लखनऊ में मां की हत्या, PUBG और गुमनाम किरदार:आरोपी बेटा बोला- घर पर एक व्यक्ति का आना पसंद नहीं था, विरोध पर भी मां नहीं मानी

लखनऊ6 महीने पहले

लखनऊ में एक महिला की हत्या हुई। हत्या का आरोप महिला के ही 16 साल के बेटे पर है। उसने तीन दिनों तक घर में 10 साल की बहन के साथ मां की लाश को रखा। हत्या की वजह मोबाइल गेम PUBG बताया जा रहा है। पुलिस का कहना है कि PUBG न खेलने देने से नाराज किशोर ने मां को 6 गोलियां दाग दीं। मर्डर के बाद पार्टी भी की।

हालांकि पुलिस पूछताछ में मर्डर की एक दूसरी वजह भी सामने आ रही है। आरोपी बेटे के मुताबिक हत्या के पीछे एक तीसरा आदमी है। पुलिस भले ही बेटे की सुनाई कहानी पर भरोसा न कर रही हो, लेकिन उस गुमनाम किरदार की तलाश जरूर कर रही है।

खबर में आगे बढ़ने से पहले इस पोल में हिस्सा ले सकते हैं।

बेटे ने पुलिस को बताया कि बिजली विभाग में तैनात आकाश नाम का व्यक्ति अक्सर उसके घर आता था। वह घर पर रुकता और एक-दो दिन बिताने के बाद जाता था। घर पर इस तरह उसका आना बेटे को पसंद नहीं था। तमाम विरोध के बाद भी मां ने उससे मिलना बंद नहीं किया। उल्टा उसे ही सताने लगी।

मृतका के पति सेना में पोस्टेड हैं। वह (हाफ पैंट पहने) लखनऊ पहुंच चुके हैं।
मृतका के पति सेना में पोस्टेड हैं। वह (हाफ पैंट पहने) लखनऊ पहुंच चुके हैं।

किसी न किसी बात का बहाना लेकर मारती-पीटती थी। बर्दाश्त की सीमा पार हुई तो उसने मां की हत्या कर दी। पुलिस अब आकाश नाम के शख्स का पता लगा रही है। पुलिस अफसरों का कहना है कि आरोपी बेटा बार-बार आकाश के नाम पर ही जोर दे रहा है। इसलिए इसे वेरिफाई करना जरूरी है।

पूरी खबर यहां पढ़ें: UP में PUBG के लिए मां की हत्या:मर्डर के बाद बेटे ने की अंडा-करी की पार्टी, लाश की बदबू छिपाने को डाला रूम-फ्रेशनर

पोस्टमॉर्टम हाउस के बाहर मृतका के परिजन और रिश्तेदार मौजूद हैं।
पोस्टमॉर्टम हाउस के बाहर मृतका के परिजन और रिश्तेदार मौजूद हैं।

पिता फौज में अफसर हैं, प. बंगाल में तैनात हैं
मूल रूप से वाराणसी के रहने वाले नवीन कुमार सिंह सेना में जूनियर कमीशन्ड ऑफिसर हैं। उनकी पोस्टिंग पश्चिम बंगाल में है। लखनऊ के पीजीआई इलाके की यमुनापुरम कॉलोनी में उनका मकान है। यहां उनकी पत्नी साधना (40 साल) अपने 16 साल के बेटे और 10 साल की बेटी के साथ रहती थी।

बेटे ने मंगलवार रात अपने पिता नवीन को वीडियो कॉल करके बताया कि उसने मां की हत्या कर दी है। उसने पिता को शव भी दिखाया। नवीन ने एक रिश्तेदार को फोन करके तुरंत अपने घर भेजा। पुलिस पहुंची तो घर के अंदर के हालात देखकर दंग रह गई।

यह साधना की फाइल फोटो है। वह अपने 16 साल के बेटे और 10 साल की बेटी के साथ रहती थी। पति की बंगाल में पोस्टिंग है।
यह साधना की फाइल फोटो है। वह अपने 16 साल के बेटे और 10 साल की बेटी के साथ रहती थी। पति की बंगाल में पोस्टिंग है।

लाश की बदबू न आए, इसलिए रूम-फ्रेशनर डाला
इस मामले में जो शुरुआती बात सामने आई है उसमें PUBG न खेलने देने से नाराज बेटे ने मां की गोली मारकर हत्या की है। तीन दिनों तक उसने घर में ही मां की लाश को छुपाए रखा। हत्या के बाद उसी रात को बेटे ने 10 साल की बहन के साथ घर में रात गुजारी। दूसरे दिन, यानी रविवार को बहन को घर में बंद कर दोस्त के घर गया। रात में दोस्त को साथ लेकर आया और ऑनलाइन ऑर्डर करके खाना मंगवाया। खाना खाने के बाद लैपटॉप पर मूवी देखी।

स्लाइड भी जांच के लिए भेजी जाएगी
उधर, शव के पोस्टमॉर्टम के लिए तीन डॉक्टरों का पैनल बनाया गया है। इसमे दो पुरुष, एक महिला डॉक्टर हैं। गोली शरीर मे कहां लगी और उससे कितनी हड्डियां टूटी हैं। इसका पता लगाने के लिए पहले शव का पहले एक्सरे कराया गया है। एक्सरे की परमिशन CMO से मिल चुकी है।

शव का हुलिया देखकर डॉक्टरों ने काफी देर तक आपस मे राय मशविरा किया। इसके बाद तय हुआ कि स्लाइड भी जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजी जाएगी। आमतौर पर यह टेस्ट रेप के मामले में कराया जाता है। परिजनों का कहना है कि शव इतना सड़ चुका है कि पैतृक निवास बनारस ले जाना मुश्किल है। इसलिए दाह संस्कार लखनऊ में ही बैकुंठधाम में करेंगे।

खबरें और भी हैं...