NCRB की रिपोर्ट... UP में हर दिन 10 हत्याएं:देश में 2020 में सबसे ज्यादा हत्या-अपहरण यूपी में हुए; मर्डर की 3,779 FIR और महिला अपराधों से जुड़े 49,385 मामले दर्ज हुए

लखनऊ8 महीने पहलेलेखक: अनुज शुक्ला

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) के आंकड़ों के हिसाब से 2020 में भारत में 29,193 मर्डर हुए हैं। देश में सबसे ज्यादा मर्डर की FIR (3,779) यूपी में दर्ज हुईं। यहां हर दिन औसत 10 से ज्यादा हत्या के मुकदमे दर्ज हुए हैं। यानी हर 2.20 घंटे में यहां हत्या की वारदात हुई है। हालांकि ये आंकड़ा 2019 की रिपोर्ट के मुकाबले थोड़ा कम है। 2019 में यूपी में कुल 3806 हत्या की वारदातें दर्ज हुई थीं।

एनसीआरबी की रिपोर्ट के अनुसार, हत्या के मामले में दूसरे नंबर पर बिहार रहा। यहां हत्या की 3150 FIR हुई। तीसरे नंबर पर महाराष्ट्र में 2163 FIR दर्ज हुईं। हालांकि इन राज्यों में पिछले साल (2019) की तुलना में हत्या के केस कम हुए हैं। भारत में 2019 की तुलना (28915 हत्या) में 2020 में हत्या के मामलों में एक प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है।

महिला अपराधों में भी नंबर 1 का तमगा बरकरार
महिलाओं संबंधी अपराधों में भी यूपी सबसे आगे है। 2020 में यूपी में सबसे ज्यादा 49,385 मामले दर्ज हुए। जो 2019 से 10,468 कम हैं। 2019 में महिला संबंधी 59,853 अपराध दर्ज हुए थे। यूपी में अपहरण के भी सबसे ज्यादा 12,913 अपहरण के मामले दर्ज हुए। महिला अपराधों की बात करें तो यहां रोजाना 135 महिला अपराध दर्ज हुए हैं। ऐसे ही रोजाना 35 से ज्यादा अपहरण के मामले दर्ज हुए हैं।

छत्तीसगढ़, हिमाचल और पंजाब में बढ़ी हत्या की वारदात
एनसीआरबी के आंकड़ों के मुताबिक, छत्तीसगढ़, हिमाचल और पंजाब में हत्या की घटनाएं बढ़ी हैं। पंजाब में 2019 में 679 हुई थी। वहीं, 2020 में 757 हत्या के मामले दर्ज हुए। इसी तरह छत्तीसगढ़ में 2019 में 913 और 2020 में 972 हत्या की FIR दर्ज हुईं। ऐसे ही हिमाचल में 2019 में 70 हत्याएं हुई थी। वहीं 2020 में ये आंकड़ा 91 पहुंच गया।

महिला संबंधी 3.71 लाख शिकायतें हुईं दर्ज
भारत में महिला संबंधी अपराध में 2019 की तुलना में 2020 में गिरावट आई है। 2020 में 3,71,503 महिला अपराध के मुकदमे दर्ज हुए हैं। जबकि 2019 में यह आंकड़ा 4,05,326 था। एनसीआरबी के आंकड़ों के मुताबिक 2020 में यूपी में सबसे ज्यादा 49,385 मामले दर्ज हुए, जो 2019 से 10,468 कम (59,853 मामले) हैं। दूसरे नंबर पर राजस्थान में 34,535 मामलों में FIR दर्ज हुई। तीसरे नंबर पर महाराष्ट्र में 31,954, चौथे नंबर पर असम में 26,352 और मध्यप्रदेश में 25,640 महिला संबंधित अपराध की शिकायतें दर्ज हुईं।

भारत में अपहरण के मामले हुए कम
भारत में अपहरण के मामले 2019 की तुलना में 2020 में कमी आई है। एनसीआरबी के आंकड़ों के अनुसार 2019 में अपहरण के 1,05,036 मामले दर्ज हुए थे। जबकि 2020 में अपहरण के कुल 84,805 मामले ही दर्ज हुए। यूपी में सबसे ज्यादा 12,913 अपहरण के मामले दर्ज हुए।

जबकि दूसरे नंबर पर वेस्ट बंगाल में 9309, तीसरे नंबर पर महाराष्ट्र में 8103 और चौथे नंबर पर बिहार में 7889 अपहरण की FIR दर्ज हुईं। यूपी में 2019 में 16,590 अपहरण हुए थे। जबकि वेस्ट बंगाल में 5190, बिहार में 10,707, महाराष्ट्र में 11,755 मामले दर्ज हुए थे।

खबरें और भी हैं...