• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Nagar Nigam Issued Helpline Mayor Issued Helpline Number On The 5th Day After The Accident, You Can Complain About Contaminated Water By Calling 6390260100

बालू अड्डा दूषित पेयजल मामला:हादसे के 5वें दिन मेयर ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर, बोली 6390260100 पर कॉल करके दूषित जल की कर सकते है शिकायत

लखनऊ9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लखनऊ मेयर ने जारी किया हेल्प लाइन नंबर 6390260100, दूषित जल की शिकायत पर करे फोन - Dainik Bhaskar
लखनऊ मेयर ने जारी किया हेल्प लाइन नंबर 6390260100, दूषित जल की शिकायत पर करे फोन

लखनऊ में दूषित पेयजल के मामले में चौतरफा घिरने के बाद नगर निगम ने शुक्रवार को ऐसे मामलों की शिकायत के लिए हेल्प लाइन नंबर जारी किया।नगर निगम मुख्यालय में विभागीय व जलकल के अधिकारियों की बैठक के दौरान सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त करने पर जोर दिया गया।बैठक के बाद महापौर संयुक्ता भाटिया ने हेल्प लाइन नंबर जारी करके दूषित पेयजल से जुड़े मसलों पर तत्काल कारवाई की बात कही।

पूरे शहर में होगी पीने के पानी की जांच

महापौर संयुक्ता भाटिया ने महाप्रबंधक जलकल को शहर भर के सभी पेयजल स्थलों की जांच कर रिपोर्ट उनके कैम्प आफिस भेजने के लिए निर्देशित किया। साथ ही दूषित पानी की रिपोर्ट आने पर तत्काल टैंकरों के माध्यम से शुद्ध पेयजल आपूर्ति के लिए भी कहा। महापौर ने कहा कि नगर निगम के पास पर्याप्त मात्रा में पेयजल के लिए टैंकर उपलब्ध है जिसे उपयोग में लाकर शहरवासियों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जाए। साथ ही समस्या का निस्तारण तत्पर्यता से किया जाए।

सीवर सफाई और पीने के पानी की समस्या आने पर स्वेज कंपनी और जलकल विभाग की बनाई जाएगी समिति

सीवर सफाई हेतु शहर में देख रही प्राइवेट कंपनी स्वेज इंडिया और जलकल में समन्वय की कमी को दूर करने के लिए जलकल और स्वेज के अधिकारियों की समिति बनाए जाने के निर्देश महापौर संयुक्ता भाटिया द्वारा दिये गए।कई जगह पर समन्वय की कमी से कार्यों में दिक्कत आयी थी।

नालो और नालियों से गुजर रही पानी के पाइपलाइनों को बदलने के निर्देश

नगर अभियंता जैदी ने महापौर को बताया कि कई ऐसे स्थान है जहां नालो और नालियों के बीच मे पेयजल की पाइपलाइने गुजर रही है।जिससे पेयजल में संक्रमण का खतरा लगातार बना रहता है, इसके साथ ही कई वर्षों पुरानी पड़ी हुई पाइपलाइनों की लाईफ लाइन भी समाप्त हो रही है जिसपर महापौर ने ऐसे सभी पाइपलाइनों की जांच कर उन्हें रेड, येलो और ग्रीन कैटेगरी में विभाजित कर रेड कैटेगरी की पाइपलाइनों को चरणबद्ध तरीके से बदलने का निर्देश दिए।साथ ही नालो और नालियों से गुजर रही पीने के पाइपलाइनों को भी हटाने के निर्देश दिए।

गंदे पानी की शिकायत पर बनाये कंट्रोल रूम,रिपेयर कराएं टूटी पाईपलाइन, महापौर में दिये फीडबैक सिस्टम को दुरुस्त करने के निर्देश

