• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Encounter In Lucknow Latest Updates। On Seeing The Police, They Started Firing, Two Miscreants Were Shot, The Third Was Caught Running, A Soldier Was Also Injured

बांग्लादेशी डकैतों से पुलिस की मुठभेड़:लखनऊ में पुलिस पर ताबड़तोड़ फायर, जवाब में दो बदमाशों को लगी गोली, तीसरे को दौड़ाकर पकड़ा, एक सिपाही भी जख्मी

लखनऊ10 महीने पहले

राजधानी लखनऊ पुलिस के हाथ रविवार रात बड़ी सफलता हाथ लगी है। चिनहट थाना क्षेत्र में रविवार रात पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई। दोनों तरफ से हुई फायरिंग में दो बदमाश पुलिस की गोली से घायल हो गए, जबकि उनके एक साथी को दौड़ाकर पकड़ लिया गया। हालांकि 5-6 बदमाश भागने में कामयाब हो गए। पुलिस के मुताबिक यह बांग्लादेशी डकैतों का गिरोह है।

फायरिंग में एक सिपाही के हाथ में गोली लगी है। सिपाही और दोनों डकैतों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। पुलिस के मुताबिक यह गैंग बांग्लादेश से आता था और डकैती की वारदात को अंजाम देकर फिर वापस लौट जाता था।

पुलिस की गोली से घायल बांग्लादेशी डकैत।
पुलिस की गोली से घायल बांग्लादेशी डकैत।

DCP पूर्वी संजीव सुमन ने बताया कि बाराबंकी सीमा से सटे चिनहट के मल्हौर में बदमाशों को डकैती की योजना बनाकर आने की सूचना मिली थी। रात करीब एक बजे पुलिस टीम मल्हौर पहुंची तो पैदल आते हुए 8-10 बदमाश नजर आए। पुलिस को देखते ही बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी। इस पर पुलिस टीम ने जवाबी फायर किया। इसमें दो बदमाशों के पैर में गोली लगी। इसी बीच बाकी बदमाश भागने लगे, जिसमें से एक को टीम ने दौड़ाकर दबोच लिया।

हमले में सिपाही रिंकू के हाथ मे गोली लग गई। हालांकि उनकी स्थिति खतरे से बाहर है। DCP ने बताया कि घायल बदमाशों के नाम रुबईल और अलमिन है। उनका पकड़ा गया साथी रुबेल है। सभी बांग्लादेश के रहने वाले हैं।

गोमतीनगर में डकैती का कर चुके थे प्रयास

एनकाउंटर करने वाली पुलिस टीम।
एनकाउंटर करने वाली पुलिस टीम।

DCP ने बताया कि इसी गिरोह के बदमाशों ने 8 अक्टूबर को गोमतीनगर में डकैती का प्रयास किया था। हथियारबंद करीब 8 बदमाश एक मकान में घुसे थे। इसकी सूचना पुलिस को मिली तो तत्काल फोर्स मौके पर पहुंच गई। हालांकि, पुलिस की आहट पाकर बदमाश बिना वारदात को अंजाम दिए भाग निकले थे। तभी से पुलिस इन पर निगाह रख रही थी। उन्होंने बताया कि बदमाशों के ठिकाने का पता लगाया जा रहा है। जल्द ही पूरा गिरोह पकड़ लिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...