भाजपा ने तय किए 172 उम्मीदवारों के नाम:फोन करके मंत्रियों-विधायकों को दी टिकट तय होने की जानकारी, आज या कल जारी हो सकती है लिस्ट

लखनऊ13 दिन पहलेलेखक: विनोद मिश्र

यूपी विधानसभा चुनाव में प्रत्याशियों के नामों पर भाजपा में गुरुवार को दिल्ली में तीसरे दिन भी चर्चा हुई। इसमें 172 सीटों को लेकर मंथन किया गया। बैठक के बाद उप-मुख्यमंत्री केशव मौर्य ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में बहुत सार्थक चर्चा हुई।

इस बैठक में कम से कम 172 भाजपा उम्मीदवारों के नामों को अंतिम रूप दिया जा चुका है। केंद्रीय चुनाव समिति द्वारा इन नामों पर मुहर लगाई जानी है। ऐसी खबरें हैं कि केंद्रीय नेतृत्व अपने ज्यादातर विधायकों का टिकट काटने के मूड में नहीं है, लेकिन पार्टी ऐसी लगभग 60 सीटों पर उम्मीदवार बदल सकती है जहां वह पिछली बार चुनाव हार गई थी। इसके अलावा कुछ मंत्रियों की सीटें भी बदली जा सकती हैं।

भाजपा के कुछ प्रत्याशियों के नाम चर्चाओं में
दिल्ली में हुई भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक के बाद कुछ नामों की चर्चा है। दावा किया जा है कि पार्टी ने इनके नाम तय कर दिए हैं। हालांकि, आधिकारिक घोषणा आज या कल यानी 14 या 15 जनवरी को हो सकती है। भास्कर के पास भी सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पश्चिमी यूपी के कुछ मौजूदा विधायक और मंत्रियों की सीट तय कर उन्हें जानकारी दे दी गई है।

पांच मौजूदा मंत्रियों के टिकट तय
1. मथुरा- श्रीकांत शर्मा
2. मुजफ्फरनगर- कपिल देव अग्रवाल
3. गाजियाबाद- अतुल गर्ग,
4. आगरा कैंट- जीएस धर्मेश
5. थाना भवन- सुरेश राणा

7 मौजूदा विधायकों पर दोबारा दांव लगाने की तैयारी

1. आगरा दक्षिण- योगेंद्र उपाध्याय
2. लोनी- नन्दकिशोर गुर्जर
3. सरधना- संगीत सोम
4. अतरौली- संदीप सिंह
5. कोल (अलीगढ़)- अनिल पाराशर
6. खैर- अनूप प्रधान बाल्मीकि
7. नोएडा- पंकज सिंह
8. शामली- तेजेंद्र सिंह नरवाल

दुसरे दलों के नेताओं पर भी दांव लगाएगी भाजपा

वार्ता करते हुए योगी और अमित शाह-फाइल फोटो
वार्ता करते हुए योगी और अमित शाह-फाइल फोटो

आगरा की एत्मादपुर सीट से पार्टी धर्मपाल सिंह को अपना उम्मीदवार बना सकती है। डॉ. धर्मपाल सिंह एत्मादपुर से बसपा के विधायक रह चुके हैं। वह सपा के प्रत्याशी के तौर पर सक्रिय थे, लेकिन कुछ दिनों पहले ही उन्होंने भाजपा का दामन थाम लिया। भाजपा सूत्रों के मुताबिक पार्टी के आंतरिक सर्वे और आईबी की रिपोर्ट में एत्मादपुर सीट से वर्तमान विधायक रामप्रताप सिंह के खिलाफ जनता में आक्रोश बताया गया।

पार्टी यहां नए चेहरे की तलाश में थी। माना जा रहा है कि भाजपा डॉ. धर्मपाल सिंह को प्रत्याशी बना सकती है। इसके साथ ही आगरा की खैरागढ़ विधानसभा सीट से दो बार बहुजन समाज पार्टी से विधायक रहे भगवान सिंह कुशवाह को भी पार्टी का टिकट तय माना जा रहा है । कुछ दिनों पहले ही उन्होंने भाजपा ज्वाइन की है।

कार्यकर्ताओं को भी पार्टी दे रही है चुनाव लड़ने का मौका
ओबीसी मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष नरेंद्र कश्यप को चरथावल से टिकट फाइनल माना जा रहा है। इसके साथ ही गोवर्धन से पार्टी के पुराने कार्यकर्ता और चेयरमैन जिला सहकारी बैंक मथुरा को गोवर्धन विधानसभा क्षेत्र से टिकट पक्का माना जा रहा है। इसके साथ ही कैराना सेमृगांका सिंह, बुढ़ाना से उमेश मलिक, हस्तिनापुर से दिनेश खटीक, फतेहपुर सीकरी से पूर्व सांसद चौधरी बाबूलाल और मेरठ दक्षिण से सोमेंद्र तोमर का टिकट भी तय बजाया ला रहा है।

योगी आदित्यनाथ को अयोध्या से चुनाव लड़ाने पर हुई चर्चा
खबर है कि अमित शाह की अध्यक्षता में हुई बीजेपी कोर ग्रुप नेताओं की बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अयोध्या से विधानसभा चुनाव लड़वाने पर भी चर्चा हुई। हालांकि, इस संबंध में अंतिम फैसला केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में ही लिया जाएगा। इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद रहेंगे।

दरअसल, पार्टी ने एक खास रणनीति के तहत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, दोनों उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा सहित योगी सरकार के कई ऐसे बड़े मंत्रियों को विधानसभा चुनाव में उतारने का फैसला किया है, जो वर्तमान में विधान परिषद के सदस्य हैं।

खबरें और भी हैं...