महापौर संयुक्ता भाटिया ने महाप्रबंधक जलकल को निर्देशित किया कि शहर में आ रही दूषित पानी को शिकायत के लिए अलग से एक फोन नंबर जारी कर कंट्रोल रूम बनाये जिसमे आयी हुई शिकायतो का फीडबैक स्वयं ले।साथ ही शहर भर में लीक हो रही पेयजल की पाइपलाइनों के लिए हर जोन में एक अलग से गैंग बनाकर उन्हें समान उपलब्ध कराए। जिससे कि पाइपलाइनों के टूटने और लीकेज की शिकायत तत्काल ठीक कराई जा के। टूटी पाइपलाइनों की शिकायत 24 घण्टे के अन्दर निस्तारित होनी चाहिए।प्रतिदिन शिकायतो का फीडबैक स्वयं आपके द्वारा लिया जाएगा। जिसकी रिपोर्ट प्रतिदिन भेजी जाए।महापौर के निर्देश पर महाप्रबंधक जलकल द्वारा बताया गया कि कही भी दूषित पानी की समस्या आये तो 6390260100 पर तुरंत शिकायत दर्ज कराए।

साफ की जाएंगी सभी सबमर्सिबल और पानी की टंकी

गंदगी को ही इन रोगों का पर्याय बताते हुए महापौर ने मुख्य अभियंता नगर निगम और महाप्रबंधक जलकल को शहर में लगी सभी पानी की टंकियों की सफाई और समरसेविल की टंकियों की सफाई तत्काल कराने के लिए निर्देशित किया। महापौर ने बताया की शहर अधिकांश जनता इन्ही टंकियों से पानी पीती है। जिसे साफ करना जरूरी है। इनकी सफाई कराते समय पानी का टैंकर जनता को उपलब्ध कराया जाए, जिससे पीने के पानी की समस्या का सामना जनता को न करने पड़ा। पानी की टंकियों में पानी को शुद्ध करने के लिए जो भी आवश्यक दवाई हो वह डाली जाए।

जोनल अधिकारियों को निर्देश, 2 घंटे से ज्यादा कूडाघरो में न रहे कूडा, कूडा उठाने के बाद डाले चूना

शहर भर में खुले पड़े कूडाघरो में 2 घंटे के अंदर कूडा उठवाने के लिए महापौर में समस्त जोनल अधिकारियों को निर्देशित किया। महापौर ने कहा कि कूडाघरो में कूड़ा उठाने के बाद चूना और ब्लीचिंग पाउडर के छिड़काव किया जाए। महापौर ने कहा कि समस्त नालियों में सड़कों पर भी एक बार चुना और ब्लीचिंग का छिड़काव किया जाए, जिससे जनता को डायरियों और अन्य रोगों से बचाव किया जा सके।

नगर स्वास्थ्य अधिकारियो को हॉट स्थानों को चिन्हित कर केमिकल छिड़काव के निर्देश

महापौर संयुक्ता भाटिया ने नगर स्वास्थ्य अधिकारी को ऐसे गंभीर स्थल जहाँ विगत वर्षों में डायरिया और अन्य बीमारी ज्यादा फैलती है वहाँ स्थानों का चयन कर अभियान चलाकर केमिकल आदि का छिड़काव कराया जाए, जिससे जनता को बीमारियों से बचाया जा सके। समस्त शहर में प्रतिदिन फोगिंग आदि कराया जाए। विगत वर्ष फैजुल्लागंज और खदरा में बीमारी फैली थी। महापौर ने आगे कहा कि बालू अड्डे में जिसकी भी लापरवाही रही है, उनकी जांच जल्दी पूरी कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें, जिससे आगे की कर्यवाही की जा सके। इस तरह की लापरवाही पर जिम्मेदारी तय की जाएगी और दोषियों के विरुद्ध कार्यवाही भी की जाएगी। ऐसे कृत्यों पर लीपापोती बिल्कुल न की जाए। इसकी पुनरावित्ति शहर में न हो, इसके लिए उचित व्यवस्था बनाए। जनता को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराना हम सबका दायित्व है।

खबरें और भी हैं...