवार रात हमला किए जाने की सूचना मिली। हमले में आयुष गोली लगने से घायल हो गया। घटना के समय आयुष के साले आदर्श के मौजूद होने की वजह से पूरा मामला पुलिस को संदिग्ध लगने लगा। पुलिस की शुरुआती पड़ताल में यह बात सामने आई है कि सांसद पुत्र आयुष ने शादीशुदा लड़की से प्रेम विवाह किया घरवाले जब सहमत नहीं हुए तो वह अलग रहने लगा था।

सांसद पुत्र आयुष पर आख़िर हमला किसने किया और क्यों किया, जब इसकी जांच की गई तो यह बात सामने आई कि चार युवकों को फंसाने के लिए सांसद के पुत्र आयुष ने खुद पर साले से हमला करवाया था। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार चार युवकों से पैसे को लेकर कोई विवाद था।

करीब एक साल पहले किया था विवाह

कौशल किशोर सांसद के बेटे आयुष ने एक साल पहले विवाह किया था। पुलिस की जांच में भी यह बात सामने आई है कि, सांसद के बेटे आयुष ने प्रेम विवाह किया था जिसकी वजह से वह घर के अलग रहते थे, क्योंकि इस शादी से परिवार वाले सहमत नहीं थे इसलिए आयुष अपनी पत्नी के साथ घर से अलग रह रहा था।

सांसद बोले- हम चाहते हैं पुलिस जांच कर उचित कार्रवाई करे

सांसद कौशल किशोर ने कहा कि, मेरे से बेटे का कोई विवाद का मैटर नहीं है। उन्होंने अपनी मर्जी से शादी कर ली थी, वह लड़की पहले से शादीशुदा है और उनसे बड़ी भी है। उनको हम सबने मना किया तो बेटे आयुष ने कहा कि कहा कि आप नहीं मानेंगे तो हम सुसाइड कर लेंगे। तब हम लोगों ने कहा ठीक है। तुम अलग रहो। हम लोगों ने कोई भी मतलब बात नहीं हैं। हम लोगों का कोई पारिवारिक विवाद नहीं था। अगर उसने ऐसा किया है। खुद पर गोली क्यों चलवाई है, तो उसने ऐसा क्यों किया है। इसकी जांच की जानी चाहिए।

सांसद ने कहा कि, मेरी मुलाकात भी हॉस्पिटल में हुई थी। हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होने के बाद उसने बताया कि मैं घर जा रहा हूं लेकिन अभी घर नहीं पहुंचा है। कहां गया हैं अभी बताया भी नहीं। कौशल किशोर का कहना है कि, कोई भी निर्दोष नहीं फंसना चाहिए, एक बार पुलिस अपनी तरीके से जांच कर ले। फिर जो बातें सामने आएंगे उसके आधार पर तहरीर दी जाएगी।

कहा कि हम चाहते हैं कि कोई भी निर्दोष नहीं फंसे इसलिए तहरीर नहीं दी हैं। जैसे जांच हो जाएगी तहरीर दी जाएगी। पुलिस जांच करें जैसा चाहेगी वैसा जांच करेगी। सांसद ने कहा कि, मैंने अपने बेटे से हॉस्टल में पुलिस के सामने बात की, लेकिन उसने बताया किसने गोली चलाई मैं नहीं पहचानता हूं। अगर उसने ऐसा किया है, उसका साला आदर्श जो कह रहा वह सही है तब उसकी गलती है जो पुलिस उस पर उचित कार्यवाही करें।

पुलिस के सामने क्या बोला आयुष का साला आदर्श
मोहनलालगंज भाजपा सांसद कौशल किशोर की बेटे आयुष के साले आदर्श ने बताया कि, वह हमसे ऐसा बोले थे कि चार-पांच लोग हैं, जिनको फंसाना हैं। जिसमें चंदन गुप्ता, मनीष जायसवाल प्रदीप कुमार सिंह एक और कोई है उसका नाम याद नहीं हैं। उन्होंने कहा था कि, तुम गोली चला देना, आगे मैं सब समझ लूंगा।

कौन है ? सांसद कौशल किशोर
कौशल किशोर मोहनलालगंज लोकसभा से तीसरे बार 2019 में सांसद चुने गए। वह परख महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं, और पार्टी के पूर्व एससी विंग के राज्य अध्यक्ष हैं। वह पार्टी के प्रभावशाली नेता हैं और उन्हें सामाजिक न्याय के मुद्दों से संबंधित अपनी सक्रियता के लिए राष्ट्रव्यापी मान्यता प्राप्त है। सांसद कौशल किशोर की पत्नी जया देवी मलिहाबाद विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं। उनके चार पुत्र में मझले बेटे आकाश किशोर की किडनी फेल होने की वजह से मौत हो गई थी, एक पुत्री भी है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

और पढ़ें