माल भाड़े से रेलवे को फायदा:पूर्वोत्तर रेलवे ने पिछले साल की तुलना में 112.70 फीसदी अधिक माल का लदान किया, नई तकनीकी से लगातार बढ़ रही आमदनी

लखनऊ6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नई तकनीकी से लगातार बढ़ रही रेल� - Dainik Bhaskar
नई तकनीकी से लगातार बढ़ रही रेल�

पूर्वोत्तर रेलवे वित्तीय वर्ष 2019-20 की तुलना में जुलाई महीने तक इस बार 112.70 फीसदी अधिक माल का लदान करके आमदनी में इजाफा किया है। पूर्वोत्तर रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह ने बताया कि यह उपलब्धि विभिन्न स्तरों पर बिजनेस डेबलपमेंट यूनिटों द्वारा की जा रही बेहतर विपणन नीति, माल लदान के लिए मुहैया कराए जा रहे उन्नत सुविधाओं की उपलब्धता और माल गाड़ियों की स्पीड बढ़ाने का नतीजा है।

पंकज कुमार सिंह ने बताया कि पूर्वोत्तर रेलवे में माह जुलाई, 2021 में 0.2956 मिलियन टन माल लदान किया गया जो पिछले वर्ष माह जुलाई, 2020 में हुए माल लदान 0.1654 मिलियन टन की तुलना में 78.71 फीसदी अधिक है। इसी तरह माह जुलाई, 2021 के लिए निर्धारित लक्ष्य 0.2700 मिलियन टन के सापेक्ष 9.48 प्रतिशत अधिक माल लदान हुआ है। वर्तमान वित्त वर्ष माह में जुलाई तक कुल 1.1901 मिलियन टन माल लदान हुआ जो पिछले वित्तीय वर्ष में माह जुलाई तक हुए 0.5595 मिलियन टन की तुलना में 112.70 प्रतिशत अधिक है। वर्तमान वित्त वर्ष में माह जुलाई तक निर्धारित लक्ष्य 1.1800 मिलियन टन की तुलना में पूर्वोत्तर रेलवे पर 0.86 प्रतिशत अधिक माल लदान करने में सफलता प्राप्त हुई है।

लोकमान्य तिलक स्पेशल को मिलेगा एक और ठहराव

रेलवे प्रशासन ने यात्रियों की सुविधा के लिए 02538/02537 लोकमान्य तिलक टर्मिनस-गोरखपुर-लोकमान्य तिलक टर्मिनस स्पेशल गाड़ी को 1 से 31 अगस्त तक नेपानगर स्टेशन पर रोकने का फैसला लिया है। फिलहाल प्रयोग के तौर पर यहाँ 1 मिनट के लिए ट्रेन को रोका जाएगा। जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह ने बताया कि लोकमान्य तिलक टर्मिनस से छूटने वाली 02538 लोकमान्य तिलक टर्मिनस-गोरखपुर गाड़ी नेपानगर 09.19 बजे पहुँचकर 09.20 बजे छूटेगी। इसी तरह गोरखपुर से छूटने वाली 02537 गोरखपुर-लोकमान्य तिलक टर्मिनस गाड़ी नेपानगर 15.14 बजे पहुँचकर 15.15 बजे छूटेगी।