4500 गाड़ियों से 32 हजार पुलिसवाले लगाते रहे दौड़:दीपावली पर 41380 लोगों ने यूपी-112 पर कॉल कर मांगी पुलिस की मदद

लखनऊ22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

यूपी-112 पर रोजाना आने वाली औसतन 1700 कॉल दीपावली पर बढ़कर 41380 तक पहुँच गयी। इतने लोगों ने पुलिस से मदद मांगी। इसमे पटाखों से या दुर्घटनाओं में घायलों के बाद सबसे ज्यादा संख्या मारपीट सम्बंधित मामलों की है।

एडीजी अशोक कुमार ने बताया कि त्यौहार की खुशियां फीकी न पड़े इसके लिए दीपावली पर यूपी-112 के 32 हजार पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया था। पुलिस के यह जवान 4500 गाड़ियों से छोटी और बड़ी दीवाली पर 24 घंटे दौड़ लगाते रहे। इन्हें सूचना मिलते ही कम से कम समय मे पीड़ित तक पहुँचने का टास्क दिया गया था।

सबसे ज्यादा लोगों ने ली पुलिस की मदद

एडीजी ने बताया कि दीपावली और उसके एक दिन पहले छोटी दीपावली को सबसे अधिक सहायता पुलिस से सम्बंधित मामलों में लोगों ने ली। दीपावली के दिन करीब 23475 हज़ार नागरिकों ने और छोटी दीपावली (3 नवम्बर) को 17905 नागरिकों ने पुलिस से सम्बंधित मामलों में यूपी-112 की मदद ली। दो दिनों में कुल 41380 नागरिकों ने पुलिस सम्बंधित मामलों में 112 से मदद ली। 5151 लोगों ने मेडिकल और फायर के मामलों में ली मददत्यौहार के मौके पर प्रदेश के लोगों ने सिर्फ पुलिस सम्बन्धी मामलों के लिए ही यूपी-112 पर कॉल नहीं किया बल्कि मेडिकल और फायर से सम्बंधित सहायता के लिए भी कॉल किया। दीपावली के दिन 4748 लोगों ने मेडिकल सम्बन्धी सहायता के लिए और 403 नागरिकों ने आग लगने की स्थिति में फ़ायर ब्रिगेड के लिए यूपी-112 को कॉल कर सहायता ली। इसके अलावा लखनऊ सहित प्रदेश के कई ज़िलों में यूपी-112 की पुलिस ने अनाथ बच्चों के साथ त्योहार की ख़ुशियों को साझा किया।

खबरें और भी हैं...